Top

सुलेमानी को पहले ही हो गया था हत्या का अंदेशा, मौत से 2 घंटे पहले लिखी थी ये बात

कासिम सुलेमानी को अपनी हत्या का अंदेशा काफी समय पहले ही हो गया था। मौत से करीब दो घटे पहले जनरल कासिम सुलेमान ने अपने परिवार और दोस्तों के लिए पत्र में कुछ खास बातें लिखी थी।

Aditya Mishra

Aditya MishraBy Aditya Mishra

Published on 5 Jan 2020 10:17 AM GMT

सुलेमानी को पहले ही हो गया था हत्या का अंदेशा, मौत से 2 घंटे पहले लिखी थी ये बात
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

तेहरान: इराक में अमेरिकी हवाई हमलों में ईरान के शीर्ष कमांडर कासिम सुलेमानी के मारे जाने के बाद दुनियाभर में हलचल तेज हो गई है। ईरान के सर्वोच्च नेता अयातुल्ला अली खुमैनी और राष्ट्रपति ने अमेरिकी हवाई हमले में सेना प्रमुख क़ासिम सुलेमानी की मौत के बाद उनकी बेटी से मुलाकात की।

ईरान के राष्ट्रपति से कासिम सुलेमानी की बेटी ने पूछा कि उनके पिता का बदला कौन लेगा? इस पर ईरान के राष्ट्रपति हसन रूहानी ने क़ासिम सुलेमानी की बेटी से कहा कि अमेरिका में हवाई हमले में मारे जाने के बाद उनके पिता की मृत्यु के लिए हर कोई बदला लेगा।

ये भी पढ़ें…अभी-अभी फिर धमाका: हिल गया ये देश, तिलमिलाया अमेरिका

सुलेमानी को पहले ही हो गया था हत्या का अंदेशा

ऐसा कहा जा रहा है कि कासिम सुलेमानी को अपनी हत्या का अंदेशा काफी समय पहले ही हो गया था। मौत से करीब दो घटे पहले जनरल कासिम सुलेमान ने अपने परिवार और दोस्तों के लिए पत्र में कुछ खास बातें लिखी थी। आइये अब हम आपको बताने जा रहे हैं आखिर सुलेमानी ने क्या लिखा था?

मेरी पत्नी, मैंने करमन के शहीदों की कब्र में अपनी कब्र को नामित किया है। मोहम्मद जानता है। मेरी कब्र मेरे शहीद दोस्तों की तरह सामान्य है। सोल्जर कासिम #Soleimani, शीर्षक नहीं वाक्यांश। "

ये भी पढ़ें…ट्रंप समेत पूरे अमेरिका को चुकानी होगी ईरानी जनरल की मौत की कीमत, जानें कैसे?

हम तनाव बढ़ाने के पक्ष में नहीं:ईरान

ईरान ने कहा है कि अमेरिकी हवाई हमले में इस्लामिक रिवोल्यूशनरी गार्ड कोर के कुद्स बल के कमांडर मेजर जनरल कासिम सुलेमानी के मारे जाने के बाद वह ऐसा कोई कदम नहीं उठाना चाहता है, जिससे क्षेत्र में तनाव और बढ़े।

ईरान के विदेश मंत्री जावेद जाफरी ने शनिवार को कतर के विदेश मंत्री मोहम्मद बिन अब्दुल रहमान बिन जासिम अल थानी के साथ मुलाकात के दौरान यह बात कही।

जाफरी ने कहा कि ईरान क्षेत्र में किसी तरह का तनाव नहीं चाहता है लेकिन विदेशी और अतिरिक्त क्षेत्रीय बलों की उपस्थिति और हस्तक्षेप से हमारे संवेदनशील क्षेत्र में अस्थिरता तथा असुरक्षा की स्थिति निर्मित हो गई है और तनाव बढ़ गया है।

ये भी पढ़ें…कासिम सुलेमानी को मारने का फैसला युद्ध रोकने के लिए किया गया: अमेरिका

Aditya Mishra

Aditya Mishra

Next Story