प्रमुख सचिव सिंचाई ने एलेग्जेंडर क्लब में किया सामुदायिक रसोई का निरीक्षण

वहीं प्रमुख सचिव सिंचाई वेंकटेश ने आज कोरोना महामारी के अंतर्गत बनाए गए क्वॉरेंटाइन सेंटर गॉडविन होटल का निरीक्षण अधिकारियों के साथ किया। उन्होंने वहां डॉक्टर व स्टाफ से फोन पर उनका हालचाल जाना व उनके किए गए कार्यों की प्रशंसा की।

Published by SK Gautam Published: April 27, 2020 | 6:10 pm
Modified: April 27, 2020 | 6:39 pm

मेरठ: प्रमुख सचिव सिंचाई टी वेंकटेश ने आज एलेग्जेंडर क्लब में संचालित सामुदायिक रसोई का निरीक्षण किया। उन्होंने वहां भोजन को स्वयं चख कर भी देखा तथा उसकी गुणवत्ता को ठीक पाया। उन्होंने वहां उपयोग में लाई जा रही खाद सामग्री को देखा। वहीं मुख्य विकास अधिकारी ईशा दुहन ने बताया कि एलेग्जेंडर क्लब में प्रतिदिन 2000 भोजन के पैकेट बनाए जा रहे हैं।

प्रमुख सचिव सिंचाई ने किया क्वॉरेंटाइन सेंटर गॉडविन होटल का निरीक्षण

वहीं प्रमुख सचिव सिंचाई वेंकटेश ने आज कोरोना महामारी के अंतर्गत बनाए गए क्वॉरेंटाइन सेंटर गॉडविन होटल का निरीक्षण अधिकारियों के साथ किया। उन्होंने वहां डॉक्टर व स्टाफ से फोन पर उनका हालचाल जाना व उनके किए गए कार्यों की प्रशंसा की। गॉडविन होटल में करीब 55 डॉक्टर ड्यूटी उपरांत क्वॉरेंटाइन किए गए हैं।

ये भी देखें: मजबूर हैं साहब, सरकार में रहते हुए भी करें तो क्या करें

कोरोना महामारी के नियंत्रण के लिए सरकार द्वारा जनपद के नोडल अधिकारी बनाए गए प्रमुख सचिव सिंचाई टी वेंकटेश ने वहां डॉक्टर अतुल ,नर्स पूजा व वार्ड बाय नदीम से फोन पर बात की तथा तथा डॉक्टर अतुल से व्हाट्सएप कॉल कर बात भी की। उन्होंने स्वास्थ्य विभाग के डॉक्टरों व कर्मचारियों द्वारा किए जा रहे कार्य की भूरी भूरी प्रशंसा की तथा डॉक्टर व स्टाफ का उत्साहवर्धन किया।

इसलिए डॉक्टरों को 14 दिन के लिए क्वॉरेंटाइन किया जाता है

मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉक्टर राजकुमार ने बताया कि क्वॉरेंटाइन सेंटर बनाए गए गॉडविन होटल में करीब 55 डॉक्टर्स को ड्यूटी उपरांत क्वॉरेंटाइन किया गया है। उन्होंने बताया कि नियमतरू कोरोना महामारी के अंतर्गत अस्पतालों व मेडिकल कॉलेज में लगाए गए डॉक्टरों को 14 दिन के लिए क्वॉरेंटाइन किया जाता है, उसके बाद वह नॉन कोरोना ड्यूटी में लगाए जाते हैं तथा उसके 15 दिन बाद वह कोरोना महामारी से संबंधित ड्यूटी पर लगाए जाते हैं।

ये भी देखें: लाइम लाइट से दूर रहकर जरुरतमंदों की मदद कर रहे भाजयुमो नेता अंकित चौधरी

इस दौरान जिलाधिकारी अनिल ढींगरा, मुख्य विकास अधिकारी ईशा दुहन, अपर निदेशक स्वास्थ्य डॉ रेनू गुप्ता, अपर जिला अधिकारी नगर अजय तिवारी सहित अन्य अधिकारीगण उपस्थित रहे।

ग्राम घाट का भी किया निरीक्षण, ग्राम वासियों से वार्ता कर उनका हालचाल जाना

मेरठ जनपद के नोडल अधिकारी प्रमुख सचिव सिंचाई टी वेंकटेश ने आज तहसील सदर के ग्राम घाट का निरीक्षण किया। कोरोना महामारी में लॉक डाउन के लिए आदर्श बने ग्राम घाट में प्रमुख सचिव ने ग्राम वासियों से वार्ता कर उनका हालचाल जाना तथा कहा कि कि सरकार हर समय आम आदमी की समस्याओं के निस्तारण के लिए कृत संकल्पित है।

प्रमुख सचिव में सरकारी राशन विक्रेता योगेंद्र पाल से कहा कि वह सरकार द्वारा उपलब्ध कराए जा रहे राशन को कार्ड धारको को उपलब्ध कराना सुनिश्चित करें। उन्होंने कहा कि राशन वितरण ठीक प्रकार से होना चाहिए तथा उसमें सोशल डिस्टेंसिंग का विशेष ध्यान रखने की आवश्यकता है। राशन विक्रेता योगेंद्र पाल ने बताया कि उनकी राशन की दुकान में 09 अंत्योदय कार्ड धारक व 818 गृहस्थ परिवार के कार्ड हैं। उन्होंने कहा कि राशन का वितरण ठीक प्रकार कराया जा रहा है।

ये भी देखें: योगी सख्त, इमरजेंसी चिकित्सा सेवाएं तत्काल बहाल करने के दिये निर्देश

प्रमुख सचिव ने ग्राम में सब्जी विक्रेता से वार्ता की तथा ग्रामवासी सुरेश देवी से वार्ता कर उनका हालचाल जाना। सुरेश देवी ने कहा कि वह प्रमुख सचिव व अन्य अधिकारियों के ग्राम में आगमन से खुश हैं। उन्होंने कहा कि कोरोना हारेगा और भारत जीतेगा। उन्होंने वहां फूलों से प्रमुख सचिव व अन्य अधिकारियों का स्वागत किया।

प्रमुख सचिव ने ग्राम में ग्रामवासी व शिक्षिका आंचल द्वारा अपने घर में मास्क बनाए जाने के कार्यों को भी देखा तथा शिक्षिका आंचल द्वारा ग्राम व समाज हित में किए जा रहे कार्य की भूरी भूरी प्रशंसा की। वही ग्राम प्रधान संजीव कुमार ने बताया कि ग्राम में करीब 2000 परिवार हैं वह ग्राम की जनसंख्या करीब 10,000 है।

इस दौरान मेरठ डीएम अनिल ढींगरा, मुख्य विकास अधिकारी ईशा दुहन, उप जिलाधिकारी सदर अंकित खंडेलवाल सहित अन्य अधिकारी मौजूद रहे ।

 

रिपोर्ट : सादिक़ खान, मेरठ

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App