IND VS BAN TEST: पहला दिन, भारत ने दिखाया गजब का खेल

भारत और बांग्लादेश के बीच दो मैचों की टेस्ट सीरीज का पहला मैच इंदौर के होलकर स्टेडियम में खेला जा रहा है। बांग्लादेश की टीम ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए एक विकेट गंवा कर 12 रन बनाए हैं।

मुंबई: भारत और बांग्लादेश के बीच दो मैचों की टेस्ट सीरीज का पहला मैच इंदौर के होलकर स्टेडियम में खेला जा रहा है।बांग्लादेश ने अपनी पहली पारी में 150 रन बनाए। उसकी ओर से मुशफिकुर रहीम हाइएस्ट स्कोरर रहे। उन्होंने 43 रन बनाए। उनके अलावा मोमिनुल हक ने 37, लिटन दास ने 21, मोहम्मद मिथुन ने 13 और महमूदुल्ला ने 10 रनों का योगदान दिया। इन पांचों के अलावा बांग्लादेश का कोई भी बल्लेबाज दहाई का आंकड़ा नहीं छू पाया।

ये भी देखें:महाराष्ट्र के राजनीति उठापटक में किस्मत बदली जयपुर के इन गांवों की,जानिए कैसे?

IND vs BAN…

टी20 सीरीज में 2-1 से कब्जा जमाने के बाद टीम इंडिया अब बांग्लादेश के खिलाफ दो मैचों की टेस्ट सीरीज का पहला मैच खेल रही है। पहला मुकाबला इंदौर के होलकर स्टेडियम में हो रहा है। पहले दिन बांग्लादेश के कप्तान मोमिनुल हक सोराब ने टॉस जीता और बल्लेबाजी का फैसला किया। हालांकि, उनका यह फैसला गलत साबित हुआ और उनकी पूरी टीम 58.3 ओवर में 150 रन पर सिमट गई।

भारत ने पहले दिन 26 ओवर बल्लेबाजी की। इसमें उसने एक विकेट खोकर 86 रन बनाए। आउट होने वाले बल्लेबाज रोहित शर्मा रहे। उन्होंने सिर्फ 6 रन बनाए। चेतेश्वर पुजारा 43 और मयंक अग्रवाल 37 रन बनाकर नाबाद हैं।

बांग्लादेश को कम स्कोर पर समेटने में भारतीय गेंदबाजों खासकर मोहम्मद शमी ने अहम भूमिका निभाई। शमी ने 27 रन देकर 3 विकेट लिए। उनके अलावा इशांत शर्मा, रविचंद्रन अश्विन और उमेश यादव भी 2-2 विकेट अपने नाम करने में सफल रहे। बांग्लादेश की ओर से मुशफिकुर रहीम ने सबसे ज्यादा 43 रन बनाए।

मयंक ने भी खोले हाथ

चेतेश्वर  पुजारा के बाद मयंक अग्रवाल ने भी हाथ दिखाने शुरू किए। ये दोनों बल्लेबाज 81 गेंद पर 58 रन की साझेदारी कर चुके हैं। टेस्ट में सामान्यतया पुजारा इतनी तेज गति से रन नहीं बनाते हैं।

पुजारा का रिकॉर्ड

चेतेश्वर पुजारा ने दहाई का आंकड़ा पार करक लिया है। उनके पिछले आंकड़ों पर नजर डालें तो जब भी वे एक बार 10 या उससे ज्यादा रन बना लेते हैं फिर उन्हें आउट करना मुश्किल हो जाता है।

चेतेश्वर से उम्मीद

रोहित शर्मा की जगह चेतेश्वर पुजारा ने क्रीज संभाली। पुजारा की पिछली पांच पारियों की बात करें तो वे सिर्फ 2 बार ही 50 या उससे ज्यादा का स्कोर कर पाए हैं। तीन बार दहाई का आंकड़ा नहीं पार कर पाए हैं। इस मैच में उनसे बड़ी पारी की उम्मीद है।

रोहित के 6 रन

भारत की भी शुरुआत अच्छी नहीं रही। टीम का स्कोर जब 14 रन था, तब उसके ओपनर रोहित शर्मा को अबू जायद की गेंद पर विकेट के पीछे लिटन दास ने लपक लिया। रोहित अपने खाते में सिर्फ 6 रन ही जोड़ पाए थे।

ये भी देखें:पेंटर प्रणव बालासुब्रमण्य ने पैरों से दिया CM को दान की राशि, वायरल हुई तस्वीर

22 गेंदों में सिर्फ 6 रन

मयंक अग्रवाल 22 गेंदों में सिर्फ 6 रन बना पाए हैं। मयंक अभी किसी तरह का रिस्क नहीं ले रहे हैं और ज्यादतर गेंदों को रक्षात्मक ढंग से खेल रहे हैं।

चौके से खोला खाता

भारतीय पारी की शुरुआत मयंक अग्रवाल और रोहित शर्मा ने की। मयंक ने पारी की दूसरी ही गेंद पर चौका जड़कर अपना और टीम का खाता खोला। मयंक ने यह चौका इबादत हुसैन की गेंद पर लगाया।

भारतीय गेंदबाजों को जलवा

इंदौर के होलकर स्टेडियम में खेले जा रहे 2 मैच की सीरीज के पहले टेस्ट मैच के पहले दिन बांग्लादेश की टीम 150 रन पर ऑलआउट हो गई। उसे इतने कम रन पर समेटने में भारतीय गेंदबाजों ने अहम भूमिका निभाई।

ताजुल एक रन ही बना पाए

बांग्लादेश का 9वां विकेट भी गिर गया। ताजुल इस्लाम विकेटों के बीच दौड़ पूरी करने से चूक गए और विकेटकीपर ऋद्धिमान साहा ने उन्हें रन आउट कर दिया। वे अपने खाते में एक रन ही जोड़ पाए थे।

हैट्रिक से चूके शमी

चायकाल के बाद दूसरा ओवर मोहम्मद शमी लेकर आए। उन्होंने पहली गेंद ताइजुल इस्लाम को फेंकी। यह उनकी हैट्रिक बॉल थी।

3 गेंद पर 3 विकेट

चायकाल के बाद भी बांग्लादेश की शुरुआत खराब रही। पहला ओवर इशांत शर्मा ने फेंका। उनकी पहली ही गेंद पर लिटन दास विराट कोहली के हाथों लपके गए।

शमी के पास मौका

मुशफिकुर रहीम की जगह मेहदी हसन क्रीज पर आए। हालांकि, वे बिना खाता खोले पवेलियन लौटे। शमी ने उन्हें अगली ही गेंद पर एलबीडब्ल्यू कर दिया। अब शमी के पास टेस्ट में भी हैट्रिक बनाने का मौका है।

शमी ने झटका विकेट

बांग्लादेश का छठा विकेट गिर चुका है। मुशफिकुर रहीम पवेलियन लौट गए। वे अपना अर्धशतक पूरा नहीं कर पाए। उन्होंने लिटन दास के साथ मिलकर छठे विकेट के लिए 25 रन की साझेदारी की। उन्हें मोहम्मद शमी ने क्लीन बोल्ड किया।

25 रन की साझेदारी

मुशफिकुर रहीम और लिटन दास दोनों के बीच 25 से ज्यादा रन की साझेदारी हो चुकी है। यह साझेदारी दोनों ने 50 से कम गेंदें खेलकर पूरी की। बांग्लादेश की पारी की यह दूसरी सबसे बड़ी साझेदारी है। इससे पहले मुशफिकुर ने मोमिनुल हक के साथ चौथे विकेट के लिए 68 रन की साझेदारी की थी।

अर्धशतक के करीब रहीम

भले ही एक छोर से बांग्लादेश के बल्लेबाजों का पवेलियन लौटना जारी हो, लेकिन मुशफिकुर रहीम क्रीज पर डटे हुए हैं। उन्होंने अब तक 96 गेंदें खेली हैं और 43 रन बनाए हैं।

महमूदुल्लाह क्लीन बोल्ड

आर अश्विन ने महमूदुल्लाह को भी अपने जाल में फंसाया। महमूदुल्लाह अश्विन की फिरकी समझने में भूल कर बैठे और 10 रन बनाकर बोल्ड हो गए।

रहीम की नजरें बड़ी पारी पर

पिछले 10 ओवर में बांग्लादेश ने एक विकेट खोकर 34 रन बनाए हैं। मुशफिकुर रहीम एक छोर से लगातार टीम के लिए रन बनाने का काम कर रहे हैं।

बांग्लादेश को चौथा झटका

मोमिनुल हक को आउट कर अश्विन ने बांग्लादेश को बड़ा झटका दिया। बांग्लादेश 99 के स्कोर पर कप्तान के रूप में चौथा विकेट गंवा चुकी है।

99 गेंद में 57 रन की साझेदारी

मोमिनुल हक और मुशफिकुर रहीम के बीच चौथे विकेट के लिए एक महत्वपूर्ण साझेदारी यहां बन रही है। दोनों के बीच 99 गेंद में 57 रन की साझेदारी हो चुकी है।

तेज गेंदबाजों का दबदबा

लंच के समय कप्तान मोमीनुल हक 22 जबकि मुशफिकुर रहीम 14 रन बनाकर खेल रहे थे। भारत की ओर से इशांत शर्मा, उमेश यादव और मोहम्मद शमी ने एक-एक विकेट चटकाया।

26 ओवर के बाद स्कोर- 63/3

बांग्लादेश की टीम ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 26 ओवर का खेल खत्म होने तक तीन विकेट खोकर 63 रन बना लिए हैं। भारत की ओर से मोहम्मद शमी, ईशांत शर्मा और उमेश यादव को एक-एक सफलता मिली है।

रन रेट में बढ़ोतरी

पिछले 10 ओवर में बांग्लादेश ने एक विकेट खोकर 36 रन बनाए हैं। मुशफिकुर रहीम के मैदान पर आने के बाद से बांग्लादेश के रन रेट में जबरदस्त बढ़ोतरी हुई है।

13 रन बनाकर मिथुन आउट

मोहम्मद मिथुन और मोमिनुल हक ने टीम को संभालने की कोशिश जरूर की, लेकिन मोहम्मद शमी की गेंद पर मिथुन एलबीडब्ल्यू आउट हो गए। मिथुन ने 13 रन बनाए।

शमी की शानदार गेंदबाजी

मोहम्मद शमी को भले ही सफलता न मिली हो, लेकिन अपनी गेंदबाजी से उन्होंने बल्लेबाजों को बांधने का काम बखूबी किया है। शमी के 3 ओवर से सिर्फ 5 रन आए हैं।

ईशांत को सफलता

उमेश यादव के बाद ईशांत शर्मा ने भी विकेट झटका। ईशांत ने शादमान इस्लाम को 6 के स्कोर पर साहा के हाथों कैच आउट कराया।

बांग्लादेश को पहला झटका

उमेश यादव ने इमरुल कायेस को महज 6 रन के स्कोर पर पवेलियन भेजने का काम किया। इमरुल कायेस के रूप में बांग्लादेश को पहला झटका लगा है।

शादमान ने जड़ा चौका

शादमान इस्लाम ने पारी का पहला चौका लगाया। ईशांत शर्मा की गेंद पर शादमान इस्लाम ने सामने की ओर शानदार शॉट खेल 4 रन बटोरे।

पहला ओवर मेडन

इमरुल कायेस और शादमान इस्लाम ने पारी का आगाज किया। भारत की ओर से ईशांत शर्मा ने पहला ओवर फेंका। ईशांत ने पहला ओवर मेडन निकाला।

बांग्लादेश को कम नहीं आंक रहे भारतीय खिलाड़ी

टी20 सीरीज की ताजा जीत और होलकर स्टेडियम में मेजबान टीम के अजेय रहने के रिकॉर्ड के बावजूद के बावजूद भारत भी बांग्लादेश को कम नहीं आंक रहा है।

इस वजह से खास होगा मैच

दो टेस्ट मैचों की सीरीज का पहला मुकाबला इसलिए भी खास होगा क्योंकि इसके जरिये बांग्लादेश की सीनियर राष्ट्रीय टीम एमपीसीए के इस स्टेडियम में अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट के किसी भी प्रारूप में पहली बार दम-खम दिखाएगी।

कोहली के लिए लकी मैदान

इस स्टेडियम के साथ कोहली के व्यक्तिगत कीर्तिमान की यादें भी जुड़ी हैं, क्योंकि यहां भारत और न्यूजीलैंड के बीच अक्टूबर 2016 में खेले गये टेस्ट मैच में भारतीय कप्तान ने 211 रनों का विशाल स्कोर खड़ा किया था।

भारत की गेंदबाजी

बांग्लादेश के कप्तान मोमिनुल हक सोराब ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया है। भारत ने इस मैच में शहबाज नदीम की जगह ईशांत शर्मा को प्लेइंग इलेवन में मौका दिया है।

 

इन दो खिलाडियों के बिना कमजोर बांग्लादेश

तमीम इकबाल और शाकिब अल हसन के बिना बांग्लादेश के लिए जीत की कल्पना भी मुश्किल है। सीमित ओवरों के क्रिकेट में अच्छा प्रदर्शन करने वाली बांग्लादेशी टीम हमेशा से कमजोर साबित हुई है।

पिछली सीरीज में दक्षिण अफ्रीका को हराने वाली भारतीय टीम के पास अब तक का सर्वश्रेष्ठ तेज आक्रमण है। दूसरी ओर बांग्लादेश के सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाज कप्तान मोमिनुल हक ने टेस्ट क्रिकेट में दस से भी कम शतक जमाए हैं। मुशफिकुर रहीम और महमूदुल्लाह रियाद समर्पित क्रिकेटर हैं, लेकिन इस फार्मेट में कद्दावर नाम नहीं हैं।

कोहली-पुजारा-रहाणे का जबर्दस्त रिकॉर्ड

भारत के कप्तान विराट कोहली टेस्ट क्रिकेट में 26 शतक जमा चुके हैं, वहीं अजिंक्य रहाणे के नाम 11 और चेतेश्वर पुजारा के नाम 18 सैकड़ें हैं। बांग्लादेश के मुस्ताफिजुर रहमान, तैजुल इस्लाम और मेहदी हसन मिराज के लिए भारतीय बैट्समैंन पर अंकुश लगाना काफी कठिन होगा।

इन तीनों से पहले उन्हें सलामी बैट्समैंन मयंक अग्रवाल और रोहित शर्मा से पार पाना होगा, जो किसी भी गेंदबाजी आक्रमण की बखिया उधेड़ सकते हैं। भारतीय गेंदबाज मिलकर 800 से ज्यादा विकेट ले चुके हैं।

बांग्लादेशी टीम शाकिब की कप्तानी में पिछला टेस्ट मैच अफगानिस्तान से हार गई थी। शाकिब दो साल के निलंबन के कारण क्रिकेट से दूर हैं। भारतीय उपकप्तान अजिंक्य रहाणे ने कहा ,‘बांग्लादेश बेहतरीन टीम है। हमने दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ अच्छा खेला लेकिन अब वह अतीत की बात है। विश्व टेस्ट चैम्पियनशिप में हर मैच अहम है और हम मैच दर मैच ही फोकस करेंगे ।’

होलकर की पिच बल्लेबाजों की मददगार

होलकर स्टेडियम की पिच बैट्समैंन के लिए काफी हद तक मददगार रही है। इसकी बाउंड्री छोटी है, लेकिन पिच में उछाल है। मोहम्मद शमी और उमेश यादव तेज गेंदबाजी की कमान संभालेंगे, जबकि रवींद्र जडेजा और आर। अश्विन स्पिन का जिम्मा लेंगे। पिच की उछाल को देखते हुए ईशांत शर्मा को शामिल किया गया।

ये भी देखें:खट्टर कैबिनेट का विस्तार आज, मंत्रिमंडल में इनको मिल सकती है जगह

टीमें इस प्रकार हैं –

भारत: विराट कोहली (कप्तान), रोहित शर्मा, मयंक अग्रवाल, चेतेश्वर पुजारा, अजिंक्य रहाणे, रवींद्र जडेजा, ऋद्धिमान साहा, आर। अश्विन, मोहम्मद शमी, उमेश यादव, ईशांत शर्मा।

बांग्लादेश: इमरुल काएस, शादमान इस्लाम, मोहम्मद मिथुन, मोमिनुल हक (कप्तान), मुश्फिकुर रहीम, महमूदुल्लाह रियाद, लिटन दास, मेहदी हसन मिराज, तैजुल इस्लाम, अबु जाएद, इबादत हुसैन।