Top

सचिन और आनंद को मोदी सरकार ने दिया तगड़ा झटका, जानें पूरा मामला

देश के महान बल्लेबाज और अपने करियर के दौरान तमाम रिकॉर्ड बनाने वाले टीम इंडिया के पूर्व कप्तान सचिन तेंदुलकर और पांच बार के विश्व चैंपियन ग्रैंडमास्टर विश्वनाथन आनंद को केंद्र सरकार से तगड़ा झटका लगा है।

Aditya Mishra

Aditya MishraBy Aditya Mishra

Published on 21 Jan 2020 12:48 PM GMT

सचिन और आनंद को मोदी सरकार ने दिया तगड़ा झटका, जानें पूरा मामला
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

नई दिल्ली: देश के महान बल्लेबाज और अपने करियर के दौरान तमाम रिकॉर्ड बनाने वाले टीम इंडिया के पूर्व कप्तान सचिन तेंदुलकर और पांच बार के विश्व चैंपियन ग्रैंडमास्टर विश्वनाथन आनंद को केंद्र सरकार से तगड़ा झटका लगा है।

इन दोनों दिग्गज खिलाडिय़ों को केंद्र सरकार की सलाहकार समिति ऑल इंडिया काउंसिल ऑफ स्पोर्ट्स से बाहर कर दिया गया है। इस समिति का मकसद खेलों के विकास संबंधी मामलों में सरकार की मदद करना है।

ये भी पढ़ें...ऑस्ट्रेलिया के सिडल का अब नहीं बरपेगा कहर, ले लिया अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास

श्रीकांत व हरभजन बने सदस्य

इस सलाहकार समिति का गठन 2015 में तत्कालीन खेल मंत्री सर्बानंद सोनोवाल ने किया था। इन दोनों दिग्गजों की जगह समिति में नए सदस्यों के तौर पर अब टीम इंडिया के पूर्व स्पिनर हरभजन सिंह और भारतीय क्रिकेट टीम के ही पूर्व विस्फोटक ओपनर रहे के.श्रीकांत को शामिल किया गया है।

सचिन और आनन्द के अलावा दो और दिग्गजों को समिति से बाहर का रास्ता दिखाया गया है। बैडमिंटन के हेड कोच पुलेला गोपीचंद और भारतीय फुटबॉल टीम के पूर्व कप्तान बाईचुंग भूटिया को भी समिति में शामिल नहीं किया गया है।

ये भी पढ़ें...गैर विकेटकीपर हो कर भी दर्ज किया था नया रिकॉर्ड, ऐसा है ये दिग्गज क्रिकेटर

गोपीचंद व्यस्तता के कारण बाहर

माना जा रहा है कि सचिन तेंदुलकर और विश्वनाथन आनंद को इसलिए समिति से बाहर किया गया है क्योंकि वह समिति की बैठकों में हिस्सा नहीं लेते थे। दोनों ने सिर्फ एक या दो ही बैठकों में हिस्सा लिया था। जहां तक पुलेला गोपीचंद की बात है तो इसी साल होने वाले टोक्यो ओलिंपिक को देखते हुए वे भारतीय बैडमिंटन खिलाडिय़ों के साथ व्यस्त रहेंगे। इसलिए उनके पास समिति की बैठक में शामिल होने का समय नहीं होगा।

ये होंगे समिति के सदस्य

समिति के पुनर्गठन के बाद अब तीरंदाज लिंबा राम, एथलीट पीटी उषा, पर्वतारोही बछेंद्री पाल, पैरा-एथलीट दीपा मलिक, निशानेबाज अंजलि भागवत, फुटबॉलर रेनेडी सिंह और पहलवान योगेश्वर दत्त इसके सदस्य होंगे।

ये भी पढ़ें...टीम इंडिया में हुआ बड़ा बदलाव, इस दिग्गज क्रिकेटर की जगह लेगा ये खिलाड़ी

Aditya Mishra

Aditya Mishra

Next Story