Top

यहां पकड़ी गई सामूहिक नकल, परीक्षा हुई रद्द, कॉलेज पर लाखों का जुर्माना

ग्रेटर नोएडा के आईटीएस कॉलेज में परीक्षा के दौरान सभी 200 परीक्षार्थियों को मोबाइल फोन की मदद से परीक्षा देते हुए पकडा गया है।

Newstrack

NewstrackBy Newstrack

Published on 9 Sep 2020 5:45 PM GMT

यहां पकड़ी गई सामूहिक नकल, परीक्षा हुई रद्द, कॉलेज पर लाखों का जुर्माना
X
यहां पकड़ी गई सामूहिक नकल, परीक्षा हुई रद्द, कॉलेज पर लाखों का जुर्माना
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लखनऊ: देश के होनहार मैनेजमेंट गुरु पढ-लिखकर नहीं बल्कि सामूहिक तौर पर नकल कराकर तैयार किए जा रहे हैं। इसका भांडा बुधवार को ग्रेटर नोएडा में परीक्षा के दौरान फूटा। ग्रेटर नोएडा के आईटीएस कॉलेज में परीक्षा के दौरान सभी 200 परीक्षार्थियों को मोबाइल फोन की मदद से परीक्षा देते हुए पकडा गया है। धांधली का खुलासा होने पर डॉ एपीजे अब्‍दुल कलाम प्राविधिक विश्‍वविद़यालय के कुलपति प्रो विनय पाठक ने परीक्षा रद करने और कॉलेज प्रबंधन पर पांच लाख रुपये का जुर्माना लगाया है।

ये भी पढ़ें: फिर नई शरारत में जुटा चीन, बॉम्बर्स की तैनाती के साथ युद्धाभ्यास भी

सामूहिक नकल पकडे जाने की पुष्टि

कोरोना महामारी फैलने की वजह से पहले ही शिक्षण संस्‍थानों में परीक्षा आयोजित करने के नियम शिथिल किए गए हैं केवल अंतिम वर्ष की परीक्षाएं ही आयोजित कराई जा रही हैं लेकिन ऐसा प्रतीत होता है कि निजी शिक्षण संस्‍थान कोरोना काल का बेजा फायदा उठाकर अपनी रैंकिंग सुधारने में जुट गए हैं। बुधवार को सामूहिक नकल का मामला ग्रेटर नोएडा के आईटीएस कॉलेज में पकडा गया है। डॉ एपीजे अब्‍दुल कलाम प्राविधिक विश्‍वविद़यालय ने भी सामूहिक नकल पकडे जाने की पुष्टि की है।

विश्‍वविद़यालय प्रशासन ने बताया कि शिक्षण सत्र 2020 की परीक्षा के दौरान आई टी एस कालेज ग्रेटर नोयडा परीक्षा केंद्र पर मोबाइल फोन के माध्यम से सामूहिक नकल का मामला पकड़ा गया है। ये छात्र एमबीए पाठ्यक्रम के हैं और इनकी कुल संख्या लगभग 200 है। सामूहिक नकल की पुष्टि होने पर विश्‍वविद़यालय कुलपति के निर्देश पर तत्काल ही इस परीक्षा केंद्र की सभी परीक्षाएं निरस्‍त कर दी गई हैं। परीक्षा केंद्र पर बुधवार को तीन विष्‍यों की परीक्षा का आयोजन किया गया था।

तीनों परीक्षाओं को दोबारा आयोजित कराया जाएगा

बुधवार को आयोजित तीनों परीक्षाओं को दोबारा आयोजित कराया जाएगा। नई परीक्षा तिथि जल्द घोषित की जाएगी। विश्‍वविद़यालय प्रशासन ने इसे अक्षम्‍य अपराध मानते हुए कॉलेज प्रबंधन पर भी यूनिवर्सिटी के नियमों के तहत पांच लाख रुपये का जुर्माना लगाया है। इस परीक्षा केंद्र में होने वाली आगामी परीक्षाओं के लिए जीएल बजाज कालेज, ग्रेटर नोयडा को सेंटर निर्धारित किया गया है। सभी छात्रों को इसकी सूचना मोबाइल फोन मैसेज के जरिये दी गई है। नए परीक्षा केंद्र का निर्धारण आईटीएस कॉलेज के निकट स्थित होने के कारण किया गया है, जिससे छात्र छात्राओं को असुविधा न हो ।

ये भी पढ़ें: हर साल दुनियाभर में 8 लाख लोग करते हैं खुदकुशी, जानिए UP का हाल

विश्‍वविद़यालय प्रशासन ने यह भी ऐलान किया है कि सभी परीक्षा केंद्रों की निगरानी बढाई जा रही है और कॉलेज प्रबंधकों को भी चेतावनी दी गई है कि कोरोना महामारी की वजह से जो नियम शिथिल किए गए हैं उनका बेजा फायदा उठाने की कोशिश न करें। इससे शिक्षण संस्‍थानों की छवि धूमिल होती है और नकल कर परीक्षा उत्‍तीर्ण करने वाले छात्र- छात्राओं को जीवन की वास्‍तविक परीक्षा में फेल होना पडता है।

अखिलेश तिवारी

ये भी पढ़ें: Rapper Raftaar कोरोना पॉजिटिव, बोले- ये सिर्फ तकनीकी गड़बड़ी है

Newstrack

Newstrack

Next Story