Top

इस महिला ने सिंधिया की भाजपा में कराई एंट्री, रातो-रात पलट दिया पासा

आजकल राजनीतिक गलियारों में अगर किसी की चर्चा है तो वो है ज्योतिरादित्य सिंधिया की। जब से ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कांग्रेस छोड़कर बीजेपी का दामन थामा है, तब से मध्य प्रदेश की राजनीति में उथल-पुथल मची हुई है।

Shreya

ShreyaBy Shreya

Published on 16 March 2020 11:03 AM GMT

इस महिला ने सिंधिया की भाजपा में कराई एंट्री, रातो-रात पलट दिया पासा
X
इस महिला ने सिंधिया की भाजपा में कराई एंट्री, रातो-रात पलट दिया पासा
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लखनऊ: आजकल राजनीतिक गलियारों में अगर किसी की चर्चा है तो वो है ज्योतिरादित्य सिंधिया की। जब से ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कांग्रेस छोड़कर बीजेपी का दामन थामा है, तब से मध्य प्रदेश की राजनीति में उथल-पुथल मची हुई है। बता दें कि राजघराने से ताल्लुक रखने वाले सिंधिया अपने पिता माधव राव सिंधिया की मृत्यु के बाद से उनकी विरासत को आगे बढ़ा रहे थे। ज्योतिरादित्य सिंधिया करीब 18 सालों तक कांग्रेस से जुड़े रहे। लेकिन अब उन्होंने भारतीय जनता पार्टी (BJP) ज्वाइन कर ली है।

ये है पार्टी छोड़ने के पीछे की वजह

ऐसा कहा जा रहा है कि कांग्रेस पार्टी में तवज्जो न मिलने के चलते ज्योतिरादित्य सिंधिया ने पार्टी छोड़ने का फैसला लिया था। इसके अलावा यह भी कहा गया कि पार्टी की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी ने भी सिंधिया की बातों को अनसुना कर दिया था।

यह भी पढ़ें: आंकड़ों में फंसे राहुल: संसद में कहा कुछ तो बाहर बोल बैठे ऐसा

देश का भविष्य PM मोदी के हाथों में सुरक्षित है- सिंधिया

वहीं सिंधिया ने भी भारतीय जनता पार्टी (BJP) ज्वाइन करते समय कहा था कि अब कांग्रेस पार्टी पहले जैसी नहीं रही और ऐसे संगठन में रहकर देश की सेवा करने का लक्ष्य कभी पूरा नहीं हो सकता। उन्होंने ये भी कहा था कि देश का भविष्य PM नरेंद्र मोदी के हाथों में बिल्कुल सुरक्षित है।

पूरी की दादी की इच्छा

वहीं सिंधिया के इस फैसले से उन्होंने अपनी दादी का भी सपना पूरा कर दिया था। दरअसल, राजमाता की इच्छा थी कि उनके परिवारे के सभी लोग BJP में रहे। सिंधिया परिवार से केवल माधव राव सिंधिया और ज्योतिरादित्य सिंधिया ही कांग्रेस से जुड़े रहे और बाकी सभी BJP से जुड़े रहे।

यह भी पढ़ें: भीमा कोरेगांवः नवलखा और आनंद तेलतुंबडे की जमानत याचिका खारिज

इस महिला ने पलटा मध्य प्रदेश की राजनीति का पासा

इन सब के बीच एक ऐसी महिला का नाम सामने आया है, जिसके बारे में कहा जा रहा है कि उनकी वजह से ही मध्य प्रदेश की राजनीति बदल गई। आपको बता दें कि ज्योतिरादित्य सिंधिया की पत्नी प्रियदर्शन बड़ौदा के गायकवाड राजघराने से ताल्लुक रखती हैं। बड़ौदा की महारानी राजमाता शुभांगिनी देवी गायकवाड का PM नरेंद्र मोदी बेहद सम्मान करते हैं और उनसे PM के रिश्ते भी काफी अच्छे हैं। ऐसा कहा जा रहा है कि राजमाता ने ही BJP हाई कमान से बात करके अपने दामाद सिंधिया के लिए पार्टी में जाने का रास्ता तैयार किया। जिसके बाद से मध्य प्रदेश की राजनीति का पासा पलट गया।

यह भी पढ़ें: निर्भया केस: दोषी मुकेश का फेल हुआ दांव, सुप्रीम कोर्ट ने खारिज की याचिका

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Shreya

Shreya

Next Story