लॉकडाउन: सभी मोहल्लों में नहीं पहुंची डिलीवरी वैन, दोगुने दामों में बिका सामान

लॉकडाऊन तक आवाम को खाद्यान समस्याओं से मुक्त करने के उद्येश्य से DM द्वारा जनपद के नगर क्षेत्र में आज 30 गाड़ियों से डोर स्टेप डिलीवरी की व्यवस्था की गई

जौनपुर: कोरोना वायरस के चलते लॉकडाऊन तक आवाम को खाद्यान समस्याओं से मुक्त करने के उद्देश्य से जिलाधकारी द्वारा जनपद के नगर क्षेत्र में आज 30 गाड़ियों से खाद्यान्न जनसामान्य को उपलब्ध कराने हेतु डोर स्टेप डिलीवरी की व्यवस्था की गई है। ऐसी सरकारी सूचना दी गई है। जिलाधिकारी का कहना है कि किसी को परेशान होने की जरूरत नहीं है। सभी के घर के सामने दाल, चावल, आटा, मसाला, नमक व सब्जी का सामान इन वाहनों में आएगा और आप अपने घर के सामने खरीद सकते हैं।

ऑर्डर करने के लिए जारी किए गए नंबर

जिलाधिकारी ने लोगों से घरों से न निकलने की बात कही। क्योंकि इससे आप किसी के संपर्क में आएंगे और आप संक्रमित हो सकते हैं। यदि वह व्यक्ति पहले से संक्रमित है। इस संक्रमण से बचाव के लिए एक ही उपाय है कि सब लोग अपने घरों में रहें और सबके घर पर ही खाद्यान्न, सब्जी, फल, दूध उपलब्ध कराएंगे। कोई भी इन नंबरों 9140594421, 9119602871, 9415828413 पर कॉल करके घर की जरूरतों के सामान का ऑर्डर देकर सामान अपने घर पर मंगवा सकता है।

ये भी पढ़ें-  बड़ा कदम: यहां बनेंगे 1000 बेड वाले 2 बड़े कोरोना अस्‍पताल, 15 दिन में बनकर होगा तैयार

गाड़ी न पहुँचने पर मनमाने दाम में बिका सामान

जिलाधिकारी ने जनपद वासियों से अपील की है कि मा. प्रधानमंत्री जी के लाकडाउन के आह्वान का हम सब मिलकर के पालन करें। और देश को कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाएं। सभी उप जिलाधिकारियों को भी निर्देशित किया गया है कि वह अपने तहसील क्षेत्र में आने वाले नगर पालिका और नगर पंचायत क्षेत्रों में भी दो-दो वाहनों का होम स्टेप डिलीवरी के लिए व्यवस्था करें।

यहां बतादे कि जिलाधिकारी की इस पहल की झलक नगर क्षेत्र के तमाम मुहल्ला में नहीं नजर आई। जिसका परिणाम रहा कि दुकानदारों ने मनमाने मुल्य पर खाद्यान से लेकर सब्जी एवं फल आदि को बेचा।

दोगुने दामों पर बिका सामान

ये भी पढ़ें- बड़ा कदम: यहां बनेंगे 1000 बेड वाले 2 बड़े कोरोना अस्‍पताल, 15 दिन में बनकर होगा तैयार

सब्जियों का मुल्य सातवें आसमान पर रहा है। टमाटर 60रूपये किग्रा तो आलू 35 रूपये किग्रा ,हरी मिर्च 120 रूपये प्रति किग्रा। इस तरह सभी सब्जियों का अधिक मुल्य वसूला गया है। वहीं फल में सेब, संतरा, अंगूर सभी का दाम दो तीन गुना मंहगा कर दिया गया है। खाद्य सामग्री आटा चावल दाल सब कुछ दो गुना अधिक मुल्य पर बेचा गया। जिला प्रशासन ने यदि इसे गम्भीरता से नहीं लिया तो लाकडाऊन की अवधि तक आवाम व्यापरियों के शोषण का शिकार होती रहेगी।

तैयार किए जा रहे और अस्पताल

कोरोना से निपटने को लेकर आज सीएमओं कार्यालय में लगभग चालिस पैरामेडिकल स्टाफ को कोरोना वायरस के मरीजों की देखभाल करने की ट्रेनिंग दी गई। सीएमओ रामजी पाण्डेय ने इस बाबत जानकारी दी कि कोरोना महामारी है इससे निपटने के लिए पैरामेडिकल स्टाफ को ट्रेनिंग दी जा रही है। कोरोना के मरीजो के लिए अभी जिला अस्पताल में 10 वेड की व्यवस्था की गई है।

ये भी पढ़ें- सावधान: देना होगा तगड़ा जुर्माना, तो सभी रहें घरों में

 

इसके अलावा जिले में नम्बर वन के अस्पताल नेहरू नगर,मेहरावां,आदमपुर और चांदपुर के अस्पताल में 20-20 वेड की व्यवस्था की जा रही है। पैरामेडिक स्टाफ को ट्रेनिंग देकर उन चिकित्सालयों में तैनात किया जायेगा ताकि कोरोना जैसी महामारी से किसी भी दशा में निपटा जा सके।