×

गरीब के खाते में आए 10 करोड़, मच गया हड़कंप, बैंक कर्मियों के छूटे पसीने

उत्तर प्रदेश के बलिया जिले के बांसडीह क्षेत्र के रूकूनपुरा गांव की रहने वाली एक किशोरी के बैंक खाते में दस करोड़ रुपया आने से सनसनी फैल गई ।

Shivani

ShivaniBy Shivani

Published on 21 Sep 2020 6:22 PM GMT

गरीब के खाते में आए 10 करोड़, मच गया हड़कंप, बैंक कर्मियों के छूटे पसीने
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

बलिया: उत्तर प्रदेश के बलिया जिले के बांसडीह क्षेत्र के रूकूनपुरा गांव की रहने वाली एक किशोरी के बैंक खाते में दस करोड़ रुपया आने से सनसनी फैल गई । किशोरी अपनी मां के साथ बैंक पंहुची तो बैंक कर्मचारियों ने बैंक खाता में रूपया आने की पुष्टि की। बैंक ने खाते से धन के लेनदेन पर रोक लगा दिया है। किशोरी ने इस मामले में अब बांसडीह कोतवाली में गुहार लगाई है तथा लिखित शिकायत कर कार्रवाई का अनुरोध किया है।

निरक्षर किशोरी के खाते में आये दस करोड़

बलिया के बांसडीह इलाके में हैरतअंगेज वाकया सामने आया है। क्षेत्र के रूकूनपुरा गांव की सूबेदार साहनी की पुत्री सरोज का इलाहाबाद बैंक की बांसडीह शाखा में खाता हैं। सरोज खाते में लेनदेन करने बैंक पहुँची तथा उसने बैंक कर्मियों से खाते में उपलब्ध धन की जानकारी प्राप्त की । बैंक कर्मचारियों जानकारी दी कि उसके खाते में जमा धनराशि नौ करोड़ 99 लाख चार हजार सात सौ छतीस रूपया हैं।

ये भी पढ़ेंः दीपिका का ड्रग्स कनेक्शनः सुशांत केस में आया नाम, चैट से हुआ खुलासा

जमा धनराशि 9 करोड़ 99 लाख 4 हजार सात 736

कर्मचारियों ने यह भी बताया कि बैंक प्रबंधन ने उसके खाते के लेन-देन पर रोक लगा दिया हैं। बैंक खाते से कई बार रूपये के लेन-देन की जानकारी भी दी गई । इस जानकारी के बाद किशोरी के होश फाख्ता हो गये ।

बैंक कर्मचारियों ने रोका लेनदेन

हतप्रभ सरोज आज बांसडीह कोतवाली पहुँची तथा उसने पुलिस को इस पूरे मामले की जानकारी दी । सरोज ने इस मामले में शिकायती पत्र देकर कार्रवाई का अनुरोध किया है । शिकायती पत्र में सरोज ने जानकारी दी है कि इलाहाबाद बैंक में वर्ष 2018 में उसका खाता खुला है । दो वर्ष पूर्व ही कानपुर देहात जनपद के ग्राम पाकरा, पोस्ट बाधीर के निलेश कुमार नाम के व्यक्ति ने उसे फोन कर पीएम आवास दिलाने के नाम पर आधार कार्ड व फोटो आदि उपलब्ध कराने को कहा ।

ये भी पढ़ेंः उमा भारती ने किए बाबा केदारनाथ के दर्शन, वीडियो आया सामने, दिखी इतनी उत्सुक

किशोरी ने पुलिस को दिया शिकायती पत्र

सरोज ने आधार कार्ड की फोटो काफी व अन्य कागजात निलेश के उपलब्ध कराए गए पता पर भेज दिया। इसके बाद सरोज को डाक एटीएम कार्ड मिला। निलेश ने सरोज से उसका एटीएम कार्ड मांगा तो सरोज ने निलेश को एटीएम कार्ड भी डाक से रजिस्टर्ड भेज दिया । सरोज ने इसके बाद निलेश को अपना पिनकोड की भी जानकारी दे दी ।

ballia girl allahabad bank account seized after transfer 10 crore rupees

किशोरी इतने पैसों से अनभिज्ञता

पुलिस को दिये गये शिकायती पत्र में सरोज ने रुपये के लेनदेन के प्रति पूर्ण अनभिज्ञता जताई है। उसने उल्लेख किया है कि उसे नही मालूम कि रूपया कहां से आया है । उसने यह भी कहा है कि उसे खाते में जमा धन से भी कोई सरोकार नही है । सरोज ने पुलिस को यह भी जानकारी दी है कि निलेश के जिस मोबाइल नम्बर से उसकी बातचीत होती थी वह मोबाइल स्वीच ऑफ बता रहा है। बांसडीह कोतवाली के निरीक्षक राजेश कुमार सिंह ने बताया कि पुलिस मामले की छानबीन कर रही है। जांच के बाद आवश्यक वैधानिक कार्रवाई की जाएगी ।

ये भी पढ़ेंः महिला को डायन बताया: फिर पुलिस पर चलाए तीर-धनुष, कांप उठे लोग

पिता करते हैं गैराज में काम

बता दें कि रूकूनपुरा की 16 वर्षीय सरोज के पिता अहमदाबाद में एक गैराज में काम करते हैं। सरोज निरक्षर है। वह किसी विद्यालय का मुंह तक नही देखी है। वह किसी प्रकार सिर्फ अपना हस्ताक्षर बना पाती है। वह अपने हस्ताक्षर से ही बैंक में खाता खोली थी ।

अनूप कुमार हेमकर

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Shivani

Shivani

Next Story