×

कोरोना मरीज ने खोली स्वास्थ्य विभाग की कलई , डाॅक्टर नहीं जाते रोगी को देखने

अस्पताल में भर्ती इस कोरोना रोगी ने अस्पताल की दुर्व्यवस्था व सरकारी चिकित्सक की कार्यप्रणाली को लेकर सोशल मीडिया पर वीडियो पोस्ट किया है।

Aradhya Tripathi

By Aradhya Tripathi

Published on 30 Jun 2020 5:22 PM GMT

कोरोना मरीज ने खोली स्वास्थ्य विभाग की कलई , डाॅक्टर नहीं जाते रोगी को देखने
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

बलिया: जिले के एक कोरोना रोगी ने सरकारी अस्पताल की दुर्व्यवस्था की कलई खोलकर रख दी है। सरकारी अस्पताल में भर्ती कोरोना रोगी के बीमार होने के बाद भी चिकित्सक उसकी देखभाल व दवा देने नही जा रहे। उधर जिले में वैश्विक महामारी कोरोना का संक्रमण तेजी से फैल रहा है। संक्रमण फैलने के बाद भी सुरक्षा के उपाय के मामले में न तो आम लोग चौकसी बरतने को तैयार हैं और न ही प्रशासन ही अब कोई कदम उठाने के मूड में है।

कोरोना रोगी ने खोली अस्पताल व्यवस्थाओं की पोल

जिले के बसन्तपुर एल 1 स्थित सरकारी अस्पताल में भर्ती उभांव थाना क्षेत्र के अवाया ग्राम निवासी एक रोगी ने अस्पताल में सुविधाओं व व्यवस्था की कलई खोलकर सामने रख दी है। अस्पताल में भर्ती इस कोरोना रोगी ने अस्पताल की दुर्व्यवस्था व सरकारी चिकित्सक की कार्यप्रणाली को लेकर सोशल मीडिया पर वीडियो पोस्ट किया है। इस रोगी का दावा है कि जब से वह अस्पताल में भर्ती हुआ है , तभी से अब तक कोई चिकित्सक उसके पास नही आया। इस रोगी ने बताया कि भोजन लेकर आने वाले कर्मी से ही बीमारी को लेकर सूचना दी जाती है।

उन्होंने बताया कि अस्पताल में दवा का भी नितांत अभाव है। अस्पताल में केवल बुखार व गैस की ही दवा उपलब्ध है। रोगी का कहना है कि वह खांसी व सांस की बीमारी से पिछले तीन दिनों से पीड़ित है। लेकिन उसे दवा नही मिल पा रही है। अस्पताल की दुर्व्यवस्था को उजागर करते हुए रोगी ने बताया कि रोगियों को भोजन व नाश्ता तक नही मिल पा रहा। शौचालय व स्नान घर की भी स्थिति नरकीय है। अस्पताल के सभी रोगियों के लिये एक ही स्नान घर व शौचालय है।

ये भी पढ़ें- आंखों में नहीं लगेगा कभी चश्मा, बढ़ेगी रोशनी, सिर्फ करना होगा ये काम

इस बीच जिले में कोरोना का संक्रमण तेजी से पांव पसार रहा है। जिले में मंगलवार को कोरोना संक्रमितों के 16 और नये केस सामने आये। जिला मुख्यालय पर लक्ष्मी मार्केट में आज 9 केस सामने आने से हड़कंप मच गया। इसके अलावा नगरा में एक , बैरिया में एक, मनियर में 3 और बलिया शहर में 2 नये केस है। इस तरह जिले में कुल संक्रमितों की कुल संख्या अब 128 हो गई है। आज राहत भरी खबर यह रही कि 15 संक्रमित रोगी आज स्वस्थ होकर घर चले गये। इस तरह एक्टिव केस 38 हो गए हैं ।

जिले में जारी कोरोना का कहर

मनियर थाना क्षेत्र के मानिकपुर गांव में एक ही परिवार के तीन लोगों की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद क्षेत्र में हड़कंप मच गया। इसमें एक महिला सहित उसके दो नाबालिक बच्चे हैं। दिल्ली में परिवार के एक सदस्य की मौत के बाद यह परिवार गांव आया था। ग्रामीणों द्वारा प्रशासन को सूचित किया गया, फिर स्वास्थ्य विभाग ने पूरे परिवार का सैंपल लेकर जांच के लिए भेजा। जांच में एक महिला उम्र करीब 28 वर्ष एवं उसके दो बच्चे उम्र 8 एवं 6 वर्ष की कोरोना रिपोर्ट पाजिटिव आई है। लक्ष्मी मार्केट वाले संक्रमित लोग 24 जून को पॉजिटिव आए।

ये भी पढ़ें- यहां धरती ने उगली बच्चों की खोपड़ियां, नजारा देख मचा हड़कंप, खौफ में इलाका

विजयीपुर नई बस्ती निवासी व सोना कारीगर के संपर्क में आने से पॉजिटिव पाए गए हैं। नगरा कस्बा वाला संक्रमित युवक अपने परिवार सहित 18 जून को दिल्ली से आया था। मंगलवार को कोरोना पॉजिटिव मिले व्यक्ति के साथ जिला मुख्यालय व आसपास के इलाके में अब कुल 31 पॉजिटिव रोगी हो गए हैं। शहर से सटे तीखमपुर के परिखरा और दुबहड़ विकास खंड के ओझा के छपरा में कुल सात मरीज हैं। जिनमें एक ही परिवार के पांच मरीज भी शामिल हैं। इसके अलावा शहर के विजयीपुर, बनकटा व अमृतपाली में भी कोविड-19 के कुल चार मरीज अब तक सामने आ चुके हैं।

ये भी पढ़ें- प्रोजेक्ट मैनेजर के खिलाफ सरकार को भेजा पत्र, कराए गए कार्यों की होगी जांच

शहर कोतवाली के उमरगंज में छह व चंद्रशेखरनगर में एक, नवरंग मार्केट में दो मरीज आ चुके हैं। जिले में कोरोना का संक्रमण तेजी से फैलने के बावजूद आम लोग बेखौफ दिख रहे हैं । जिला मुख्यालय से लेकर ग्रामीण क्षेत्रों तक लोग पुराने ढर्रे पर जीवनचर्या का संचालन करते दिखाई दे रहे हैं । चुनिंदा लोग ही मास्क पहने व सोशल डिस्टेंस का पालन करते दिखाई दे रहे हैं । जिला प्रशासन इस पूरे मामले में मूकदर्शक बना हुआ है । हाट स्पॉट क्षेत्रों में भी लोग बेरोकटोक आवाजाही कर रहे हैं ।

रिपोर्ट- अनूप कुमार हेमकर

Aradhya Tripathi

Aradhya Tripathi

Next Story