अब कोई नहीं रहेगा प्यासा, DM बोले- ”जल जीवन मिशन” के तहत हर घर पहुंचेगा पानी

भारत सरकार द्वारा इस प्रोजेक्ट को गम्भीरता से लिया जा रहा है, तथा आगामी 2024 तक हर ग्रामीण घर में जल को कार्यात्मक घरेलू नल कनेक्शन प्रदान करने के लिये प्रयास किया जा रहा है।

Published by Ashiki Patel Published: May 23, 2020 | 9:08 pm
Modified: May 23, 2020 | 9:24 pm

मीरजापुर: जिलाधिकारी सुशील कुमार पटेल ने शनिवार को कलेक्ट्रेट में जल निगम पेयजल स्वच्छता विभाग जल शक्ति मंत्रालय भारत सरकार द्वारा संचालित ’’जन जीवन मिशन’’ योजना के तहत हर घर नल से जल योजना के अन्तर्गत जारी दिशा-निर्देशों के अनुरूप जिला पेयजल एवं स्वच्छता मिशन के संगठनात्मक स्वरूप को और सृदृढ बनाने तथा ग्रामीण पेयजल कार्यक्रमो के प्रभावी क्रियान्वयन, मूल्यांकन तथा उनका अनुश्रवण हेतु जिला स्तर पर जिला पेयजल एवं स्वच्छता समिति पुर्नगठन एवं क्रियान्वयन के उद्देश्य से जिला जल एवं स्वच्छता मिशन कमेटी की बैठक सम्पन्न की गयी।

ये भी पढ़ें: प्रदेश में अब तक श्रमिकों को लेकर आयीं 1018 श्रमिक स्पेशल ट्रेनें, 178 अभी रास्ते में

इस बैठक में जिलाधिकारी ने कहा कि जिस भी क्षेत्र में जल की कमी है। वहां पर पानी के कारण समस्यायें बढी है। उन्होंने कहा कि जल संरक्षण के उद्देश्य से भी यह योजना काफी कारगर साबित होगा ।

2024 तक हर घर मे पहुचेगा जल

भारत सरकार द्वारा इस प्रोजेक्ट को गम्भीरता से लिया जा रहा है, तथा आगामी 2024 तक हर ग्रामीण घर में जल को कार्यात्मक घरेलू नल कनेक्शन प्रदान करने के लिये प्रयास किया जा रहा है।

बैठक में जल जीवन मिशन के तहत हर घर में जल कनेक्शन के लिये गांव में पानी की आपूर्ति के बुनियादी ढांचे विश्वसनीय प्येजल स्रोत विकास मौजूदा स्रोतों का संवर्द्धन, जहां आवश्यक हो थोक पानी हस्तांतरण, पूर्ण और चल रही पाइप जलापूर्ति का पुनरूद्धार, धूसर जलन प्रबन्घन, समर्थन गतिविधियां अर्थात आईईसी, एचआरडी, प्रशिक्षण, उपयोगिता का विकास, जल गुणवत्ता प्रयोगशालायें, जल गुणवत्ता परीक्षण और निगरानी, प्राकृतिक आपदाओं के कारण उभर रही अन्य अप्रत्याशित चुनार्तियों आदि के सम्बन्ध में विस्तार से चर्चा की गयी।

यह भी कहा गया कि योजनान्तर्गत सार्वजनिक स्कूलों संस्थानों, आंगनवाडी केन्द्रों, स्वास्थ्य केन्द्र, ग्राम पंचायत भवन आदि में भी पानी उपलब्ध कराने की योजना के तहत लिया जाये।

छूटे गांवों को जल जीवन मिशन योजना में जोड़े

जिलाधिकारी ने कहा कि पूर्व में भागीरथी योजना के तहत भी कार्य चलाया जा रहा है, उसे योजना से छूटे गांवों को जल जीवन मिशन योजना में चयन कर आच्छदित किया जाये। ताकि जनपद के प्रत्येक गांव के हर घर को जल योजना से लाभान्वित किया जाये।

ये भी पढ़ें: शोक में बॉलीवुड: एक्टर की मौत से दुखी हुई परिणीति, कही ये बड़ी बात

इस अवसर पर अधिशासी अभ्यिान्ता जल निगम पंकज रंजन ने बताया कि भागीरथी योजना के तहत अभी तक 1607 गांवों को चिन्हित किया गया है। जल जीवन मिशन योजना के अन्तर्गत प्रारम्भ में कुल 18 गांव जिसमें मुजेहरा कला, तिलठी, सिरसी गहरवार, रूदौली, रामपुर, राजपुर, प्रतापपुर, महामलपुर, कपसौर, गौरा, धौबही, देवरी, दयालपुर, भुइली, भिस्कुरी, अर्जुनपुर पाठक, आंही तथा आराजी लाइन सुलतानपुर को चिन्हित किया गया है। शेष गांवों को चिन्हित करने की कार्यवाही की जा रही है।

भारत सरकार द्वारा वर्ष 2024 तक प्रत्येक गांव के हर घर को आच्छादित करने की समयसीमा निर्धारित किया गया। बैठक में मुख्य विकास अधिकारी अविनाश सिंह ने कहा कि गर्मी के दृष्टिगत पाइप पेयजल योजना तथा जनपद के समस्त राजकीय नलकूपों व हेण्डपम्पों के मरम्मत व रीबोर पर प्रभावी कार्यवाही की जाये।

डीएम व एसपी ने हलिया विकास खण्ड में मनरेगा कार्य का किया निरीक्षण

जिलाधिकारी सुशील कुमार पटेल एवं पुलिस अधीक्षक डा धर्मवीर सिंह ने विकास खण्ड हलिया के ग्राम बंजारी में जाकर चल रहे मनरेगा के कार्यो का निरीक्षण किया। इस दौरान मनरेगा श्रमिकों के द्वारा मेडबन्धी व खेत का समतलीकरण का कार्य किया जा रहा था। कोवडि-19 महामारी के दौरान देश के विभिन्न प्रान्तो से श्रमिक बडी संख्या में अपने घरों को लौट रहे है।

ये भी पढ़ें: Meerut से लगभग 25 बसों से विभिन प्रदेशों व जनपदों के श्रमिक हुए रवाना…

ऐसे श्रमिकों को रोजी-रोटी उपलब्ध कराने के उद्देश्य से श्रमिकों के लिये मनरेगा योजना के तहत कार्य दिया जा रहा है। इसी क्रम ग्राम बंजारी विभिन्न प्रान्तों से लौटेे श्रमिकों को मनरेगा के तहत दिये गये कार्यो का निरीक्षण जिलाधिकारी व पुलिस अधीक्षक के द्वारा दिया गया। उन्होंने खण्ड विकास अधिकारी को निर्देशित किया कि जो भी श्रमिक काम पर आये उनके द्वारा मास्क का प्रयाग किया जाये तथा सोशल डिस्टेंसिंग का अनुपालन कराया जाये। उन्होंने जो भी श्रमिक जाब कार्ड की मांग करें उनका जाबकार्ड बनाकर उन्हें काम दिया जायें।

रिपोर्ट: बृजेन्द्र दुबे

ये भी पढ़ें: लाॅकडाउन में छूट की जमकर उड़ीं धज्जियां, DM ने किया बड़ा खुलासा

उड्डयन मंत्री बोले- अगस्त से पहले शुरू हो सकती हैं अंतरराष्ट्रीय यात्रा के लिए उड़ानें