मेरठ दक्षिण के भाजपा विधायक डॉ. सोमेंद्र तोमरः विधायक नहीं, विकास पुरुष

भाजपा का साधारण कार्यकर्ता भी किसी पद पर विराजमान हो सकता है। वाम दलों और भाजपा को छोड़कर अन्य राजनीतिक दलों में आंतरिक लोकतंत्र न के बराबर है। अधिकांश क्षेत्रीय दलों की स्थिति वैसी ही है जैसी राष्ट्रीय स्तर पर कांग्रेस की है। ऐसे दलों में नेता या उसका परिवार ही पार्टी का पर्याय होता है।

मेरठ दक्षिण के भाजपा विधायक डॉ. सोमेंद्र तोमरः विधायक नहीं, विकास पुरुष

मेरठ दक्षिण के भाजपा विधायक डॉ. सोमेंद्र तोमरः विधायक नहीं, विकास पुरुष

सुशील कुमार,मेरठ।

मेरठ जनपद के मेरठ दक्षिण विधानसभा से भाजपा विधायक डॉ. सोमेंद्र तोमर क्षेत्र में विकास पुरुष के नाम से जाने जाते हैं। क्षेत्र के लोगों का कहना है कि पिछले करीब चार सालों में मेरठ दक्षिण विधानसभा क्षेत्र का जितना विकास हुआ है। उतना पहले कभी नहीं हुआ। इसका श्रेय डॉ. सोमेंद्र तोमर को जाता है। जगह-जगह लगे शिलान्यास पट्ट क्षेत्र के विकास में डॉ. सोमेंद्र तोमर के योगदान की गवाही भी देते हैं।

मेरठ में महेन्द्र सिंह के घर तीन जुलाई १९८० के जन्मे डॉ. सोमेंद्र तोमर स्नातकोत्तर,पीएचडी हैं। इनका विवाह 14 अप्रैल 2004 को अंजलि तोमर के साथ हुआ, जिनसे इनके दो पुत्र और एक पुत्री हैं।

देश का प्रतिनिधित्व कर चुके हैं

डॉ. सोमेंद्र तोमर अमेरिका में पिछले साल इंटरनेशनल विजिटर लीडरशिप कार्यक्रम में भारत का प्रतिनिधित्व भी कर चुके हैं। भौतिक विज्ञान में पीएचडी सोमेंद्र तोमर स्कूल-कॉलेजों में विभिन्न पुरस्कारों से सम्मानित होते रहे हैं।

वह इस समय पंचायती राज समिति उत्तर प्रदेश के सभापति भी हैं। इस कार्यक्रम के लिए चयनित होने वाले वह उत्तर प्रदेश से अकेले विधायक हैं।

मेरठ दक्षिण के भाजपा विधायक डॉ. सोमेंद्र तोमरः विधायक नहीं, विकास पुरुष

यही नहीं सोमेंद्र तोमर को राजनीतिक एवं सामाजिक क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य करने के लिए पुणे में आयोजित युवा संसद द्वारा आदर्श युवा विधायक पुरस्कार से सम्मानित भी किया जा चुका है।

डॉ. सोमेंद्र तोमर कहते हैं, मुझे शुरू से ही अध्ययन और समाज सेवा में विशेष रुचि रही है। यही वजह रही कि विधायक बनने के बाद मेरे द्वारा क्षेत्र के लोंगो की तकलीफों को दूर करने और क्षेत्र का विकास करने में अपनी तरफ से कोई भी कमी नही छोड़ी गई है।

सपना है देश में सबसे आगे हो मेरा क्षेत्र

मेरा बस यही सपना है कि विकास के मामले में मेरा क्षेत्र उत्तर प्रदेश में ही नही बल्कि देश में सबसे आगे हो। विधायक बनने के बाद मैने क्या काम किए हैं। इस बारे में आप मेरे क्षेत्र में घूम कर खुद देख सकते हो। डॉ. सोमेंद्र तोमर कहते है,मेरी जानकारी यदि कोई समस्या आती है तो फिर मैं उस समस्या का समाधान करे बगैर चैन से नही बैठता।

वे आगे कहते हैं, अभी हाल ही का किस्सा में आपको सुनाता हूं। राजकीय कन्या इंटर कॉलेज, हापुड़ रोड में छात्राओं की संख्या को देखते हुए कक्षाओं की संख्या कम थी जिस कारण छात्राओं को काफी कठिनाइयों का सामना करना पड़ता था इसी के चलते स्कूल की प्राचार्या डॉ.पूनम गोयल जी ने मेरे से मुलाकात की और मुझे इस समस्या से अवगत कराया।

समस्या की गंभीरता को दृष्टिगत रखते हुए मेरे द्वारा तुरन्त राजकीय कन्या इंटर कॉलेज, हापुड़ रोड में 10 अतिरिक्त कक्षों के निर्माण का प्रस्ताव निदेशक अल्पसंख्यक कल्याण को प्रेषित किया व इस हफ्ते दस अतिरिक्त कक्षा कक्षों का शिलान्यास किया। इन दस अतिरिक्त कक्षा कक्षों का निर्माण अल्पसंख्यक कार्य मंत्रालय, भारत सरकार की प्रधानमंत्री जन विकास कार्यक्रम के अन्तर्गत किया जाएगा।

मेरठ से हवाई उड़ान जल्द

मेरठ से हवाई उड़ान की मांग बहुत पुरानी है। मेरी कोशिश जल्द से जल्द क्षेत्र के लोंगो की इस मांग को पूरा कराने की है। इस मामले में मुख्यमंत्री से भी मिल चुका हूं। मुख्यमंत्री ने इस पर कार्रवाई का निर्देश भी दिया है।

मेरठ दक्षिण के भाजपा विधायक डॉ. सोमेंद्र तोमरः विधायक नहीं, विकास पुरुष

जल्द ही शहर के लोगों की मेरठ से हवाई उड़ान की मांग पूरी होने वाली है। मेरठ में शताब्दीनगर क्षेत्र में खेल विश्वविद्यालय की स्थापना के प्रयासों में भी लगा हूं।

उम्मीद करता हूं कि अगले सत्र से विश्वविद्यालय चालू हो जाएगा। यही नही मेरठ में ईएसआई हॉस्पिटल के निर्माण के लिए भी मेरी कोशिशें जारी हैं। इस के लिए केन्द्र और प्रदेश सरकार की ओर से कार्रवाई शुरु भी करा दी है।

गगोल फफूंडा में कॉलेज का प्रयास

गगोल-फफूंडा में कोई कॉलेज नहीं है। सरकार से गगोल और फफूंडा में राजकीय इंटर कॉलेज  की स्थापना की भी कोशिशों में लगा हूं। क्षेत्र के लोगों की यह मांग भी भी पूरा करा कर ही चैन लूंगा। इसके अलावा मेरे क्षेत्र में पवित्र गगोल सरोवर है, लेकिन सालों से उपेक्षित है।

इसे भी पढ़ें मेहनौन से भाजपा विधायक विनय द्विवेदीः विधायक नहीं, तो डॉक्टर होते

गगोल तीर्थ के विकास के लिए कुछ नहीं हो रहा। मेरी कोशिशों से गगोल सरोवर सौंदर्यीकरण को लेकर भी काम शुरू हो चुका है। इसके लिए एक करोड़ की योजना स्वीकृत हो चुकी है। बहुत जल्द गगोल सरोवर बदला हुआ दिखेगा।

जनता की अपेक्षाएं  जन प्रतिनिधियों से लगातार बढ़ती जा रही है। इससे आप कितनी दिक्कत महसूस करते हैं। संवाददाता के इस सवाल पर डॉ. सोमेंद्र तोमर इतना ही कहते हैं, अरे अपने जन प्रतिनिधि से जनता अपेक्षाएं नहीं रखेगी तो फिर किससे रखेगी। इसमें दिककत वाली क्या बात है। आखिर हमें विधायक बनाने वाली जनता ही तो है।

अब सब बदल गया

नौकरशाही आपके कामों में कितनी मददगार है या कितना रोड़ा अटकाती है। नौकरशाही को लेकर आपकी क्या राय है। संवाददाता के इस सवाल का तपाक से जवाब देते हुए डॉ. सोमेंद्र तोमर ने कहा कि पहले अटकाते होंगे रोड़ा, लेकिन अब सरकार बदल चुकी है तो अधिकारियों का भी काम करने का ढर्रा बदल चुका है।

अब अधिकारियों के लिए जनता के कामों में रोड़ा अटकाना आसान नहीं है। योगी सरकार में उन्हें जनता का काम करना ही पड़ेगा। मेरा अधिकारियों से साफ कहना है कि सरकारी धन का दुरुपयोग होने से बचाएं और योजनाओं का लाभ शत प्रतिशत पात्र व्यक्तियों को पहुंचाएं।

इसे भी पढ़ें सिवालखास से विधायक जितेंद्र पाल सिंह उर्फ़ बिल्लूः मेरी एक ही पूंजी – कठोर परिश्रम

राजनीति में नहीं आते तो दूसरा काम क्या करते। डॉ. सोमेंद्र तोमर इस सवाल पर तनिक मुस्कारते हुए कहते हैं,क्या करता जनता की सेवा ही करता। शिक्षण संस्थान के जरिये समाज को शिक्षित करने का काम करता।

असली लोकतंत्र यहां

राजनीतिक दलों में आतंरिक लोकतंत्र कायम है क्या? इस पर आपकी क्या राय है। संवाददाता के इस सवाल पर तपाक से जवाब देते हुए डॉ. सोमेंद्र तोमर कहते हैं, केवल भाजपा में आंतरिक लोकतंत्र है, अन्य दलों में नहीं।

भाजपा का साधारण कार्यकर्ता भी किसी पद पर विराजमान हो सकता है। वाम दलों और भाजपा को छोड़कर अन्य राजनीतिक दलों में आंतरिक लोकतंत्र न के बराबर है। अधिकांश क्षेत्रीय दलों की स्थिति वैसी ही है जैसी राष्ट्रीय स्तर पर कांग्रेस की है। ऐसे दलों में नेता या उसका परिवार ही पार्टी का पर्याय होता है।

आप लोग जनता से किस तरह की अपेक्षा करते हैं। जनता हमसे अपेक्षाएं रखती हैं तो हमारी भी जनता से केवल यही एक अपेक्षा है कि जो अपना प्यार,आर्शीवाद,सहयोग जनता ने मुझे अब तक दिया है उसे यूं ही आगे भी बरकरार रखे।

मेरा भी जनता से वायदा है कि उनका यह भाई, बेटा और दोस्त हमेशा उनके सुख-दुःख में साथ खड़ा रहेगा। राजनीति के बाद सबसे अधिक अपना समय किस काम में बिताते हैं या बिताना चाहेंगे अगर समय मिले तो।

इसे भी पढ़ें सरेनी से भाजपा विधायक धीरेन्द्र बहादुर सिंहः क्षेत्र व जनता का विकास सबसे बड़ी खुशी

सवाददाता के इस सवाल पर डॉ. सोमेंद्र तोमर पहले मुस्कराते हैं फिर तनिक गंभीर होकर कहते हैं, जनता की सेवा और क्या। क्योंकि मुझे जनता की सेवा करने में जो संतोष और सुख की अनुभूति मिलती है वह किसी और काम करने से नहीं मिलती।

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App