पेयजल आपूर्ति पर कांग्रेस ने की UP सरकार से ये बड़ी मांग

उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी के पंचायत चुनाव समिति के केन्द्रीय सदस्य डॉ सुनील तिवारी ने कान्फ्रेंस में झाँसी सहित पूरे बुन्देलखण्ड अंचल में पेयजल आपूर्ति का संकट बढने पर चिंता व्यक्त की है।

झाँसी: उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी के पंचायत चुनाव समिति के केन्द्रीय सदस्य डॉ सुनील तिवारी ने कान्फ्रेंस में झाँसी सहित पूरे बुन्देलखण्ड अंचल में पेयजल आपूर्ति का संकट बढने पर चिंता व्यक्त की है। उन्होंने कहा कि झाँसी जिले के शहरी क्षेत्रों में पाइप लाइन में लीकेज के चलते, पाइप लाइन के पानी में पूर्ति के सापेक्ष प्रेशर ना होने के कारण, उपभोक्ता तक पानी नहीं पहुंच पा रहा है।

ये भी पढ़ें: ट्रेन का सफर करने से बचेंः रेलवे ने यात्रियों से की अपील, सुविधा के लिए शुरू की ये सेवा

डॉ सुनील तिवारी ने कहा कि बबीना के वॉटर प्यूरीफायर प्लांट का पानी जब झांसी आता है, तो जल निगम की पानी छोडने की लॉक बुक और जल संस्थान की पेयजल प्राप्ति की लॉक बुक में अन्तर देखने को मिलता है । साथ ही साथ शहरी क्षेत्रों में पेयजलापूर्ति के लिए टैंकर भी पानी की टंकी से ही भरे जा रहे, जबकि इन टैंकरों को भरने के लिए अन्य जल स्त्रोतों को उपयोग में लाया जाना चाहिए ।

हालांकि उन्होंने इस बात को स्वीकार किया कि गर्मियों में जल स्त्रोतों में जल का भंडारण कम होता है और जल कांग्रेस उपभोग बढ जाता है। अभी विगत दिवस सागर गेट स्थिति पानी की टंकी का डिस्ट्रीब्यूशन बॉल्ब खराब होने के कारण शहरी क्षेत्र के सागर गेट, लक्ष्मी गेट, परवारान ,बंग्ला घाट, वैद्यराज, हजरयाना, सुभाष गंज आंशिक, चौधरयाना आंशिक, गणेश मडिया, वासुदेव आदि क्षेत्रों में छोटी सी समस्या के कारण लगभग 2 दिन गंभीर संकट रहा।

ये भी पढ़ें: सीएम केजरीवाल ने जारी किया ख़ास वीडियो, बोले- अगर कोरोना हो जाए तो…

इसके अलावा झांसी शहर में पिछौर, गुमनावारा, डरियापुरा ,पाल कालोनी उन्नाव गेट पर पेयजल का संकट जस का तस बना हुआ है। बरूआसागर, मऊरानीपुर, गुरसराय ,चिरगॉव आदि क्षेत्रों में पेयजलापूर्ति व्यवस्थित किये जाने की मांग की गई।

ये भी पढ़ें: चीन पर बड़ी कार्रवाई की तैयारी में ट्रंप, जल्द कर सकते हैं अहम फैसलों का एलान

वरिष्ठ कांग्रेस नेता राजेन्द्र शर्मा ने कहा कि झांसी में मई माह खत्म होने को है, लेकिन अभी तक प्याऊ की व्यवस्था मुख्य चौराहे पर नहीं की गई । साथ हैंडपंप सुधारवाने के लिए, गठित टीमों की संख्या बढाई जाय।

कांफ्रेंस में नगर निगम कांग्रेस सभासद दल के नेता सुलेमान मंसूरी, नगर निगम कार्य कारणी के सदस्य विकास खत्री, पूर्व जिला महामंत्री अमीर चंद आर्य, वरिष्ठ कांग्रेस नेता अशोक तिवारी, रशीद कुरैशी आदि मौजूद रहे । अन्त में कान्फ्रेंस में निष्कर्ष निकाला कि अगर जल निगम, जल संस्थान, विद्युत विभाग और स्थानीय निकाय संगठन आपसी तालमेल से कार्य करें, तो पेयजलापूर्ति को सुचारू और व्यवस्थित किया जा सकता है।

रिपोर्ट: बी.के.कुशवाहा

ये भी पढ़ें: सीएम केजरीवाल ने जारी किया ख़ास वीडियो, बोले- अगर कोरोना हो जाए तो…