भाजपा का सदस्यता अभियान 6 जुलाई से

पार्टी मुख्यालय पर सदस्यता के सिललिले में लखनऊ आए भाजपा के उपाध्यक्ष और राष्ट्रीय सदस्यता प्रमुख शिवराज सिंह चैहान ने प्रदेश पदाधिकारियों के साथ बैठक कर आगामी रणनीति तय की। चैहान ने बताया कि लोकसभा चुनाव के बाद जहां विपक्ष हताश और निराश है वहीं भाजपा अपने लक्ष्य की तरफ बढ रही है।

bjp

लखनऊ: तीन साल बाद होने वाले यूपी विधानसभा चुनाव के पहले भाजपा 10 लाख पार्टी सदस्य बनाएगी। सदस्यता अभियान निशुल्क होगा। पार्टी का लक्ष्य विधानसभा चुनाव में 50 प्रतिशत से अधिक वोट पाने का है। सदस्यता अभियान 6 जुलाई से प्रारम्भ होकर 11 अगस्त तक चलेगा। बस स्टेशन रेलवे स्टेशन माल्स और बाजारों में स्टाल लगाकर सदस्यता अभियान चलाया जाएगा।

ये भी दखें : अमेरिका-ईरान में युद्ध की आशंका, भारत ने लिया ये बड़ा फैसला

आज यहां पार्टी मुख्यालय पर सदस्यता के सिललिले में लखनऊ आए भाजपा के उपाध्यक्ष और राष्ट्रीय सदस्यता प्रमुख शिवराज सिंह चैहान ने प्रदेश पदाधिकारियों के साथ बैठक कर आगामी रणनीति तय की। चैहान ने बताया कि लोकसभा चुनाव के बाद जहां विपक्ष हताश और निराश है वहीं भाजपा अपने लक्ष्य की तरफ बढ रही है। पार्टी का लक्ष्य जिन राज्यों में उसकी सरकार नहीं है उन राज्यों में सरकार बनाने का है। संगठन का मूलमंत्र है ‘सर्वस्पर्श भाजपा, सर्वव्यापी भाजपा’।

ये भी दखें : रामनाईक ने पांच साल में केवल 22 दिन अवकाश लिया

उन्होंने बताया कि यूपी के 75 जिलों में संगठन के दृष्टिकोण से 94 जिले हैं। इन सभी जिलों में 1495 मंडल और 15430 शक्ति केन्द्रों के अलावा 163196 पोलिंग बूथों पर पार्टी कार्यकर्ता मौजूद रहेगें। इसके लिए कार्ययोजना तैयार की जा रही है। 50 सदस्य बनाए जाने पर एक सक्रिय सदस्य बनाया जाएगा।

ये भी दखें : अमेठी में BJP के खिलाफ वोट करने वालों के लिए ईरानी ने कही दिल को छू लेने वाली ये बात

शिवराज सिंह चैहान ने कहा कि समाज के हर वर्ग के लोगों को भाजपा से जोड़ने का लक्ष्य है। इसी तरह 2015 में सदस्यता अभियान चलाया गया था जिसमें 1 करोड़ सदस्यों के साथ भाजपा दुनिया की सबसे बड़ी पार्टी बनी थी। इसका लाभ भाजपा को चुनाव में मिल चुका है।

सदस्यता अभियान के लिए 1 से 5 जुलाई तक मंडल बैठकें सम्पन्न होंगी। सदस्यता अभियान को लेकर 3 चरण की रणनीति बनी है। यूपी में भाजपा के 94 संगठात्मक जिले हैं। इन सभी जिलों 10 लाख बूथों पर सदस्यता अभियान चलेगा। सक्रिय सदस्य बनने के लिए हर कार्यकर्ता को 50 सामान्य सदस्य बनवाना होगा। यूपी में 1 करोड़ 80 लाख सदस्य बनेंगे, जिसमे कम से कम 20 प्रतिशत नए सदस्य बनाने का लक्ष्य है। मिसकॉल कराकर सदस्य बनाएंगे, फिर उसका सत्यापन भी होगा।