Top

CRPF जवान ने की पत्नी और बच्चों की निर्मम हत्या, फिर जो किया वो जान हो जाएंगे दंग

उत्तर प्रदेश के प्रयागराज में शनिवार को दिन दहला देने वाली घटना सामने आई है। यहां सीआरपीएफ ग्रुप सेंटर पडिला में सुबह सीआरपीएफ जवान विनोद कुमार यादव ने पत्नी व दो बच्चों की गोली मारकर हत्या कर दी।

Dharmendra kumar

Dharmendra kumarBy Dharmendra kumar

Published on 16 May 2020 5:05 AM GMT

CRPF जवान ने की पत्नी और बच्चों की निर्मम हत्या, फिर जो किया वो जान हो जाएंगे दंग
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

प्रयागराज: उत्तर प्रदेश के प्रयागराज में शनिवार को दिन दहला देने वाली घटना सामने आई है। यहां सीआरपीएफ ग्रुप सेंटर पडिला में सुबह सीआरपीएफ जवान विनोद कुमार यादव ने पत्नी व दो बच्चों की गोली मारकर हत्या कर दी।

इसके बाद उसने फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली। इस घटना की सूचना मिलते ही सीआरपीएफ के अधिकारी और जिले के आला पुलिस अफसर मौके पर पहुंच गए और मामले की जांच में जुटे हैं।

यह भी पढ़ें...मजदूरों की मौत पर पर अखिलेश ने जताया दुख, कहा- ऐसे हादसे मृत्यु नहीं हत्या हैं

प्रयागराज के थरवई थानाक्षेत्र में केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल(सीआरपीएफ) का ग्रुप सेंटर हैं। प्रयागराज में इस घटना की जानकारी होने पर सीआरपीएफ के जवानों में हड़कंप मच गया। जवान ने ऐसा कठोर कदम क्यों उठाया यह अभी तक स्पष्ट नहीं हो पाया है।

यह भी पढ़ें...कोरोना मरीजों के मामले में चीन से आगे निकला भारत, दुनिया में 11वें नंबर पर पहुंचा

CRPF जवान ड्राइवर के पद पर था तैनात

40 वर्षीय विनोद कुमार यादव प्रयागराज जिले के मेजा तहसील के सिरसा क्षेत्र का रहने वाला था। विनोद ग्रुप सेंटर में 224 बटालियन में ड्राइवर के पद पर तैनात था। उसने शुक्रवार देर रात पत्नी विमला के साथ 15 वर्षीय बेटे संदीप और बेटी 12 वर्षीय सिमरन को गोली मार दी। गोली लगने से पत्नी और बच्चों की मौत हो गई इसके बाद उसने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। इससे चारों की मौत हो गई।

यह भी पढ़ें...कोरोना संकट के बीच कोलकाता में सैकड़ों नर्सों ने छोड़ दी नौकरी, ये है बड़ी वजह

सूचना मिलने के बाद सीआरपीएफ और जिले के आला पुलिस अधिकारी मौके पर पहुंचे हैं और जांच में जुट गए हैं। थानाध्यक्ष थरवई भुवनेश चौबे के मुताबिक प्रारंभिक जांच में मामला पारिवारिक कलह माना जा रहा है। इसके साथ ही विनोद कुमार यादव के साथियों से पूछताछ की जा रही है। सीआरपीएफ जवान के घरवालों को इसकी जानकारी दे दी गई है। सभी के शवों को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है।

Dharmendra kumar

Dharmendra kumar

Next Story