×

मोदी ने बनाया रिकॉर्ड: हारे नहीं डटे रहे प्रधानमंत्री, इतिहास के पन्नों में दर्ज हुआ ये दिन

देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अयोध्या रामजन्मभूमि में पूजन और शिलान्यास कर चुके हैं। पीएम मोदी ने राम मंदिर की आधारशिला रख दी है। इसके बाद मोदी जी ने शिला रखकर वहां पर भूमि पर प्रणाम किया।

Newstrack
Updated on: 5 Aug 2020 7:56 AM GMT
मोदी ने बनाया रिकॉर्ड: हारे नहीं डटे रहे प्रधानमंत्री, इतिहास के पन्नों में दर्ज हुआ ये दिन
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

लखनऊ। देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अयोध्या रामजन्मभूमि में पूजन और शिलान्यास कर चुके हैं। पीएम मोदी ने राम मंदिर की आधारशिला रख दी है। इसके बाद मोदी जी ने शिला रखकर वहां पर भूमि पर प्रणाम किया। सालों से विवादों से घिरे राम मंदिर की आज नीवं रख दी गई है। लोगों में खुशियों का सैलाब उमड़ पड़ा है। अयोध्या में अब पीएम मोदी देश को संबोधित करेंगें।

ये भी पढ़ें... भूकंप से हिली धरती: ताबड़तोड़ झटकों से कांप उठे लोग, मची अफरा-तफरी

मोदी हारे नहीं डटे रहे

बता दें, पीएम मोदी इससे पहले भी दो बार अयोध्या का दौरा कर चुके हैं। पहली बार पीएम नरेंद्र मोदी सन् 1992 में अयोध्या आए थे। इसके बाद 2019 के लोकसभा चुनाव में प्रधानमंत्री रहते हुए अयोध्या जिले में चुनावी जनसभा को संबोधित करने आए थे, लेकिन रामलला का दर्शन नहीं किया था।

इंदिरा गांधी

इसके बाद देश की आजादी के बाद पहली बार प्रधानमंत्री बनने के पर इंदिरा गांधी ने 1966 में अयोध्या का दौरा किया था। अयोध्या में नया घाट पर बने सरयू पुल का लोकार्पण करने इंदिरा गांधी अयोध्या पहुंची थीं। इसी कार्यक्रम में हिस्सा लेने के बाद वापस लौट आईं थीं।

ये भी पढ़ें...J&K से अनुच्‍छेद 370 हटने के एक साल, पीयूष गोयल ने PM मोदी पर कही ये बड़ी बात

फिर इसके बाद दूसरी बार 1979 में इंदिरा गांधी का अयोध्या दौरा हुआ था, तब उन्होंने हनुमानगढ़ी जाकर बजरंगबली का दर्शन, पूजा अर्चना की थी.

और तीसरी बार इंदिरा गांधी 1975 में अयोध्या में आचार्य नरेंद्रदेव कृषि एवं प्रौद्योगिक विश्वविद्यालय का शिलान्यास करने गईं थीं। लेकिन इन तीनों दौरों में उन्होंने रामजन्मभूमि के दर्शन नहीं किये थे और दूरी बनाए रखी थी।

ये भी पढ़ें...हनुमानगढ़ी से भूमि पूजन स्थल के लिए रवाना हुए प्रधानमंत्री मोदी

राजीव गांधी

देश के दो बार प्रधानमंत्री और पूर्व प्रधानमंत्री के रूप में राजीव गांधी ने एक बार अयोध्या का दौरा किया। राजीव गांधी के प्रधानमंत्री रहते 1986 में बाबरी मस्जिद का ताला खुला और 1989 में राम मंदिर का शिलान्यास किया गया।

लेकिन विपक्ष में रहते हुए राजीव गांधी 1990 में सद्भावना यात्रा के दौरान अयोध्या आए, हालांकि रामलला का दर्शन-पूजन नहीं किया था। हालांकि साल 2016 में राहुल गांधी और 2019 प्रियंका वाड्रा ने यहां आने पर हनुमानगढ़ी जाकर बजरंगबली का दर्शन पूजन किया था।

ये भी पढ़ें...हनुमानगढ़ी पहुंचे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 10 मिनट बजरंगबली की करेंगे पूजा

अटल बिहारी वाजपेयी

भाजपा के पहले प्रधानमंत्री बनने वाले अटल बिहारी वाजपेयी अयोध्या तो कई बार आए, लेकिन प्रधानमंत्री के पद पर रहते हुए दो बार आए। साल 2003 में मंदिर आंदोलन के प्रमुख चेहरा रहे रामचंद्रदास परमहंस के निधन पर वह अयोध्या आए थे। सरयू के तट पर उस उन्होंने परमहंस को श्रद्धांजलि देते हुए कहा था कि राममंदिर का सपना अवश्य पूरा होगा।

कई बार ये यहां आए पर इन सबके दौरान अटल बिहारी वाजपेयी ने रामजन्मभूमि स्थल से दूर बनाए रखी थी। इस तरह से वे भी अपने जीते जी रामलला और बजरंगबली का दर्शन-पूजन अयोध्या में नहीं कर सके।

लेकिन देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का संकल्प पूरा हो गया। उन्होंने जो वादे किया आज वे उन्हें साकार करके दिखा रहे हैं। चाहे राह में कितनी भी रूकावटे क्यों न आए, पर पीएम मोदी कभी हारे नहीं और हमेशा मैदान में डटे रहे।

ये भी पढ़ें...हनुमानगढ़ी से भूमि पूजन स्थल के लिए रवाना हुए प्रधानमंत्री मोदी

देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Newstrack

Newstrack

Next Story