×

मुख्तार का पासपोर्ट जब्त: सरकार ने कसा शिकंजा, परिवार भी आया चपेट में

मुख्तार ने सुप्रीम कोर्ट में एक हलफनामा दाखिल कर दावा किया है कि वह भारत के पूर्व उपराष्ट्रपति हामिद अंसारी के परिवार का है। उसने ये भी कहा कि वह ऐसे परिवार से ताल्लुक रखता है जिनका स्वंत्रता संग्राम में विशेष योगदान है।

Shreya

ShreyaBy Shreya

Published on 9 Feb 2021 5:44 AM GMT

मुख्तार का पासपोर्ट जब्त: सरकार ने कसा शिकंजा, परिवार भी आया चपेट में
X
मुख्तार का पासपोर्ट जब्त: सरकार ने कसा शिकंजा, परिवार भी आया चपेट में
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

लखनऊ: उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने एक बार फिर से बाहुबली विधायक व माफिया डॉन मुख्तार अंसारी और उनके पर शिकंजा कसा है। दरअसल, सरकार ने मुख्तार, उनकी पत्नी अफसा अंसारी और दोनों बेटों के पासपोर्ट जब्त कर लिए हैं। इन पासपोर्ट्स को पुलिस के पास जमा करा दिया गया है। आपको बता दें कि मुख्तार इस वक्त पंजाब की रोपड़ जेल में बंद है और उसे यूपी लाने की कवायद की जा रही है।

इसलिए सरकार मुख्तार को लाना चाहती है यूपी

गौरतलब है कि मुख्तार अंसारी 2019 की शुरुआत से पंजाब की जेल में है। योगी सरकार उसे यूपी लाना चाहती है, इसके लिए मुख्तार के जेल ट्रांसफर की कवायद चल रही है। उत्तर प्रदेश पुलिस कई गंभीर आपराधिक मुकदमों के लिए मुख्तार अंसारी को हिरासत में लेना चाहती है मगर पंजाब सरकार के रवैये से प्रदेश पुलिस को अभी तक कामयाबी नहीं मिल सकी है। यूपी पुलिस इस सिलसिले में कई बार पंजाब जा चुकी है मगर हर बार उसे खाली हाथ लौटना पड़ा है।

यह भी पढ़ें: गोली मारकर हत्याः मौत से सहमा हरदोई, इस वजह से अपराध को दिया अंजाम

MUKHTAR ANSARI (फोटो- सोशल मीडिया)

मुख्तार ने भी किया विरोध

दरअसल, पंजाब सरकार मुख्तार की सेहत का हवाला देते हुए उसे पंजाब से यूपी भेजने से इनकार करती रही है। वहीं इस मामले में खुद मुख्तार अंसारी ने भी यूपी की जेल में ट्रांसफर किये जाने का विरोध किया है। अंसारी ने अपने उपराष्ट्रपति से कनेक्शन का जिक्र करते हुए यूपी की जेल में ट्रांसफर किये जाने का विरोध किया है।

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड में फसें यूपी वाले, बचाएंगे ये मंत्री, सीएम योगी ने दी बड़ी जिम्मेदारी

मुख्तार ने सुप्रीम कोर्ट में एक हलफनामा दाखिल कर दावा किया है कि वह भारत के पूर्व उपराष्ट्रपति हामिद अंसारी के परिवार का है। उसने ये भी कहा कि वह ऐसे परिवार से ताल्लुक रखता है जिनका स्वंत्रता संग्राम में विशेष योगदान है। मुख्तार अंसारी ने कहा है कि वह डॉ मुख्तार अहमद अंसारी का ग्रैंडसन रहा है जो कि एक स्वतंत्रता सेनानी थे और 1927-28 तक कांग्रेस के अध्यक्ष रहे थे।

फिलहाल मुख्तार के यूपी जेल ट्रांसफर किये जाने के मामले की सुनवाई सुप्रीम कोर्ट में चल रही है और इस मसले पर पिछली सुनवाई सोमवार को अदालत में हुई।

यह भी पढ़ें: हाई सिक्योरिटी नंबर प्लेट के नाम पर फर्जीवाड़ा, अधिकृत वेबसाइट से उड़ाए 39 हजार

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Shreya

Shreya

Next Story