Top

BCCI के दादा पर रवि शास्त्री ने दिया बड़ा बयान, पैरो तले खिसक गई जमीन

टीम इंडिया के मुख्य कोच रवि शास्त्री ने BCCI अध्यक्ष सौरव गांगुली पर बड़ा बयान दिया है, रवि शास्त्री ने कहा कि BCCI के अध्यक्ष के रूप में सौरव गांगुली की नियुक्ति भारतीय क्रिकेट को आगे ले जाने की दिशा में एक सही कदम है। इसरे साथ ही शास्त्री ने कहा कि बीसीसीआई अध्यक्ष बनने के लिए मैं सौरव को दिल से बधाई देता हूं, उनकी नियुक्ति भारतीय क्रिकेट को सही दिशा में आगे ले जाने के लिए एक बड़ा संकेत है।

Harsh Pandey

Harsh PandeyBy Harsh Pandey

Published on 26 Oct 2019 1:51 PM GMT

BCCI के दादा पर रवि शास्त्री ने दिया बड़ा बयान, पैरो तले खिसक गई जमीन
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

नई दिल्ली: टीम इंडिया के मुख्य कोच रवि शास्त्री ने BCCI अध्यक्ष सौरव गांगुली पर बड़ा बयान दिया है, रवि शास्त्री ने कहा कि BCCI के अध्यक्ष के रूप में सौरव गांगुली की नियुक्ति भारतीय क्रिकेट को आगे ले जाने की दिशा में एक सही कदम है।

इसरे साथ ही शास्त्री ने कहा कि बीसीसीआई अध्यक्ष बनने के लिए मैं सौरव को दिल से बधाई देता हूं, उनकी नियुक्ति भारतीय क्रिकेट को सही दिशा में आगे ले जाने के लिए एक बड़ा संकेत है।

यह भी पढ़ें. महाराष्ट्र में राजनैतिक हलचल, शपथ ग्रहण समारोह की तैयारी तेज

उन्होंने आगे कहा कि वह हमेशा से ही एक स्वाभाविक नेता रहे हैं, उनके जैसा शख्स इस पद के लिए सही है, उन्होंने इससे पहले बंगाल क्रिकेट संघ को भी चार-पांच साल तक बतौर अध्यक्ष अपनी सेवाएं दी हैं, अब बीसीसीआई के अध्यक्ष के तौर पर उनका चयन होना भारतीय क्रिकेट के लिए सही कदम है।

यह भी पढ़ें. विरासत में मिली राजनीति! फिर ऐसे बनाया महाराष्ट्र की राजनीति में दबदबा

मुख्य कोच ने प्रेसवार्ता में कहा कि भारतीय क्रिकेट बोर्ड के लिए ये समय बड़ा परेशानी भरा था, उनको बीसीसीआई को फिर से विशाल बनाने के लिए बहुत मेहनत करनी होगी।

इसके साथ ही शास्त्री ने साथ ही महेंद्र सिंह धोनी के भविष्य को लेकर उन पर सवाल उठाने वालों की भी आलोचना की।

यह भी पढ़ें. 250 ग्राम का परमाणु बम! पाकिस्तान का ये दावा, सच्चा या झूठा

उन्होंने कहा कि धोनी पर बोलने वालों में से आधे लोग अपने जूतों के फीते तक सही से नहीं बांध सकते हैं, देखिए कि उन्होंने देश के लिए क्या उपलब्धियां हासिल की हैं, लोग इतनी जल्दी में क्यों हैं कि वह अब संन्यास ले लें? शायद उनके पास बात करने के लिए कोई और मुद्दा नहीं है।

यह भी पढ़ें. 10 करोड़ की होगी मौत! भारत-पाकिस्तान में अगर हुआ ऐसा, बहुत घातक होंगे अंजाम

साथ ही साथ कोच ने कहा कि वह खुद और जो भी उन्हें जानते हैं- सभी को पता है वह जल्दी ही इस खेल से दूर हो जाएंगे, तो फिर इसे जब होना है, तब होने दो।

उनको लेकर खुद से बयानबाजी करना उनके प्रति असम्मान है। शास्त्री ने इसके साथ ही कहा कि भारत के लिए 15 साल खेलने वाले खिलाड़ी को क्या यह नहीं पता होगा कि कब क्या करना सही होगा? धोनी ने अपने खेल से यह अधिकार पाया है कि वह खुद यह निर्णय लें कि उन्हें कब संन्यास लेना है।

यह भी पढ़ें. एटम बम मतलब “परमाणु बम”, तो ऐसे दुनिया हो जायेगी खाक!

Harsh Pandey

Harsh Pandey

Next Story