मजदूरों के लिए खुशखबरी: सीएम योगी का बड़ा एलान, तुरंत मिलेंगे 1 हजार रुपये

उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने राज्य के मजदूरों और गरीबों के लिए बड़ा फैसला लिया है। उन्होंने प्रतिदिन तिहाड़ी पर काम करने वाले मजदूरों को बड़ी राहत देते हुए हर महीने 1000 रुपये की आर्थिक मदद देने की घोषणा की है। इसके साथ ही कोरोना वायरस के मद्देनजर एक करोड़ 65 लाख गरीब परिवारों को मुफ्त राशन देने की भी योजना बनाई है।

लखनऊ : उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने राज्य के मजदूरों और गरीबों के लिए बड़ा फैसला लिया है। उन्होंने प्रतिदिन तिहाड़ी पर काम करने वाले मजदूरों को बड़ी राहत देते हुए हर महीने 1000 रुपये की आर्थिक मदद देने की घोषणा की है। इसके साथ ही कोरोना वायरस के मद्देनजर एक करोड़ 65 लाख गरीब परिवारों को मुफ्त राशन देने की भी योजना बनाई है।

दिहाड़ी मजदूरों और श्रमिकों को बड़ी राहत:

दरअसल, भारत में कोरोना के कहर से लोग परेशान हैं। इस बाबत उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने पिछली कैबिनेट बैठक में बड़े प्रस्ताव को मंजूरी दी है। इस दौरान लोगों से कहा गया कि वह कोरोना के मद्देनजर घरों से न निकले। हालाँकि हर रोज मजदूरी कर प्रतिदिन के हिसाब से पैसा कमाने वाले लोगों को इस निर्देश से भारी नुकसान होता। इसी कारण सीएम योगी ने दिशा निर्देश दिए कि एक कमेटी का गठन किया जाए तो तिहाडी पर काम करने वाले मजदूरों पर एक रिपोर्ट दें, इस रिपोर्ट के आधार पर मजदूरों को प्रति माह आर्थिक सहायता दी जाएगी।

ये भी पढ़ें: भ्रष्टाचारियों पर सीएम योगी ने कसा शिकंजा, अधिकारियों पर जांच का आदेश

योगी सरकार मजदूरों को देगी प्रतिमाह एक हजार रुपये:

इसी प्रस्ताव के आधार पर सरकार ने प्रदेश के 35 लाख दिहाड़ी मजदूरों को बड़ी राहत दी। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि एक हजार रुपये (प्रत्येक व्यक्ति) 15 लाख दिहाड़ी मजदूर और 20.37 लाख निर्माण श्रमिकों को उनकी दैनिक जरूरतों को पूरा करने में मदद की जायेगी।

ये भी पढ़ें: पूरा लखनऊ खतरे में, कोरोना पर कैसे हुई इतनी बड़ी लापरवाही

फैसले के ठाट सभी पंजीकृत मजदूरों को 1000 रुपये दिए जाएंगे। इसके साथ ही 15 लाख दिहाड़ी मजदूरों को 1000 रुपये की मदद देंगे। इतना ही नहीं सभी पंजीकृत मजदूरों को भरण पोषण भत्ता देंगे। खोमचे वालों को खाद्यान उपलब्ध कराएंगे।

गरीब परिवारों को मिलेगा मुफ्त अनाज:

बता दें कि सीएम योगी ने मनरेगा मजदूरी को तुरंत भुगतान देने का एलान किया है। सीएम योगी ने कहा कि 1.65 करोड़ परिवारों को अनाज उपलब्ध होगा। बीपीएल परिवारों को 20 किलो गेहूं, 15 किलो चावल को मुफ्त मिलेगा।
पीडीएस दुकानों के जरिए अनाज देंगे।

ये भी पढ़ें: कोरोना वायरस के चलते मंदिर-मस्जिद 31 मार्च तक रहेंगे बंद

कोरोना को लेकर न करें जमाखोरी, नहीं होगी सामान की किल्लत:

कोरोना के डर से लोग चीजों की जमाखोरी कर रहे हैं, ताकि बाजारों के बंद होने और रोजमर्रा के सामान की कमी होने पर उनके पास सामान उपलब्ध रहे। इसे लेकर भी सीएम योगी ने कहा कि किसी भी चीज की किल्लत बाजार में नहीं होगी। सरकार के पास हर जरुरी सामान, जमाखोरी की जरुरत नहीं। पर्याप्त मात्रा दवाएं और खाद्यान मौजूद हैं। जनता कर्फ्यू का पालन करने की भी अपील की।

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App