Top

ओलंपिक खेलों के बाद अब आईपीएल का रद्द होना भी तय

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के 21 दिनों के देशव्यापी लाकडाउन के ऐलान के बाद अब आईपीएल भी रद्द होने की कगार पर पहुंच गया है। कोरोना वायरस की वजह से ओलंपिक खेल पहले ही रद्द किए जा चुके हैं और अब आईपीएल के 13 वे सीजन का रद्द होना भी तय माना जा रहा है।

Shivani Awasthi

Shivani AwasthiBy Shivani Awasthi

Published on 25 March 2020 3:01 AM GMT

ओलंपिक खेलों के बाद अब आईपीएल का रद्द होना भी तय
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

अंशुमान तिवारी

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के 21 दिनों के देशव्यापी लाकडाउन के ऐलान के बाद अब आईपीएल भी रद्द होने की कगार पर पहुंच गया है। कोरोना वायरस की वजह से ओलंपिक खेल पहले ही रद्द किए जा चुके हैं और अब आईपीएल के 13 वे सीजन का रद्द होना भी तय माना जा रहा है।

पहले 15 अप्रैल तक स्थगित हुआ था

कोरोना महामारी के कारण बीसीसीआई ने पहले आईपीएल खेलों के आयोजन को 15 अप्रैल तक स्थगित किया था। लेकिन अब इसके आयोजन की उम्मीद नहीं रह गई है क्योंकि 21 दिनों के लिए पूरा देश लाकडाउन हो गया है। बीसीसीआई ने आईपीएल को 15 अप्रैल तक स्थगित करते समय कहा था कि टूर्नामेंट की मेजबानी केवल स्थिति में सुधार होने पर ही की जा सकती है, लेकिन हालात न सुधरने पर अब आईपीएल का रद्द होना तय माना जा रहा है।

ये भी पढ़ें: पीवी सिंधु ने कोरोना को किया नजरअंदाज, अब पड़ी आफत में

गांगुली ने किया था इशारा

बीसीसीआई के अध्यक्ष सौरव गांगुली ने पिछले दिनों कहा था कि देश इस समय गहरे संकट के दौर में है और हम हालात पर नजर बनाए हुए हैं।गांगुली ने कहा था कि हम इस बारे में अभी कुछ भी नहीं कर सकते।उनका कहना था कि पिछले 10 दिनों में परिस्थितियों में कुछ भी बदलाव नहीं हुआ है।ऐसे में मेरे पास इस बाबत कहने के लिए कुछ भी नया नहीं है क्योंकि अभी भी यथा स्थिति बनी हुई है।

ये भी पढ़ें: वीरेंदर सहवाग ने पोस्ट किया फनी वीडियो, देखें कैसे करते हैं कोरोना मुक्त आसन

नेस वाडिया ने कही दो टूक बात

इस बीच किंग्स इलेवन पंजाब के सहमालिक नेस वाडिया ने कहा कि बीसीसीआई को आईपीएल को अब स्थगित करने पर गंभीरता से विचार करना चाहिए।उन्होंने कहा कि कोरोना से पैदा हुए संकट के कारण हमें बड़ी जिम्मेदारी के साथ काम करने की जरूरत है। उन्होंने सवाल उठाते हुए कहा कि यदि मई तक स्थिति में सुधार होता है तो हमारे पास कितना समय रहेगा।हमें यह भी सोचना होगा कि क्या तब विदेशी खिलाड़ियों को देश में प्रवेश करने की अनुमति दी जाएगी।

IPL-2020 Schedule: जयपुर को मिली 5 मैंचों की मेजबानी, यहां खेले जाएंगे मैच

ये भी पढ़ें: टोक्यो में होने वाला ओलंपिक-2020 एक साल के लिए टला, सामने आई ये बड़ी वजह

सम्मेलन हुआ स्थगित

बीसीसीआई ने मंगलवार को अधिकारियों और टीम मालिकों के सम्मेलन को स्थगित कर दिया था क्योंकि देश और दुनिया में कोरोना वायरस के मामलों में वृद्धि लगातार जारी है। ग्लैमर और चकाचौंध से भरी आठ टीमों की यह लीग प्रतियोगिता पहले पहले 29 मार्च को मुंबई में शुरू होने वाली थी।

बीसीसीआई ने स्थितियों में सुधार की संभावना के कारण इसे 15 अप्रैल तक स्थगित किया था,लेकिन अब 21 दिनों के देशव्यापी लाकडाउन के कारण इसका रद्द होना तय माना जा रहा है।

ये भी पढ़ें: राज्यों में बटेंगे 15-15 हजार! मोदी सरकार का बड़ा फरमान, इन्हे मिलेगी तुरंत रकम

बीसीसीआई ने कहा,नहीं कर सकते अनदेखी

इस बाबत बीसीसीआई के एक अधिकारी ने कहा कि अगर ओलंपिक को 1 साल के लिए डाला जा सकता है तो आईपीएल तो उस लिहाज से बहुत छोटा टूर्नामेंट है।उन्होंने कहा कि पूरी दुनिया इस समय संकट के दौर से गुजर रही है और हम इसकी अनदेखी नहीं कर सकते।अधिकारी ने कहा कि हमें इस पर भी विचार करना होगा क्योंकि सरकार विदेशी वीजा की अनुमति देने के बारे में अभी विचार तक नहीं कर रही है

बीसीसीआई के अधिकारी ने कहा कि 21 दिन के लाकडाउन के बाद स्थितियों को सामान्य होने में भी काफी समय लगेगा। अगर 14 अप्रैल को लाख डाउन समाप्त भी हो गया तो तमाम तरीके के प्रतिबंध जारी रहेंगे।ऐसे में आईपीएल का आयोजन करना संभव नहीं लगता और इसे रद्द नहीं करना एक तरीके से मूर्खता ही होगी।

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Shivani Awasthi

Shivani Awasthi

Next Story