Sam Pitroda

भाजपा के बढ़ते प्रहार का सामना कर रहे कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने सोमवार को कहा कि 1984 के सिख विरोधी दंगों में शामिल लोगों को सजा मिलनी चाहिए। उन्होंने अपनी पार्टी की ओवरसीज इकाई के प्रमुख सैम पित्रौदा को दंगों पर दिये गये बयान के लिए खरी खोटी सुनाई और कहा कि उन्हें अपने बयान पर शर्म आनी चाहिए और देश से माफी मांगनी चाहिए।

वर्ष 1984 के दंगों पर सैम पित्रौदा की टिप्पणी को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और भाजपा द्वारा लगातार कांग्रेस पर निशाना साधे जाने के बीच पार्टी प्रमुख राहुल गांधी ने सोमवार को कहा कि उन्हें (पित्रौदा) अपने आप पर शर्म आनी चाहिए और देश से माफी मांगनी चाहिए।

भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने कांग्रेस पर उसके नेता सैम पित्रोदा के 'हुआ तो हुआ' वाले बयान को लेकर निशाना साधा। शाह ने कांग्रेस प्रमुख राहुल गांधी से पूछा कि क्या पित्रोदा द्वारा सिखों की हत्या को "जायज" ठहराने के बाद माफी मांगने से मामला खत्म हो गया।

गांधी ने कहा, 'पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने माफी मांगी, मेरी मां सोनिया गांधी ने माफी मांगी। हम सबने अपना रुख स्पष्ट कर दिया कि वह एक भयावह त्रासदी थी जो नहीं होनी चाहिए थी।'

सैम पित्रोदा ने 1984 के सिख विरोधी दंगों से जुड़े अपने एक कथित बयान को लेकर भाजपा के हमले पर पलटवार करते हुएशुक्रवार को कहा कि सत्तारूढ़ पार्टी अपनी नाकामियां छिपाने के लिए उनके शब्दों को तोड़-मरोड़कर पेश कर रही है।

पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की ताजा टिप्पणी की निंदा करते हुए वरिष्ठ कांग्रेस नेता सैम पित्रोदा ने रविवार को कहा कि एक दिवंगत हस्ती के बारे में अनर्गल बयानबाजी के कारण एक गुजराती होने के नाते वह शर्मिंदा महसूस कर रहे हैं।

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के करीबी और ‘इंडियन ओवरसीज कांग्रेस’ के प्रमुख सैम पित्रोदा ने शनिवार को नरेंद्र मोदी सरकार पर ‘भारत की आत्मा पर चोट करने’ का आरोप लगाया और दावा किया कि प्रधानमंत्री मोदी यह कहकर देश का अपमान करते हैं कि पिछले 70 वर्षों में कुछ नहीं हुआ।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और भाजपा के दूसरे नेताओं द्वारा आतंकवाद एवं राष्ट्रीय सुरक्षा के मुद्दे को लेकर राहुल गांधी को निशाने पर लिए जाने पर गांधी के करीबी एवं ''इंडियन ओवरसीज कांग्रेस'' के प्रमुख सैम पित्रोदा ने कहा है कि कांग्रेस अध्यक्ष ने निजी तौर पर आतंकवाद का दंश झेला है।

अमित शाह ने कांग्रेस पर हमला बोलते हुए कहा कि देश जब आम चुनाव की ओर तेजी से बढ़ रहा है और देश के मतदाताओं में राष्ट्र सुरक्षा का मुद्दा अहम बना हुआ है। शाह ने सैम पित्रोदा के बयान को दुर्भाग्यपूर्ण बताया।

गांधी परिवार के बेहद नजदीकी और लोकसभा चुनावों के लिए कांग्रेस की मेनिफेस्टो कमिटी के सदस्य सैम पित्रोदा के बयान के बाद सियासी बवाल मच गया है। पित्रोदा के बयान के बाद बीजेपी कांग्रेस पर हमलावर है, वित्त मंत्री अरुण जेटली ने भी पलटवार करते हुए कहा है कि जब गुरु ऐसा हो तो शिष्य कितना निकम्मा होगा ये समझा जा सकता है।