Top

ट्रंप का दावाः बिडेन को दी पहली मात, अब बहस का प्रारूप बदलने की तैयारी

रिपब्लिकन पार्टी के उम्मीदवार और मौजूदा राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और उनके डेमोक्रेटिक प्रतिद्वंद्वी जो बिडेन के बीच होने वाली तीन बहसों में से पहली बहस क्लीवलैंड, ओहयो में हुई थी।

Shivani

ShivaniBy Shivani

Published on 2 Oct 2020 3:38 AM GMT

ट्रंप का दावाः बिडेन को दी पहली मात, अब बहस का प्रारूप बदलने की तैयारी
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

अंशुमान तिवारी

वाशिंगटन। अमेरिका में अगले महीने की शुरुआत में होने वाले राष्ट्रपति चुनाव के लिए प्रचार चरम पर पहुंच चुका है और राष्ट्रपति पद के दोनों दावेदारों मौजूदा राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और उनके प्रतिद्वंदी जो बिडेन के बीच पहली प्रेसिडेंशियल डिबेट भी हो चुकी है। इस बीच राष्ट्रपति ट्रंप ने दावा किया है कि उन्होंने पहली डिबेट में अपने प्रतिद्वंद्वी को मात दे दी है।

उधर डिबेट का आयोजन करने वाले कमीशन ऑन प्रेसिडेंशियल डिबेट (सीपीडी) ने कहां है कि पहले राउंड की डिबेट को लेकर तमाम शिकायतों के बाद अब इसके नियम और प्रारूप में बदलाव किया जाएगा।

ट्रंप बोले-बिडेन नहीं दे सके कोई जवाब

रिपब्लिकन पार्टी के उम्मीदवार और मौजूदा राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और उनके डेमोक्रेटिक प्रतिद्वंद्वी जो बिडेन के बीच होने वाली तीन बहसों में से पहली बहस क्लीवलैंड, ओहयो में हुई थी। बहस के बाद राष्ट्रपति ट्रंप ने मीडिया से बातचीत में दावा किया कि बहस के दौरान वे अपने प्रतिद्वंद्वी बिडेन पर भारी पड़े।

US Presidential Debate 2020 Donald Trump vs Joe Biden

उन्होंने कहा कि मैंने पहले राउंड की बहस आसानी से जीत ली है और बिडेन मेरे सामने काफी कमजोर लग रहे थे। ट्रंप ने दावा किया कि बिडेन केवल शोर मचाने में लगे हुए थे और उनके पास मेरी बातों का कोई जवाब नहीं था।

बहस करने में डर रहे हैं बिडेन

ट्रंप ने दावा किया कि मैंने राष्ट्रपति चुनाव के दौरान होने वाली हर बहस जीती है। मुझे बेसब्री से फ्लोरिडा और टेनेसी में होने वाली दो अन्य डिबेट का इंतजार है। उन्होंने कहा कि मुझे बिडेन से बहस करने में कोई गुरेज नहीं है मगर मुझे लगता है कि वह बहस से भागना चाहते हैं। वह मुझसे बहस करने में क्यों डर रहे हैं, इसका कारण तो वे ही बता सकते हैं।

ये भी पढ़ेंः कर्मचारियों को राहत: सरकार का बड़ा एलान, दफ्तर न जाने पर भी नहीं होगे Absent

बिडेन खेमे ने भी किया जीत का दावा

उधर बिडेन के खेमे ने भी पहली प्रेसिडेंशियल डिबेट में जीत का दावा किया है। बिडेन के खेमे का कहना है कि बिडेन द्वारा उठाए गए सवालों का राष्ट्रपति ट्रंप कोई जवाब नहीं दे सके और उन्होंने बहस के स्तर को गिराया है।

अब बदलेगा बहस का प्रारूप

इस बीच 1988 से हर चुनाव में बहस का आयोजन करने वाले कमीशन ऑन प्रेसिडेंशियल डिबेट (सीपीडी) बहस के नियम और प्रारूप में बदलाव करने जा रहा है। सीपीडी का कहना है कि बहस का स्तर गिरता देखकर उसने नियम और प्रारूप में बदलाव करने का फैसला किया है।

Donald Trump

सीपीडी के मुताबिक बहस के दौरान दोनों उम्मीदवारों द्वारा एक-दूसरे का अपमान करना और चीखने-चिल्लाने जैसी बातें सामने आई हैं। सीपीडी के अनुसार केवल अमेरिका ही नहीं बल्कि बाहर के लोगों ने भी इसे अब तक की सबसे खराब बहस में से एक बताया है। दुनिया भर से आलोचनात्मक प्रतिक्रियाएं सामने आने के बाद बहस के तौर-तरीकों में बदलाव की तैयारी है।

मुद्दों पर केंद्रित की जाएगी बहस

सीपीडी का कहना है कि बहस को मुद्दों पर केंद्रित करने के लिए प्रारूप में अतिरिक्त नियम जोड़ा जाएगा। पहली बहस के दौरान दोनों उम्मीदवारों ने एक-दूसरे के परिवारों पर छींटाकशी की जिसके कारण बहस मुद्दों से भटक गई।

ये भी पढ़ेंः हरसिमरत कौर गिरफ्तार: किसान मार्च पर लाठीचार्ज, कई कार्यकर्ता हुए घायल

आयोग का कहना है कि पहली बहस ने यह साबित कर दिया कि बची हुई दोनों बहसों में नियमों में बदलाव करने की जरूरत है। आयोग की ओर से जल्द ही नियमों में बदलाव की घोषणा की जाएगी।

ट्रंप खेमा नियमों में बदलाव के खिलाफ

इस बीच ट्रंप खेमे ने सीपीडी के इस प्रस्तावित कदम का विरोध किया है। ट्रंप के प्रचार अभियान के संचार प्रमुख टिम मुर्टो का कहना है कि सीपीडी की ओर से ऐसा कदम इसलिए उठाया जा रहा है क्योंकि डेमोक्रेटिक उम्मीदवार जो बिडेन कमजोर साबित हुए हैं।

उन्होंने कहा कि पहली बहस के दौरान राष्ट्रपति ट्रंप अपने प्रतिद्वंद्वी पर भारी पड़े और बिडेन रेफरी का काम करने की कोशिश में जुटे हुए थे। उन्होंने कहा कि बहस की शुरुआत होने के बाद नियमों में बदलाव नहीं किया जाना चाहिए।

देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Shivani

Shivani

Next Story