×

खबर का असर: कांग्रेसी नेता के ट्वीट के बाद, स्मृति के सचिव की शिकायत पर दर्ज हुई FIR

मंगलवार को एक राष्ट्रीय अखबार में केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी की फोटो के साथ योगी सरकार के मंत्री सुरेश पासी और भाजपा जिलाध्यक्ष दुर्गेश त्रिपाठी की भी फोटो के साथ सांई ग्रीन सिटी ने प्लाट खरीदने की अपील की थी।

Shreya

ShreyaBy Shreya

Published on 22 Jan 2020 8:22 AM GMT

खबर का असर: कांग्रेसी नेता के ट्वीट के बाद, स्मृति के सचिव की शिकायत पर दर्ज हुई FIR
X
खबर का असर: कांग्रेसी नेता के ट्वीट के बाद, स्मृति के सचिव की शिकायत पर दर्ज हुई FIR
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

अमेठी: मंगलवार को एक राष्ट्रीय अखबार में केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी की फोटो के साथ योगी सरकार के मंत्री सुरेश पासी और भाजपा जिलाध्यक्ष दुर्गेश त्रिपाठी की भी फोटो के साथ सांई ग्रीन सिटी ने प्लाट खरीदने की अपील की थी। जिसको कांग्रेस एमएलसी ने ट्वीट कर लिखा था "मैडम ईरानी हम अमेठी वासी अब अमेठी नहीं बिकने देंगे।" जिसके बाद बुधवार को स्मृति ईरानी के निजी सचिव की शिकायत पर एसपी ने थाना जगदीशपुर में अज्ञात के खिलाफ मुकदमा दर्ज करने के आदेश दिए। पुलिस ने मुकदमा दर्ज कार्यवाही शुरू कर दी है। बता दें कि इस खबर को सबसे पहले न्यूजट्रैक ने प्रकाशित किया था। जिसके बाद स्मृति के सचिव की शिकायत पर अज्ञात के खिलाफ FIR दर्ज कर ली गई है।

यह भी पढ़ें: बड़े बाप की बेटियां! रखती हैं ऐसा शौक कि आपको नहीं होगा यकीन

क्या है पूरा मामला?

दरअस्ल विज्ञापन सांई ग्रीन सिटी जगदीशपुर और व्यापार मण्डल जगदीशपुर की ओर से प्रकाशित करवाया गया है। इसमें लिखा गया है प्लाट लेने के लिए संपर्क कीजिए। बस फिर क्या था प्रतिष्ठित राष्ट्रीय अखबार में छपा विज्ञापन राजनीतिक मुद्दा बन गया। कांग्रेस के विधान परिषद सदस्य एवं गांधी परिवार के निकटतम दीपक सिंह ने ट्वीट कर अखबार में छपे विज्ञापन की कटिंग लगाई।

इसके बाद लिखा कि "एक जना देश बेचने का काम कर रहे हैं, और अभी स्मृति ईरानी जी को चुनाव जीते साल भर भी नहीं हुआ, अमेठी में बकायदा विज्ञापन देकर प्लाट बेंचने लगी। बाकी बिक्रियों का बदला तो जनता लेगी लेकिन मैडम ईरानी हम अमेठी वासी अब अमेठी नहीं बिकने देंगे।"

यह भी पढ़ें: पुलिस का तांड़व: CAA के विरोध में बैठी सैकड़ों महिलाओं पर बरसाया लाठी

ईरानी के निजी सचिव द्वारा कार्यवाही की मांग

एसपी डा. ख्याति गर्ग ने बताया कि अखबार में प्रकाशित विज्ञापन के तहत सांई ग्रीन सिटी द्वारा प्लाट खरीदने की अपील की गई है। उसमें कुछ वरिष्ठ जन प्रतिनिधियों का नाम और पदनाम का उल्लेख किया गया है। उस संदर्भ में सांसद स्मृति ईरानी के निजी सचिव विजय गुप्ता के जरिए हमें एक शिकायती पत्र मिला है, उसमें पुलिस कार्यवाही की मांग की गई थी। उसमें लिखा गया था बिना उनकी सहमति के नाम, पदनाम और फोटो का इस्तेमाल करते हुए प्लाट खरीदने की अपील की गई थी।

इस संदर्भ में थाना जगदीशपुर में अज्ञात के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर सांई ग्रीन सिटी के एमडी, उनके पार्टनर, प्रधान, लोकल पत्रकार जिन्होंने विज्ञापन डिजाइन और प्रकाशित किया गया और ट्वीटर से जो विज्ञापन शेयर किया गया सभी से जांच की जा रही है। एसपी ने कहा कि किसी भी पब्लिक फीगर का नाम पदनाम और उनकी फोटो को पूर्व अनुमति और रिटर्न सहमति के विज्ञापन में इस्तेमाल करना अपराध है। उन्होंने बताया कि सांई ग्रीन सिटी की ठेकेदारी और प्लाटिंग की एनओसी के सम्बंध में मेरे द्वारा एक रिपोर्ट डीएम कार्यालय को प्रेषित की जाएगी।

यह भी पढ़ें: यूपी में गंगा पार्क, गंगा मैदान, गंगा नर्सरी, गंगा तालाब स्थापित किए जाएगें

Shreya

Shreya

Next Story