उन्नाव केस: सपाइयों- कांग्रेसियों पर पुलिस ने जमकर बरसाई लाठियां, देखें ये Video

लखनऊ: 90% झुलसी उन्नाव की दुष्कर्म पीड़ित ने शुक्रवार रात दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल में दम तोड़ दिया। रात 11.40 बजे उसे कार्डियक अरेस्ट हुआ था। बीते गुरुवार तड़के गैंगरेप के दो आरोपियों ने उसे उन्नाव में जिंदा जलाया था।

वो गैंगरेप के मामले में अपने वकील से मिलने रायबरेली जाने के लिए रेलवे स्टेशन जा रही थी। पुलिस ने इस घटना के बाद पांच आरोपियों को पकड़ा है। लेकिन इस घटना को लेकर विपक्षी दल कांग्रेस, सपा व बसपा ने योगी सरकार पर निशाना साधा है।

ये भी पढ़ें…उन्नाव की बेटी के लिए अखिलेश यादव धरने पर, देखें पूरा वीडियो | Newstrack

अखिलेश ने दिया धरना

शनिवार सुबह सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव विधान सभा के सामने धरने पर बैठ गए। इस दौरान अखिलेश ने मीडिया से बात करते हुए योगी सरकार पर जमकर निशाना साधा।

वहीं सपा और कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने ने भाजपा मुख्यालय पर प्रदर्शन किया। इस दौरान उनकी पुलिस से झड़प भी हुई। जिस पर पुलिस ने उनके उपर लाठीचार्ज कर दिया। सभी ने सीएम योगी का इस्तीफा मांगा है।

ये भी पढ़ें…उन्नाव: रेप पीड़िता के परिवार से प्रियंका ने की मुलाकात, अखिलेश का धरना खत्म

प्रियंका ने पीड़िता के परिवार से की मुलाकात

वहीं प्रियंका गांधी इस वक्त उन्नाव में हैं और पीड़िता के परिवार से मुलाक़ात की हैं। उन्होंने भी पीड़िता की मौत को लेकर योगी सरकार पर सवाल उठाया है। प्रियंकागांधी ने कहा कि एक साल से पूरे परिवार को धमकाया गया है। पीड़िता के परिवार पर अत्याचार किया गया। पीड़िता के परिवार की लड़की को स्कूल छुड़ाने की धमकी भी मिली थी।

पीड़िता के पिता ने कही ये बात

उन्नाव दुष्कर्म पीड़िता की मौत के बाद परिवार सदमे में है। पिता ने शनिवार को कहा कि परिवार को एक पैसा नहीं चाहिए। बस, मेरी बेटी को इंसाफ मिले। मौत का बदला सिर्फ मौत होता है।

गुनहगारों को बगैर देर किए फांसी मिले या उन्हें दौड़ाकर गोली मार दी जाए। इस बीच, सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव विधानसभा के बाहर धरने पर बैठ गए। वे करीब 20 मिनट तक धरने पर बैठे रहे, उसके बाद वहां से चले गये।

ये भी पढ़ें…उन्नाव रेप में बड़ा खुलासा: डॉक्टर ने बताई सच्चाई, आईजी ने कही ये बात