लॉकडाउन: सोनिया के बयान पर BJP का पलटवार, घटिया राजनीति कर रही कांग्रेस

कांग्रेस वर्किंग कमेटी की गुरुवार को बैठक हुई। कोरोना और लॉकडाउन की वजह से यह बैठक वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए हुई। इस दौरान कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी ने मोदी सरकार पर जमकर निशाना साधा।

नई दिल्ली: कांग्रेस वर्किंग कमेटी की गुरुवार को बैठक हुई। कोरोना और लॉकडाउन की वजह से यह बैठक वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए हुई। इस दौरान कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी ने मोदी सरकार पर जमकर निशाना साधा। सोनिया गांधी ने कहा कि 21 दिन का लॉकडाउन जरूरी था, लेकिन इसे अनियोजित तरीके से लागू किया गया। लॉकडाउन के कारण लाखों प्रवासी मजदूरों का उत्पीड़न हुआ।

अब सोनिया गांधी के इस बयान पर बीजेपी ने तीखा पलटवार किया है। बीजेपी के पूर्व अध्यक्ष और केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने सोनिया के बयान पर प्रतिक्रिया दी है। उन्होंने ट्वीट कर कहा कि पीएम नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में कोरोना वायरस से लड़ने के भारत के प्रयासों की प्रशंसा देश में ही नहीं विश्व स्तर पर प्रमुख रूप से की जा रही है।

यह भी पढ़ें…कोरोना से जंग: मेरठ की महिला पुलिसकर्मी कर रहीं ये काम, आप भी करेंगे तारीफ

उन्होंने कहा कि कोविड-19 को हराने के लिए 130 करोड़ भारतीय एकजुट हैं। फिर भी कांग्रेस घटिया राजनीति कर रही है। यह ऐसा समय है जब उन्हें पहले राष्ट्र हित के बारे में सोचना चाहिए और लोगों को गुमराह करना बंद करना चाहिए।

‘सोनिया का बयान संवेदनहीन’

बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने सोनिया गांधी के बयान पर पलटवार किया है। उन्होंने कहा कि सम्पूर्ण विश्व में प्रधानमंत्री नरेन्द्र जी के नेतृत्व वाली भारत सरकार के प्रयासों की सराहना हो रही है। प्रधानमंत्री सभी राज्य सरकारों को साथ लेकर टीम इंडिया के रूप में इस लड़ाई को लड़ रहे हैं। कठिन समय में कांग्रेस को एक जिम्मेदार राजनीतिक दल के रूप में काम करना चाहिए।

यह भी पढ़ें…निजामुद्दीन मरकज केस में जारी हो ये फतवा, मशहूर गीतकार ने बताई मांग की वजह

कांग्रेस पर निशाना साधते हुए नड्डा ने कहा कि आज जब सम्पूर्ण देश एकजुट होकर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी के नेतृत्व में कोविड- 19 के खिलाफ लड़ाई लड़ रहा है, उस समय कांग्रेस की अध्यक्ष सोनिया गांधी द्वारा दिया गया बयान संवेदनहीन और अशोभनीय है। यह राजनीति करने का नहीं, देश की सेवा करने का समय है। हमें एकजुट होकर लड़ना है।

राहुल और प्रियंका ने साधा निशाना

राहुल गांधी ने भी मजदूरों के पलायन को लेकर मोदी सरकार पर निशाना साधा था। उन्होंने कहा था कि हम दो महीनों से कोरोना पर नजर बनाए हुए हैं और विशेषज्ञों से बात कर रहे हैं। दुनिया का कोई ऐसा देश नहीं है, जो मजदूरों के रहने, खाने और उनके राशन की व्यवस्था किए बिना लॉकडाउन का एलान कर देता है।

यह भी पढ़ें…कोरोना से अमेरिका में हालात बेकाबू: यहां डर से प्रेग्नेंट महिलाएं कर रही ये काम…

प्रियंका गांधी वाड्रा ने उत्तर प्रदेश सरकार पर निशाना साधते हुए कहा था कि मजदूरों के पलायन की तस्वीर को देखकर दिल दुखता है। हमारे कार्यकर्ता इन मजदूरों को खाना और दवाएं दे रहे हैं। इन मजदूरों को अमानवीय तरीके से क्वारनटीन किया जा रहा है और इन पर कीटनाशक का छिड़काव किया जा रहा है।