ऐसा होगा भव्य राम मंदिर, यहां विराजेंगे रामलला, सामने आईं तस्वीरें

अयोध्या में कल यानी 5 अगस्त को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी राम मंदिर निर्माण के लिए भूमि पूजन करेंगे। इस दिन का सभी श्रद्धालुओं को बेसब्री से इंतजार है।

Ayodhya Ram Mandir

Ayodhya Ram Mandir

अयोध्या: अयोध्या में कल यानी 5 अगस्त को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी राम मंदिर निर्माण के लिए भूमि पूजन करेंगे। इस दिन का सभी श्रद्धालुओं को बेसब्री से इंतजार है। भूमि पूजन होने में बस कुछ ही घंटे शेष रह गए हैं। अयोध्या में बनने वाला राम मंदिर काफी भव्य होगा। इसके लिए 1989 में प्रस्तावित मंदिर के मॉडल में बदलाव कर इसे और भव्य बना दिया गया है। तो चलिए जानते हैं कि कैसा होगा भव्य राम मंदिर-

मंदिर के मुख्य शिखर की ऊंचाई होगी 161 फीट

पहले जहां मंदिर के मुख्य शिखर की ऊंचाई 128 फीट थी, अब यह 161 फीट करने का फैसला लिया गया है। इसके अलावा गर्भगृह के आसपास अब 5 गुंबद बनाए जाएंगे, जबकि पहले तीन गुंबद बनाए जाने थे। पांचों गुंबदों के नीचे के हिस्से में चार हिस्से होंगे और एक मुख्य शिखर होगा।

यह भी पढ़ें: UPSC 2019 Result: लड़कियों में प्रतिभा ने किया टॉप, पूरे जिले को है गर्व

दो एकड़ में तैयार होगा राम मंदिर

राम मंदिर का मॉडल तैयार करने वाले चीफ आर्किटेक्ट सोमपुरा के बेटे निखिल सोमपुरा ने बताया कि कुल भूमि 67 एकड़ है, लेकिन मंदिर केवल दो एकड़ में ही बनाया जाएगा। बाकी की 65 एकड़ की जमीन पर राम मंदिर परिसर का विस्तार किया जाएगा। जानकारी के मुताबिक, यह देश का सबसे भव्य मंदिर होगा।

यह भी पढ़ें: बाबरी मस्जिद पर कब्जा: ऐसे थे ये दिलेर साधु, बेखौफ उठाया था ये बड़ा कदम

राजस्थान के मकराना में संगमरमर के पत्थरों पर हो रही तराशी

राम मंदिर में 24 दरवाजों का चौखट होगा, जिसका संगमरमर के पत्थरों से निर्माण किया जाएगा। इन संगमरमर के पत्थरों पर राजस्थान के मकराना में तराशी हो रही है। राम मंदिर निर्माण के लिए लगभग चार लाख घन फीट पत्थर का उपयोग होगा। जिसमें से करीब लगभग 2.75 लाख घन फीट पत्थर भरतपुर के बंसी पहाड़पुर का सैंड स्टोन का होगा।

यह भी पढ़ें: बाबरी मस्जिद पर कब्जा: ऐसे थे ये दिलेर साधु, बेखौफ उठाया था ये बड़ा कदम

प्रथम तल पर होंगी राम दरबार की मूर्तियां

राम मंदिर प्रारूप के भू-तल वाले हिस्सों के पत्थरों की तराशी का काम पूरा हो चुका है। उन्होंने बताया कि राम मंदिर के भू-तल में सिंहद्वार, गर्भगृह, नृत्यद्वार, रंगमंडप बनेगा। जबकि प्रथम तल पर राम दरबार की मूर्तियों को स्थान दिया जाएगा।

यह भी पढ़ें: कोरोना से हुई महिला की मौत, स्वास्थ्य विभाग ने दूसरी महिला का शव भेज दिया

तीन से साढ़े तीन साल में तैयार होगा भव्य राम मंदिर

कहा जा रहा है कि मंदिर को बनने में तीन से साढ़े तीन साल का समय लग सकता है। इसके अलावा मंदिर निर्माण के लिए 10 करोड़ लोगों से मदद ली जाएगी। मंदिर तीन मंजिला होगा और यह वास्तुशास्त्र के हिसाब से बनाया जाएगा। 5 अगस्त को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा भूमि पूजन किए जाने के बाद मंदिर निर्माण का कार्य तेजी से शुरू किया जाएगा।

यह भी पढ़ें: राम मंदिर भूमि पूजन: पीएम मोदी के स्वागत के लिए तैयार अयोध्या, देखें तस्वीरें

देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App