Top

बड़ी कार्रवाईः पशु तस्कर था प्रधान, साढ़े आठ करोड़ की संपत्ति कुर्क

प्रदेश सरकार अपराधियों के खिलाफ पूरे सूबे में अभियान चला रही है। इसी क्रम में जिले में गो तस्करी व आपराधिक कार्यों में संलिप्त होने और गैंगस्टर एक्ट के आरोपी ग्राम प्रधान के तीन आलीशान मकान, जमीन, वाहन समेत आठ करोड़ की सम्पत्ति प्रशासन ने कुर्क कर दिया।

Monika

MonikaBy Monika

Published on 27 Oct 2020 3:12 PM GMT

बड़ी कार्रवाईः पशु तस्कर था प्रधान, साढ़े आठ करोड़ की संपत्ति कुर्क
X
प्रदेश सरकार का अभियान, इस गैंगस्टर के साढ़े आठ करोड़ की सम्पत्ति कुर्क
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

गोंडा: प्रदेश सरकार अपराधियों के खिलाफ पूरे सूबे में अभियान चला रही है। इसी क्रम में जिले में गो तस्करी व आपराधिक कार्यों में संलिप्त होने और गैंगस्टर एक्ट के आरोपी ग्राम प्रधान के तीन आलीशान मकान, जमीन, वाहन समेत आठ करोड़ की सम्पत्ति प्रशासन ने कुर्क कर दिया। उसके परिजनों को घर से बाहर कर दिया गया। इस दौरान उपज़िलाधिकारी, पुलिस क्षेत्राधिकारी सहित चार थानों की पुलिस मौजूद रही। मौजूदा समय में वह जमानत पर जेल से बाहर है। जिले में अपराधियों की सम्पत्ति कुर्क करने के मामले में यह अब तक की सबसे बड़ी कार्रवाई है।

अपराध से अर्जित किया करोड़ों की सम्पत्ति

मनकापुर तहसील व कोतवाली क्षेत्र के भिटौरा ग्राम सभा का प्रधान नंद किशोर बरवार भ्रष्टाचार व आपराधिक कृत्यों के आरोपी है। उस पर आपराधिक कृत्यों से संपत्ति अर्जित करने व अपराध में संलिप्त रहने के आरोप हैं। उस पर गैंगस्टर सहित कई आरोपों का मुकदमा चल रहा है। कई बार वह जेल भी जा चुका है। मंगलवार को डीएम के आदेश पर उपज़िलाधिकारी हीरालाल यादव व पुलिस क्षेत्राधिकारी राम भवन यादव भारी पुलिस बल के साथ नंद किशोर के निवास स्थान भिटौरा गांव पहुंचे और मकान पर नोटिस चस्पा कराते हुए कुर्की की कार्रवाई की। इसके बाद टीम ने मनकापुर क्षेत्र में ही उसके अन्य मकानों व प्लाटों को कुर्क किया।

सम्पत्ति कुर्क

ये भी पढ़ें…जमीन खरीदने का कानून बदलने पर भड़के उमर अब्दुल्ला, मोदी सरकार पर बोला हमला

पुलिस के अनुसार उसकी साढ़े 8 करोड़ की सम्पति को जब्त किया गया है। पुलिस सूत्रों की मानें तो नंद किशोर बरवार ने अपराधिक घटनाओं को अंजाम देकर उसके जरिए काली कमाई का साम्राज्य खड़ा किया है। उसके पास कई लग्जरी वाहन, कई मंजिलों के भवन, लाखों रुपये की जमीन आदि सम्पत्ति है। जिले के अलावा कई अन्य बड़े शहरों में भी उसकी अच्छी खासी सम्पत्ति है।

सम्पत्ति कुर्क

लम्बा आपराधिक इतिहास

आरोपी नंद किशोर बरवार का लंबा अपराधिक इतिहास है। आरोपी के खिलाफ गोंडा जनपद के नवाबगंज में पशु क्रूरता निवारण अधिनियम, पशुओं की तस्करी, एमबी एक्ट, प्राणघातक हमला जैसे गंभीर मुकदमे दर्ज हैं। मनकापुर कोतवाली में आर्म्स एक्ट, यूपी गैंगस्टर एक्ट सहित गंभीर मामले दर्ज हैं। आरोपी के खिलाफ जहां कुशीनगर जनपद के हाटा थाना और पटहेरवा थाना में गोवध निवारण अधिनियम व पशु क्रूरता अधिनियम के तहत अलग-अलग मामले दर्ज हैं।

ये भी पढ़ें…राज्यों में बढ़ा खतरा: त्योहारों के बीच यहां भीषण आफत, विशेषज्ञ परेशान

वहीं अयोध्या जनपद के गोसाईगंज, रौनाही थाना में धोखाधड़ी व पशु क्रूरता अधिनियम, बलरामपुर जनपद के नगर कोतवाली में वर्ष 2016 में पशु क्रूरता अधिनियम सहित गंभीर धाराओं में अलग अलग तीन मुकदमे दर्ज हैं, जबकि बस्ती जनपद के दुबौलिया थाना में पशु क्रूरता अधिनियम के तहत मुकदमा दर्ज है।

Nand Kishor

13 स्थानों से सम्पत्ति जब्त

मनकापुर के एसडीएम हीरालाल ने बताया कि नंद किशोर बरवार पर आपराधिक कृत्यों में शामिल होने, इससे संपत्ति बनाने व गैंगस्टर सहित तमाम आपराधिक कार्यों में संलिप्त होने पर कार्रवाई की गई है। अपराधिक मुकदमे की विवेचना कर रहे थानाध्यक्ष छपिया संजय तोमर ने बताया कि अब तक 13 स्थानों से इसकी सम्पत्ति जब्त की गयी है। मंगलवार को एसडीएम, सीओ, चार थानों की फोर्स व पीएसी की मौजूदगी में उसके मकान सील कर दिए गए। इसके साथ ही जिस घर में उसका परिवार रहता था, उसको भी खाली कराकर सीज कर दिया गया है। उन्होंने बताया कि फैजाबाद में बने मकान व दतौली क्षेत्र में भट्ठे पर भी सीज करने की कार्रवाई की जाएगी। नंद किशोर अपने रसूख के बल पर पशु तस्करी का मनकापुर में एक काला साम्राज्य स्थापित किया था।

ये भी पढ़ेंः चिराग पासवान का वायरल हुआ ऐसा Video, अब हो रही थू-थू, कांग्रेस ने बोला हमला

आगे भी जारी रहेगी कार्रवाई

जिलाधिकारी डा. नितिन बंसल ने बताया कि कोतवाली मनकापुर क्षेत्र के भिटौरा ग्राम प्रधान व गैंगेस्टर नंद किशोर बरवार का लम्बा आपराधिक इतिहास है। उसके खिलाफ पहले से ही करीब डेढ़ दर्जन पशु तस्करी, अवैध शस्त्र जैसे गम्भीर अपराध के मुकदमें दर्ज हैं। अपराधिक कृत्यों के जरिए ही उसने तमाम सम्पत्ति अर्जित कर लिया था। मंगलवार को गैंगस्टर एक्ट के तहत उसके काले साम्राज्य को जब्त कर लिया गया, जिसमें 08 करोड़ 41 लाख 50 हज़ार की संपत्ति कुर्क की गई है, जिनमें आवासीय मकान व प्लाट शामिल हैं। कुछ सम्पत्ति पर उसका अवैध कब्जा है, जिसे खाली कराने की भी कार्रवाई की जा रही है। ध्वस्तीकरण कराया जाएगा। जिलाधिकारी ने कहा कि ऐसे अपराधियों के खिलाफ आगे भी कार्रवाई जारी रहेगी।

तेज प्रताप सिंह

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें

Monika

Monika

Next Story