मुंबई: बाढ़ में फंसी है महालक्ष्‍मी एक्‍सप्रेस, सभी यात्रियों को सुरक्षित निकाला गया

मुंबई में भारी बारिश से जीवन पूरी तरह से अस्त-व्यस्त हो गया है। जगह-जगह रेलवे ट्रैक पानी में डूब गए हैं। वागनी में मुंबई-कोल्हापुर महालक्ष्मी एक्सप्रेस में पानी आने से ट्रेन ट्रैक पर ही फंसी हुई है। ट्रेन में करीब 2000 यात्री फंसे हुए हैं, इनमें से 851 यात्रियों को कोल्हापुर जाना है।

मुंबई: मुंबई में भारी बारिश से जीवन पूरी तरह से अस्त-व्यस्त हो गया है। जगह-जगह रेलवे ट्रैक पानी में डूब गए हैं। वागनी में मुंबई-कोल्हापुर महालक्ष्मी एक्सप्रेस ट्रेन ट्रैक पर पानी आने से फंसी हुई है।

सेंट्रल रेलवे ने कहा कि सभी यात्रियों को सुरक्षित बाहर निकाल लिया गया है। सेंट्रल रेलवे के अधिकारी ने बताया कि महालक्ष्मी एक्सप्रेस के रेस्क्यू किए गए यात्रियों को लेने के लिए 19 कोच की स्पेशल ट्रेन कल्याण से कोल्हापुर जाएगी।

यह भी पढ़ें…जानिए शमी को अमेरिका ने वीजा देने से क्यों किया इंकार, BCCI को देना पड़ा दखल

एनडीआरएफ की टीम ने बोट के जरिए ट्रेन में फंसे लोगों को रेस्क्यू कर रही है। वहीं ट्रेन में मौजूद एक गर्भवती महिला की तबीयत बिगड़ गई है। मिली जानकारी के मुताबिक रेशमा नाम की गर्भवती महिला को लेबर पेन शुरू हो गया है।

एनडीआरएफ की टीम ने महालक्ष्मी एक्सप्रेस से 600 से ज्यादा यात्रियों को निकलकर सुरक्षित स्थान पर पहुंचा दिया है। जिसमें 9 गर्भवती महिलाओं को भी रेस्क्यू किया गया है। वहीं 37 डॉक्टरों की टीम और एंबुलेंस भी मौके पर पहुंच गई है।

 

यह भी पढ़ें…यहां सुहागिन महिलाएं रहती है सुनी मांग, नहीं कर सकती श्रृंगार, जानिए क्यों है ऐसी परंपरा?

मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने कहा कि राहत बचाव में 7 नेवी टीम, इंडियन एयरफोर्स के 2 हेलिकॉप्टर, सेना की 2 टुकड़ी के अलावा स्थानीय प्रशासन भी जुटा है। फिलहाल स्थिति नियंत्रण में है। इस बीच रेलेव प्रॉटेक्शन फोर्स और नगर पुलिस मौके पर पहुंचकर ट्रेन में फंसे यात्रियों को बिस्किट, पानी जैसी जरूरी सामग्रियां बांट रहे हैं।

 

यह भी पढ़ें…अखिलेश को लगा फिर बड़ा झटका, अब ये नेता बीजेपी में हुए शामिल

दूसरी तरफ सेंट्रल रेलवे के सीपीआरओ ने मीडिया को दिए बयान में कहा कि ट्रेन में करीब 700 यात्री फंसे हुए हैं। उन्होंने बताया कि एनडीआरएफ की टीम और जल सेना (नेवी) के हेलिकॉप्टर राहत और बचाव कार्य में जुटे हुए हैं। महिलाओं और बच्‍चों समेत 500 लोगों को ट्रेन से निकालकर सुरक्षित स्‍थान पर पहुंचाया जा चुका है।राज्य में बाढ़ के हालात पर महाराष्ट्र के मंत्री एकनाथ शिंदे ने कहा कि प्रशासन ठाणे में बाढ़ की स्थिति पर काबू करने का प्रयास कर रहा है।

यह भी पढ़ें…कारगिल युद्ध के हीरो की अब आयी याद, दिया डबल प्रमोशन

यह भी पढ़ें…बाढ़ में बुरा फंसी महालक्ष्मी एक्सप्रेस, 2000 यात्रियों पर 11 घंटे आफत के

बाढ़ में फंसी महालक्ष्मी एक्सप्रेस की घटना पर मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने कहा कि घटनास्थल पर नेवी की 7 टीमें, एयर फोर्स के 2 हेलिकॉप्टर मौजूद हैं और स्थिति नियंत्रण में है। महालक्ष्मी एक्सप्रेस से अब तक करीब 500 लोगों को बाहर निकाल लिया गया है। बाकी करीब 200 लोगों को रेस्क्यू ऑपरेशन जारी है। महाराष्ट्र में बारिश के कारण 13 रेलगाड़ियों का रूट डायवर्ट कर दिया गया है जबकि 2 ट्रेनों को रद्द कर दिया गया है।