सिवालखास से विधायक जितेंद्र पाल सिंह उर्फ़ बिल्लूः मेरी एक ही पूंजी – कठोर परिश्रम

जितेंद्र पाल सिंह कहते हैं मैं शुरू से ही काम ज्यादा, बातें कम पर यकीन करता हूं। जो भी करता हूं, पूरी ईमानदारी और मेहनत से करता हूं क्योंकि मैं जानता हूं कि इज्जत और तारीफ मांगी नहीं जाती, कमाई जाती है।

सिवालखास से विधायक जितेंद्र पाल सिंह उर्फ़ बिल्लूः मेरी एक ही पूंजी – कठोर परिश्रम

सिवालखास से विधायक जितेंद्र पाल सिंह उर्फ़ बिल्लूः मेरी एक ही पूंजी – कठोर परिश्रम

सुशील कुमार, मेरठ

जितेंद्र पाल सिंह उर्फ़ बिल्लू उत्तर प्रदेश की मेरठ जनपद की सिवालखास विधान सभा सीट से विधायक हैं। जितेंद्र पाल सिंह उर्फ़ बिल्लू भारतीय जनता पार्टी के सदस्य हैं। जितेंद्र पाल सिंह उर्फ़ बिल्लू कहते हैं, मैं राजनीति में कमाने नही जनसेवा के लिए आया हूं।

राजनीति में अगर नहीं होता तो कृषि क्षेत्र में होता या फिर शिक्षा में होता। लेकिन जहां भी होता कठोर परिश्रम कर लोगों की निस्वार्थ सेवा करता क्योंकि कठोर परिश्रम ही मेरी पूंजी है।

मुकद्दर से हासिल करना सीखो

यहां बता दें कि राजनीति में आने से पहले जितेंद्र पाल सिंह उर्फ़ बिल्लू चौधरी इलम सिंह इंटर कॉलेज में प्रधानाचार्य थे। आगे की ख्वाहिशों का जिक्र करने पर शायराना अंदाज में वे कहते हैं, ख्वाहिशें नहीं दोस्तों जिद करना सीखो….जो लिखा नहीं मुकद्दर में उसे हासिल करना सीखो….,

सिवालखास से विधायक जितेंद्र पाल सिंह उर्फ़ बिल्लूः मेरी एक ही पूंजी – कठोर परिश्रम

17 अक्टूबर 1969 में चौधरी इलमसिंह के घर जन्मे जितेंद्र पाल सिंह उर्फ़ बिल्लू ने स्नातकोत्तर, बीएड तक की पढ़ाई पढ़ी है। इसलिए उनकी पठन-पाठन में विशेष अभिरुचि है। 17 जून 1990 को जितेंद्र पाल सिंह उर्फ़ बिल्लू ने कविता सिंह से विवाह किया, जिनसे उनके एक पुत्र, दो पुत्रियां हैं।

जितेंद्र पाल सिंह कहते हैं मैं शुरू से ही काम ज्यादा, बातें कम पर यकीन करता हूं। जो भी करता हूं, पूरी ईमानदारी और मेहनत से करता हूं क्योंकि मैं जानता हूं कि इज्जत और तारीफ मांगी नहीं जाती, कमाई जाती है।

भोला झाल पर्यटक स्थल बनेगा

वह कहते हैं आज मैं जो कुछ भी हूं इसके लिए मैं अपनी क्षेत्र की जनता व पार्टी नेतृत्व का आभारी हूं। जिसने मुझे यहां तक पहुंचाया है। बकौल, जितेंद्र पाल सिंह बीजेपी ही एकमात्र ऐसी पार्टी है जहां आंतरिक लोकतंत्र कायम है। इस पार्टी में कोई बड़ा-छोटा नही है। यहां मामूली सा कार्यकर्ता भी पार्टी में बड़े से बड़े पद पर जाने का सपना देख सकता है।

इसे भी पढ़ें चकिया के विधायक शारदा प्रसादः राजनीति में न आता तो व्यापारी होता

विधायक के रूप में उपलब्धियों के सवाल पर जितेद्र सिंह कहते हैं, भोला झाल को पर्यटक स्थल बनाने के लिए प्रयासरत हूं। इसके लिए पर्यटन विभाग ने उनके माध्यम से एक करोड़ का प्रस्ताव भेजा था।

धन स्वीकृत हो गया है। कोरोना के चलते कार्य में विलंब हुआ है। बहुत जल्द भोला झाल पर्यटक स्थल बनेगा।

कांवड़ मार्ग जल्द

इसके अलावा मेरे विधानसभा क्षेत्र में कावंड़ पटरी मार्ग का निर्माण भी जल्दी ही शुरु होगा। शासन से तकनीकी स्वीकृति भी आ चुकी है। यही नही पुरा महादेव-सलावा मार्ग के लिए सिंचाई विभाग से 11 करोड़ पास कराए हैं। खिर्वा-सरधना-छुर्र-मुल्हैड़ा-बपारसी मार्ग का भी नवीनीकरण कराने के लिए भी  प्रयासरत हूं।

सिवालखास से विधायक जितेंद्र पाल सिंह उर्फ़ बिल्लूः मेरी एक ही पूंजी – कठोर परिश्रम

जॉनी में किसान कल्याण केन्द्र खुलवाया जाएगा। इसके लिए कृषि विभाग से एक करोड़ का धन भी स्वीकृत कराया है। जहां तक गन्ना किसानों की बात है दौराला मिल का 85 प्रतिशत और किनौनी मिल का भी अधिक से अधिक भुगतान कराया है। आने वाले सत्र से पूर्व गन्ने का पूर्ण भुगतान कराएंगे।

खेल के मैदान तैयार होंगे

इसके अलावा मेरे विधानसभा क्षेत्र में बच्चों के खेलने के मैदान का अभाव है। जो हैं उनकी स्थिति ठीक नही है। इसके लिए पांचली में स्टेडियम का निर्माण कराया जा रहा है। जिनकी हालत खराब है उन खेल के मैदानों का नवीनीकरण भी कराया जाएगा।

इसे भी पढ़ें मिल्कीपुर से भाजपा विधायक बाबा गोरखनाथः दुखी पीड़ितजन का सहारा

यही नही ब्रिटिश शासनकाल के भोला बिजली घर का  नवीनीकरण कराया जा रहा है। जहां पर पुरानी मशीनें लगी हैं। इनके कार्य करने की क्षमता कम, खर्चा अधिक है। सिवालखास में कन्या डिग्री कालेज का निर्माण जल्दी से जल्दी हो सके इसके लिए भी मैं प्रयासरत हूं।

चुनाव लगातार महंगे होते जा रहे हैं, इस पर आपकी का राय के सवाल के जवाब में जितेंद्र पाल सिंह उर्फ़ बिल्लू कहते हैं, यकीनन, यह चिंता की बात है। इसके लिए सरकार को ही नही हम सबको भी सोचना पड़ेगा।

अपेक्षाओं से दिक्कत नहीं

जनता की अपेक्षाएं जन प्रतिनिधियों से लगातर बढ़ती जा रही है। इससे आप कितनी दिक्कते महसस करते हैं। इस सवाल पर जितेंद्र पाल सिंह उर्फ़ बिल्लू कहते हैं, हम जन-प्रतिनिधि हैं।

जाहिर है हमारे क्षेत्र के लोगो की हमसे कई अपेक्षाएं होगी। और हमारा यह दायित्व भी बनता है कि हम क्षेत्र के लोंगो की समस्याओं को दूर कर उनकी अपेक्षाओं पर खरे उतरे। इसमें दिक्कत वाली कोई बात नही है।

सिवालखास से विधायक जितेंद्र पाल सिंह उर्फ़ बिल्लूः मेरी एक ही पूंजी – कठोर परिश्रम

राजनीति के बाद सबसे अधिक अपना समय किस काम में बिताते हैं या बिताना चाहेंगे अगर समय मिले तो। इस सवाल पर जितेंद्र पाल सिंह उर्फ़ बिल्लू कहते हैं, अव्वल तो राजनीति से फुरसत ही नहीं मिलती। लेकिन अगर कभी मिलती भी है तो खेत जोतने खेतों पर पहुंच जाता हूं।

कोई रोड़ा नहीं

नौकरशाही आपके कामों में कितनी मददगार है या रोड़ा अटकाती है। नौकरशाही को लेकर आपकी क्या राय है। जितेंद्र पाल सिंह उर्फ़ बिल्लू कहते है। नौकरशाह जनता के सेवक है। हमारी सरकार में कोई नौकरशाह जनता के हितों से जुड़े कामों पर रोड़ा नहीं अटका सकता।

इसे भी पढ़ें मेहनौन से भाजपा विधायक विनय द्विवेदीः विधायक नहीं, तो डॉक्टर होते

आप लोग जनता से किस तरह की अपेक्षा करते हैं के सवाल पर मुस्कारते हुए जितेंद्र पाल सिंह उर्फ़ बिल्लू कहते हैं,बस यहीकि उन्होंने जो प्यार मुझ जैसे मामूली आदमी को अब तक दिया है आगे भी बरकरार रहे।

मेरा भी क्षेत्र की जनता से वादा है कि सुख हो या दुःख हमेशा उनके साथ खड़ा रहूंगा। मेरे घर के दरवाजे 24 घंटे आम जनता के लिए खुले हैं और आगे भी खुले रहेंगे।

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App