एएमयू में ऐसा क्या हुआ, चप्पे –चप्पे पर तैनात करनी पड़ गई फोर्स?

छात्रसंघ के निवर्तमान उपाध्यक्ष हमजा सुफियान व निवर्तमान सचिव हुजैफा आमिर के निलंबन, एफआईआर व कारण बताओ नोटिस जारी किए जाने को लेकर गुरुवार को छात्रों ने अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय में प्रदर्शन किया।

अलीगढ: छात्रसंघ के निवर्तमान उपाध्यक्ष हमजा सुफियान व निवर्तमान सचिव हुजैफा आमिर के निलंबन, एफआईआर व कारण बताओ नोटिस जारी किए जाने को लेकर गुरुवार को छात्रों ने अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय में प्रदर्शन किया।

छात्र वीसी से मिलने का प्रयास कर रहे थे लेकिन वो मिल नहीं पाए। इसके बाद गुस्साए छात्रों ने ऑफिस से लौटते समय वीसी की कार को गेट पर रोक कर हंगामा करने की भी कोशिश की।

पूर्व छात्रसंघ अध्यक्ष, उपाध्यक्ष समेत कई छात्र गिरफ्तार

ये भी पढ़ें…भारत-पाक की दो लड़कियों को हुआ प्यार, मेरी छतरी के नीचे आजा क्यों भीगे…..

छात्र संघ के निवर्तमान अध्यक्ष सलमान इम्तियाज, उपाध्यक्ष हमजा सुफियान, सचिन हुजैफा अमीर और छात्र मोइनुद्दीन को पुलिस ने प्रशासनिक ब्लॉक के सामने से हिरासत में ले लिया।

इनके अलावा पूर्व छात्रसंघ अध्यक्ष, उपाध्यक्ष, सचिव सहित चार लोगों को हिरासत में ले लिया गया है, टकराव की स्थिति को देखते हुए आरएएफ, पीएसी व स्थानीय पुलिस लगाई गई है।

पुलिस ने छात्र नेताओं पर कैंपस में अराजकता फैलाने का आरोप लगाया है। साथ ही उन पर सीसीटीवी कैमरा तोड़ने आदि के भी आरोप हैं।

ये भी पढ़ें…थैंक्स तो सभी बोलते हैं लेकिन इन होमगार्ड्स ने तो दिल जीत लिया

ये है पूरा मामला
बताते चले कि एएमयू प्रशासन ने नकल करने के आरोप में 40 छात्रों को डिबार किया है। दो दिन पहले निर्वतमान उपाध्यक्ष सुफियान व निवर्तमान सचिव हुजैफा के साथ कुछ छात्र रजिस्ट्रार के पास बिना परमिशन मिलने पहुंचे थे।

जहां रजिस्ट्रार के न मिलने के कारण छात्रों ने हंगामा किया। रजिस्ट्रार अपने ऑफिस से उठ कर चले गए, जिससे गुस्साए छात्रों ने रजिस्ट्रार कार्यालय पर ताला लगा दिया।

इसके बाद हुजैफा आमिर को निलंबित कर दिया गया। सिविल लाइंस थाने में हुजैफा सहित चार छात्रों के खिलाफ मुकदमा भी दर्ज कराया गया है।

पुलिस का पक्ष

एसपी सिटी अभिषेक के मुताबिक एएमयू के वीसी की गाड़ी को रोकने और वीसी कार्यालय में ताला डालने के बाद 4 छात्रों को हिरासत में लिया गया है। आगे कोई अप्रिय घटना न हो इसके मद्देनजर यूनिवर्सिटी के बाहर पीएसी, आरएएफ और स्थानीय पुलिस तैनात की गई है।

ये भी पढ़ें…क्या आप जानते है! सबसे सस्ता पेट्रोल पड़ता है इसमे, लेकिन सफर है महंगा