×

सिर्फ इसलिए राजमिस्त्री ने बुजुर्ग महिला और नाती की कर दी हत्या

चकेरी पुलिस ने डबल मर्डर केस का खुलासा करते हुए राज मिस्त्री को गिरफ्तार किया है। राज मिस्त्री ने एक 85 साल की बुजुर्ग महिला की सिलबट्टे से कूच कर हत्या कर दी थी। उसी दौरान बुजुर्ग महिला का 14 वर्षीय नाती मौके पर पहुंच गया तो हत्यारे ने बसूली से सिर पर वार कर उसकी भी हत्या कर दी थी।

Dharmendra kumar

Dharmendra kumarBy Dharmendra kumar

Published on 27 July 2019 3:57 PM GMT

सिर्फ इसलिए राजमिस्त्री ने बुजुर्ग महिला और नाती की कर दी हत्या
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

कानपुर: चकेरी पुलिस ने डबल मर्डर केस का खुलासा करते हुए राजमिस्त्री को गिरफ्तार किया है। राज मिस्त्री ने एक 85 साल की बुजुर्ग महिला की सिलबट्टे से कूच कर हत्या कर दी थी। उसी दौरान बुजुर्ग महिला का 14 वर्षीय नाती मौके पर पहुंच गया तो हत्यारे ने बसूली से सिर पर वार कर उसकी भी हत्या कर दी थी। इसके बाद जेवरात और नगदी लेकर भाग गया था। पुलिस के लिए ये घटना चुनौती बनी हुई थी।

चकेरी थाना क्षेत्र स्थित हनुमानगढ़ी में रहने वाले मनोज गुप्ता शू ट्रेडिंग का काम करते हैं। परिवार में पत्नी कोमल बेटे कुनाल उर्फ सुजल (14), बेटी सौम्या (13) और नानी शांतीदेवी के साथ रहते थे। बीते 5 जुलाई की शाम शांतिदेवी और उनके नाती का शव घर में क्षतविक्षत हालत में मिला था।

एसएसपी अंनतदेव के मुताबिक चकेरी हनुमानगढ़ी के रहने वाले मनोज गुप्ता की सास और उनके नाबालिग बेटे की हत्या 5 जुलाई की शाम को हुई थी। इस घटना के खुलासे के लिए कई टीमों को लगाया गया था। इसमें सनिगंवा निवासी राजमिस्त्री रवि कुशवाहा को गिरफ्तार किया गया है। इसकी गिरफ्तारी के लिए सीसीटीवी फुटेज और सर्विलांस का सहारा लिया गया है। रवि कुशवाहा राजमिस्त्री का काम करता है।

यह भी पढ़ें…योगी के इस मुस्लिम मंत्री ने किया ये नेक काम, लोग कर रहे तारीफ

उन्होंने बताया कि मनोज गुप्ता के संपर्क में रवि कुशवाहा आया था। मनोज गुप्ता ने रवि से घर के निर्माण के संबध में बात की थी। इसके बाद रवि कुशवाहा आए दिन मनोज गुप्ता के मोबाइल पर फोन करने लगा कि कब से घर के निर्माण कार्य शुरू करा रहे हैं।

रवि कुशवाहा के फोन से परेशान होकर मनोज गुप्ता ने राज मिस्त्री को फटकार लगाते हुए कहा कि मुझे काम नहीं कराना है। इस बात को राज मिस्त्री ने अपने दिमाग में बसा लिया। कुछ दिनों बाद मनोज गुप्ता के घर के पीछे राजमिस्त्री काम करने लगा।

यह भी पढ़ें…मुंबई: बाढ़ में फंसी है महालक्ष्‍मी एक्‍सप्रेस, सभी यात्रियों को सुरक्षित निकाला गया

बीते 5 जुलाई को रवि कुशवाहा काम करने के लिए आया था। छुट्टी के बाद जब रवि कुशवाहा जाने लगा तो उसे मनोज गुप्ता की बात याद आ गई। वो मनोज गुप्ता के घर की तरफ गया और घर के अंदर घुस गया। उसने पहले बुजुर्ग महिला को दबोच लिया इसके बाद उसने सिलबट्टे से कूच कर हत्या कर दी। इसके बाद घर पर रखे बख्से से जेवरात और नगदी खंगालने लगा। जैसे ही वो वारदात को अंजाम देने के बाद भागने लगा तो उसी दौरान कुनाल घर पर आ गया। रवि कुशवाहा ने कुनाल को भी दबोच लिया और उसकी भी बेरहमी से हत्या कर दी। हत्यारे के पास से खून से सने हुए कपड़े बरामद कर लिए है।

यह भी पढ़ें…जानिए शमी को अमेरिका ने वीजा देने से क्यों किया इंकार, BCCI को देना पड़ा दखल

कुनाल की मां जब घर पहंची थी तब हुआ खुलासा

मृतक कुनाल की मां कोमल की सनिगंवा रोड पर कॉस्मेटिक की शॉप थी। 5 जुलाई 2019 की सुबह कुनाल और सौम्या स्कूल चले गए थे। मनोज गुप्ता और कोमल भी अपनी-अपनी शॉप के लिए चले गए थे। दोपहर के वक्त जब कुनाल और सौम्या स्कूल से वापस लौटे तो खाना खाने के बाद दोनो मां के पास कास्मेटिक की शॉप पर चले गए। घर पर बच्चों की नानी शांतिदेवी अकेली थीं।

कोमल ने बेटे कुनाल से शाम के वक्त घर पर पनीर पहुंचाने की बात कही थी। कुनाल जब घर पहुंचा तो सिरफिरे हत्यारे ने उसे भी नहीं बख्शा और बसूली से सिर पर हमला कर हत्या कर दी। कुनाल के पहुंचने से पहले राजमिस्त्री नानी की हत्या कर चुका था।

Dharmendra kumar

Dharmendra kumar

Next Story