सामूहिक रुप से किए प्रयास से कोई भी लक्ष्य असंभव नहीं: सतीश चन्द्र द्विवेदी

कुलपति प्रो. वैशम्पायन आज एसपी सिटी राहुल श्रीवास्तव द्वारा संयुक्त रूप से बुन्देलखण्ड विश्वविद्यालय की राष्ट्रीय सेवा योजना की विभिन्न ईकाईयों के स्वयंसेवकों द्वारा कोरोना से बचाव हेतु बनाये गये दस हजार मास्कों के उद्घाटन के अवसर पर आयोजित ऑनलाइन कार्यक्रम में प्रतिभाग कर रहे कार्यक्रम अधिकारियों तथा स्वयंसेवकों को सम्बेाधित कर रहे थे।

झाँसी: राष्ट्रीय सेवा योजना बुन्देलखण्ड विश्वविद्यालय के द्वारा कोविड-19 के प्रति लागों को जागरुक करने के लिए किए गए कार्य वास्तव में मानवीय सहायता एवं सहयोग का एक बहुत ही सराहनीय उदाहरण है। यह विचार आज बुन्देलखण्ड विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो.जे.वी. वैशम्पायन ने व्यक्त किये।

कुलपति प्रो. वैशम्पायन आज एसपी सिटी राहुल श्रीवास्तव द्वारा संयुक्त रूप से बुन्देलखण्ड विश्वविद्यालय की राष्ट्रीय सेवा योजना की विभिन्न ईकाईयों के स्वयंसेवकों द्वारा कोरोना से बचाव हेतु बनाये गये दस हजार मास्कों के उद्घाटन के अवसर पर आयोजित ऑनलाइन कार्यक्रम में प्रतिभाग कर रहे कार्यक्रम अधिकारियों तथा स्वयंसेवकों को सम्बेाधित कर रहे थे।

ये भी पढ़ें: अब कोई नहीं रहेगा प्यासा, DM बोले- ”जल जीवन मिशन” के तहत हर घर पहुंचेगा पानी

कुलपति प्रो. वैशम्पायन ने मांस्को को एस.पी.सिटी राहुल श्रीवास्तव को सौंपते हुए कहा कि इस वैश्विक महामारी के समय में राष्ट्रीय सेवा योजना के कार्यक्रम अधिकारियों तथा स्वयंसेवकों के द्वारा इन इतनी अधिक संख्या में मास्कों का निर्माण कर अद्वितीय कार्य किया है।

कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रुप में ऑनलाइन सहभागिता कर रहे बेसिक शिक्षा मंत्री सतीश चन्द्र द्विवेदी ने स्वयंसेवकों के प्रयासों की प्रशंसा की तथा भविष्य के लिए एक लाख मास्क बनाने की योजना और ग्रामीण क्षेत्रों में वितरित करने के लिए शुभकामनाएं दी। उन्होंने कहा कि सामूहिक रुप से यदि प्रयास किया जाए तो कोई भी लक्ष्य बढ़ नहीं हो सकता है।

ये भी पढ़ें: Meerut से लगभग 25 बसों से विभिन प्रदेशों व जनपदों के श्रमिक हुए रवाना…

इस अवसर एस.पी.सिटी राहुल श्रीवास्तव ने कहा कि बुन्देलखण्ड विश्वविद्यालय के छात्र छात्राओं के द्वारा विगत दो माह से लॉकडाऊन की अवधि में निरंतर जिला प्रशासन, पुलिस प्रशासन तथा नगर प्रशासन को अभूतपूर्व सहयोग प्रदान किया जा रहा है।

उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय सेवा योजना के स्वयंसेवकों ने पुलिस प्रशासन के साथ नगर के विभिन्न चैराहों पर परिवहन व्यवस्था, बैंक व सब्जी मण्डी जैसे स्थानों पर सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करवाने का कार्य पूर्ण उत्तरदायित्व के साथ किया है। उन्होंने कहा कि पुलिस प्रशासन द्वारा एक मास्क फोर्स का गठन किया गया है, यह मास्क फोर्स राष्ट्रीय सेवा योजना के स्वयेसवकों के सहयोग से बुन्देलखण्ड के विभिन्न ग्रामीण अंचलों में जरूरतमन्दों को मास्क उपलब्ध करवायेगी।

इस अवसर पर बुन्देलखण्ड विश्वविद्यालय में राष्ट्रीय सेवा योजना के समन्वयक डॉ मुन्ना तिवारी ने कार्यक्रम की अतिथियों का स्वागत किया तथा कार्यक्रम की रूपरेखा प्रस्तुत करते हुए बताया कि यह मास्क बुन्देलखण्ड विश्वविद्यालय में कार्यरत विभिन्न विकास इकाइयों के स्वयंसेवकों के द्वारा तैयार किए गए हैं।

ये भी पढ़ें: अभी-अभी गुजरात में लगी भयानक आग, रेस्क्यू ऑपरेशन जारी

बुन्देलखण्ड विश्वविद्यालय में राष्ट्रीय सेवा योजना के नोडल अधिकारी कोविड-19 डॉ उमेश कुमार ने बताया कि आज के इस कार्यक्रम में श्रम एवं रोजगार मंत्री मन्नू कोरी, विधायक ललितपुर रामरतन कुशवाहा, विधायक महोबा राकेश गोस्वामी के साथ-साथ उच्च शिक्षा के विशेष सचिव मनोज कुमार, राष्ट्रीय सेवा योजना के क्षेत्रीय निदेशक डा. अशोक कुमार श्रोती, राज्य संपर्क अधिकारी एन.एस.एस. डॉ. अंशुमाली शर्मा, के अतिरिक्त कार्यक्रम अधिकारी डा.मिली भट्ट, डॉ राबिन कुमार सिंह, डॉ,सुधीर कुमार, शाश्वत सिंह, रामजी यादव, यश्वी खरे, प्रखर, प्रियांश, देवांश, सचिन आदि ने इस ऑनलाइन कार्यक्रम में प्रतिभाग किया।

रिपोर्ट: बी.के. कुशवाहा

ये भी पढ़ें: खेल प्रेमियों के लिए बुरी खबर, स्पोर्ट्स मिनिस्टर ने कही ये बड़ी बात