×

आईपीएस अफसर ने किया समीक्षा अधिकारी 2016 परिणाम रोकने का अनुरोध

आईपीएस अधिकारी अमिताभ ठाकुर ने उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग द्वारा 27 नवम्बर 2016 को ली गयी समीक्षा अधिकारी की प्रारम्भिक परीक्षा के संबंध में सोमवार को उत्तर कुंजी जारी करने के बाद इसके परिणाम पर रोक लगाये जाने के लिए एक बार फिर अनुरोध किया है।

Dharmendra kumar

Dharmendra kumarBy Dharmendra kumar

Published on 23 July 2019 3:41 PM GMT

आईपीएस अफसर ने किया समीक्षा अधिकारी 2016 परिणाम रोकने का अनुरोध
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

लखनऊ: आईपीएस अधिकारी अमिताभ ठाकुर ने उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग द्वारा 27 नवम्बर 2016 को ली गयी समीक्षा अधिकारी की प्रारम्भिक परीक्षा के संबंध में सोमवार को उत्तर कुंजी जारी करने के बाद इसके परिणाम पर रोक लगाये जाने के लिए एक बार फिर अनुरोध किया है। आयोग के सचिव को भेजे गए अपने पत्र में उन्होंने कहा कि उन्होंने सीबी-सीआईडी द्वारा लगाये गए अंतिम रिपोर्ट के खिलाफ लखनऊ कोर्ट में प्रोटेस्ट प्रार्थनापत्र दायर किया है, जिसकी अगली सुनवाई 19 अगस्त 2019 को होगी।

यह भी पढ़ें…यूपी के इन जिलों में 24 घंटें में झमाझम बारिश, प्रशासन ने जारी किया अलर्ट

अमिताभ ने इस परीक्षा की द्वितीय पाली के सामान्य हिंदी के पेपर लीक के आरोपों के संबंध में थाना हजरतगंज, लखनऊ में मुक़दमा दर्ज करवाया था जिसमे सीबीसीआईडी ने यह कहते हुए अंतिम रिपोर्ट भेजी कि पेपर लीक के बारे में कोई ठोस साक्ष्य नहीं मिला।

यह भी पढ़ें…जानिए उस 2 महीने की ट्रेनिंग के बारे में, जिसके लिए कश्मीर जा रहे हैं धोनी

अपने पत्र में अमिताभ ने कहा है कि सीबीसीआईडी की विवेचना में कई गंभीर कमियां हैं। उन्होंने कई बिन्दुओं पर विवेचना नहीं की जबकि कई अन्य बिन्दुओं पर गलत निष्कर्ष निकाला है।

यह भी पढ़ें…सोने के दाम में रिकॉर्ड बढ़ोत्तरी, अभी खरीद लें गोल्ड, नहीं तो अभी और बढ़ेंगे दाम

उन्होंने आयोग से अनुरोध किया है कि यदि इसी बीच परिणाम जारी कर दिया गया तथा यदि कोर्ट ने अंतिम रिपोर्ट को निरस्त करते हुए अग्रेतर विवेचना के आदेश कर दिए तो अत्यंत विषम एवं असहज स्थिति उत्पन्न हो जायेगी। इसलिए कोर्ट द्वारा प्रोटेस्ट प्रार्थनापत्र पर अंतिम निर्णय लेने तक इस परीक्षा का परिणाम घोषित नहीं किया जाये।

Dharmendra kumar

Dharmendra kumar

Next Story