चीन पर बड़ी कार्रवाई की तैयारी में ट्रंप, जल्द कर सकते हैं अहम फैसलों का एलान

कोरोना वायरस के कारण अमेरिका और चीन में बढ़ते तनाव के बीच अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने चीन पर बड़ी कार्रवाई का संकेत दिया है।

अंशुमान तिवारी

वाशिंगटन: कोरोना वायरस के कारण अमेरिका और चीन में बढ़ते तनाव के बीच अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने चीन पर बड़ी कार्रवाई का संकेत दिया है। व्हाइट हाउस में संवाददाताओं से बातचीत के दौरान ट्रंप ने चीन को लेकर कुछ बड़े फसलों का जल्द एलान करने का संकेत दिया। माना जा रहा है कि कोरोना वायरस को लेकर पूरी दुनिया के निशाने पर आए चीन के खिलाफ अमेरिका और कड़े कदम उठा सकता है।

ये भी पढ़ें: वीडियो कांफेंसिग के जरिए विधानसभा अध्यक्षों के साथ बैठक, इस विषय पर हुई चर्चा

चीन ने बरती है बड़ी लापरवाही

संवाददाताओं से बातचीत के दौरान ट्रंप ने कहा कि चीन को कोरोना वायरस के पैदा होते ही इसका संक्रमण रोक देना चाहिए था। चीन ने इस मामले में बड़ी लापरवाही बरती है जिसका खामियाजा आज पूरी दुनिया को भुगतना पड़ रहा है। अमेरिका सहित दुनिया के कई अन्य देशों ने भी कोरोना वायरस के संक्रमण और इस बारे में समय पर जानकारी ना देने के लिए चीन को जिम्मेदार ठहराया है।

इस वायरस का संक्रमण इस समय पूरी दुनिया में फैल चुका है और करीब 58 लाख लोग इस वायरस से संक्रमित हैं। अमेरिका में इस वायरस का सबसे ज्यादा कहर दिख रहा है और वहां करीब 17 लाख लोग इस वर्ष का शिकार हो चुके हैं। इस वायरस ने अभी तक तीन लाख अधिक लोगों की जान ले ली है और इस कारण पूरी दुनिया में आर्थिक संकट की स्थिति पैदा हो गई है।

ये भी पढ़ें: रिलायंस और जियो में नौकरी का झांसा देने वाले विज्ञापनों पर हाईकोर्ट की रोक

ट्रंप ने कहा-जल्द करेंगे बड़े एलान

ट्रंप ने मीडिया से बातचीत के दौरान कहा कि हम चीन पर जल्द ही एक संवाददाता सम्मेलन करेंगे। उन्होंने कहा कि हम चीन के संबंध में कुछ बड़े फैसले करने वाले हैं और उन पर कल चर्चा करेंगे। उन्होंने चीन पर कोरोना वायरस को लेकर बड़ी लापरवाही बरतने का आरोप लगाते हुए कहा कि चीन ने अपनी जिम्मेदारी सही ढंग से पूरी नहीं की। ट्रंप इससे पहले भी चीन के साथ सारे संबंध समाप्त करने की धमकी दे चुके हैं।

ये भी पढ़ें: मजदूरों को मिलेगा रोजगार, योगी सरकार सहित कई लोगों ने किए हस्ताक्षर

चीनी कंपनियों पर कसा शिकंजा

कोरोना संकट के इस दौर में अमेरिका चीन को भारी आर्थिक नुकसान पहुंचाने के लिए अब खुलकर सामने आ गया है। अमेरिका ने चीनी कंपनियों पर शिकंजा कस दिया है और अमेरिकी संसद ने चीन की कंपनियों की अमेरिकी शेयर बाजार में लिस्टिंग रोकने के लिए बिल पास कर दिया है। इस बिल के पास होने के बाद अमेरिका और चीन के बीच तल्खी और बढ़ गई है। चीन ने अमेरिका के इस कदम पर कड़ा विरोध जताते हुए इस बिल को पेश करने वाले सांसदों की तीखी आलोचना की है। चीन द्वारा हांगकांग के संबंध में बनाए गए नए क़ानून पर भी अमेरिका ने कड़ी आपत्ति जताते हुए उसे कार्रवाई करने की चेतावनी दी है।

ट्रंप को इस दवा से मिली काफी आराम

व्हाइट हाउस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि राष्ट्रपति ट्रंप मलेरिया रोधी दवा हाइड्रॉक्सीक्लोरोक्वीन की दो सप्ताह तक खुराक लेने के बाद काफी अच्छा महसूस कर रहे हैं। अधिकारी ने बताया कि यदि उन्हें लगता है कि वे कोरोना से संक्रमित किसी व्यक्ति के संपर्क में आए हैं तो वे दोबारा इस दवा का सेवन कर सकते हैं। ट्रंप खुद भी इस दवा की जीभर कर तारीफ कर चुके हैं और उनका कहना है कि कोरोना वायरस से निपटने में यह दवा काफी असरदार है।

ये भी पढ़ें: तस्वीरों में देखिये कैसा है मजदूरों का सफर, हाल पूछने वाला कोई नहीं