50 लोगों पर FIR दर्ज, दबंगों ने डॉक्टर के साथी की हाथापाई-गाली-गलौज

उत्तर प्रदेश के कासगंज जिले में सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करा रहे डॉक्टर के साथ कुछ दबंगों ने हाथापाई की और साथ ही जान से मारने की धमकी भी दे डाली।

कासगंज: उत्तर प्रदेश के कासगंज जिले में सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करा रहे डॉक्टर के साथ कुछ दबंगों ने हाथापाई की और साथ ही जान से मारने की धमकी भी दे डाली। दरअसल, एक डेडबॉडी के साथ आई 50 से 60 लोगों की भीड़ को डॉक्टर डिस्टेंस बना कर खड़े होने के लिए कहा रहा था। उसी दौरान 3 दबंगों ने डॉक्टर के साथ गाली-गलौज शुरु कर दी और साथ ही उन लोगों ने डॉक्टर के साथ अभद्रता भी की।

दबंगों ने दी जान से मारने की धमकी

यहीं नहीं दबंगों ने इस दौरान डॉक्टर को जान से मारने की धमकी भी दे डाली। डॉक्टर अभी डरा हुआ है। फिलहाल पुलिस ने 3 नामजद लोगों समेत 50 अज्ञात लोगों के खिलाफ FIR दर्ज कर ली है। आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए पुलिस जुटी हुई है।

यह भी पढ़ें: सरकार ने बनाया मास्टर प्लान, ऐसे पटरी पर आएगी सुस्त पड़ी अर्थव्यवस्था

क्या है पूरा मामला?

ये पूरी घटना कासगंज जिले के गंजडुंडवारा सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र का है। जहां पर एक एंबुलेंस आई, जिसमें डेडबॉडी थी। उसके पीछे काफी संख्या में भीड़ भी इकट्ठी थी। जब वहां पर पर तैनात चिकित्सा अधीक्षक मुकेश कुमार सिंह ने देखा कि मौजूद भीड़ सोशल डिस्टेंसिंग का पालन नहीं किया जा रहा है तो उन्होंने लोगों को समझाते हुए सोशल डिस्टेंसिंग मेंटेन करने के लिए कहा।

यह भी पढ़ें: कोरोना के इलाज में प्लाज्मा थेरेपी कारगर, 4 मरीजों पर ट्रायल में चौंकाने वाले नतीजे

डॉक्टर ने लोगों से कहा कि आप सभी 1 मीटर की दूरी पर खड़े हों। एंबुलेंस को एक साइड में लगा दें ताकि हॉस्पिटल का कार्य बाधित ना हो। क्योंकि बाहर से आए लोगों की थर्मल स्क्रीनिंग चल रही थी।

इन तीन नामजद आरोपियों ने की अभद्रता

तभी उस भीड़ से निकलकर नगला भवानी निवासी त्रिमल सिंह यादव, अशोक यादव और प्रमोद यादव ने डॉक्टर मुकेश कुमार सिंह के साथ अभद्रता करनी शुरु कर दी। उन्होंने न सिर्फ डॉक्टर से गाली-गलौज की बल्कि हाथापाई पर भी उतारु हो गए। इसके बाद उन लोगों ने डॉक्टर को जान से मार डालने तक की धमकी दी।

यह भी पढ़ें: सस्ता सोना खरीदने का आज आखिरी मौका, सरकार की इस स्कीम से मिलेंगे कई फायदे

मौके पर मौजूद थी पुलिस लेकिन नहीं की कोई कार्रवाई

इस घटना के दौरान पुलिस भी वहां मौजूद थी, लेकिन उन लोगों को समझाने के बदले कटपुतली बने देश रही थी। डॉक्टर मुकेश सिंह के मुताबिक, SSI सोबरन सिंह फोर्स के साथ घटनास्थल पर मौजूद थे, लेकिन इन सबके बावजूद दबंग अपनी दबंगई दिखाते रहे और पुलिस के अभद्रता करते रहें लेकिन पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की।

50 लोगों के खिलाफ मामला दर्ज

पीड़ित डॉक्टर में घटना के बाद से डर बना हुआ है। इस मामले में डॉ मुकेश ने त्रिमल सिंह यादव, अशोक यादव, प्रमोद यादव समेत 50 अज्ञात लोगों के खिलाफ गंजडुंडवारा कोतवाली में मामला दर्ज कराया है। साथ ही पीड़ित डॉक्टर ने आरोपियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने की मांग की है।

यह भी पढ़ें: CM योगी की रणनीति: खाद्य और फल प्रसंस्करण के माध्यम से रोजगार दिया जाए

देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।