cbi

बॉलीवुड ऐक्टर सुशांत सिंह राजपूत की मौत मामले में एम्स ने सीबीआई को रिपोर्ट सौंप दी है। केंद्रीय जांच एजेंसी एम्स की रिपोर्ट का विश्लेषण करने में जुट गई है।

सुशांत सिंह के परिवार की तरफ से वकील के माध्यम से लगाए गये इन आरोपों पर महाराष्ट्र सरकार के गृह मंत्री अनिल देशमुख ने आज सफाई दी है। उन्होंने कहा कि उन्हें भी नतीजे का बेसब्री से इंतज़ार है।

बॉलीवुड एक्टर सुशांत सिंह राजपूत की मौत की गुत्थी अब तक सुलझ नहीं पाई है। एक्टर की मौत के चार महीने पूरे हो गए हैं, लेकिन अब तक जांच की गाड़ी ज्यादा आगे बढ़ती हुई दिखाई नहीं दे रही है।

उधर रिया के वकील सतीश मानशिंदे ने सीबीआई से दोबारा से मेडिकल टीम गठित करने की मांग की है। उन्होंने कहा कि तस्वीरों के आधार पर एम्स के डॉक्टर का यह कहना है कि सुशांत सिंह राजपूत कि मौत 200 प्रतिशत गला घोटने से हुई है। यह एक खतरनाक ट्रेंड हैं।

बॉलीवुड एक्टर सुशांत सिंह राजपूत मौत मामले की जांच सीबीआई कर रही है। इस मामले में आए दिन नए-नए खुलासे हो रहे हैं। अब इस बीच सुशांत के पिता के वकील विकास सिंह ने बड़ी बात कही है।

एम्स के फॉरेंसिक चीफ सुधीर गुप्ता ने विकास सिंह के बयान पर कहा कि "जांच अभी चल रही है। जो वो कह रहे हैं वो ठीक नहीं है। हम सिर्फ गले पर खिंचने के निशान और क्राइम सीन को देखकर इस नतीजे पर नहीं पहुंच सकते हैं कि ये हत्या है या सुसाइड।

Drugs मामले में कितने साल तक हो सकती है जेल, जानें पूरा कानून Sushant Singh Rajput की संदिग्ध मौत के बाद चल रही High Profile Investigation में बॉलीवुड के ड्रग्स कारोबार के साथ तार जुड़े होने का एंगल सामने आया है. सीबीआई (CBI) के साथ ही इस जांच में NCB Investigation कर रहा है.  

सीएफएसएल की रिपोर्ट में दावा किया गया है कि सुशांत की मौत फांसी लगाने से हुई थी। इतना ही नहीं सीएफएसएल सीन आफ क्राइम के री-क्रिएशन के बाद सुशांत की मौत मामले को फुल हैंगिंग मानने से इनकार कर दिया है।

बॉलीवुड एक्टर सुशांत सिंह राजपूत की मौत अभी भी एक पहेली बनी हुई है। सीबीआई, ईडी और एनसीबी की जांच में अभी तक कई चौंकाने वाले खुलासे हुए हैं।

आज से 28 साल पहले हुए अयोध्या के बाबरी विध्वंस मामले में CBI की विशेष अदालत अपना फैसला सुनाने जा रही है। यह फैसला आगामी 30 सितम्बर को सुनाया जाएगा।