रेलवे ने ऐसे तय किया लॉकडाउन का सफर, लिखी ‘मास्क से मेकओवर’ तक की कहानी

कोविड -19 से लड़ने के लिए उत्तर मध्य रेलवे द्वारा किए गए प्रयासों के संकलन “मास्क से मेकओवर तक, लॉकडाउन की शुरुआत के बाद से उत्तर मध्य रेलवे की

झांसी: कोविड -19 से लड़ने के लिए उत्तर मध्य रेलवे द्वारा किए गए प्रयासों के संकलन “मास्क से मेकओवर तक, लॉकडाउन की शुरुआत के बाद से उत्तर मध्य रेलवे की यात्रा की एक कहानी” के हार्ड एवं सॉफ्ट फॉर्मेट बुकलेट का महाप्रबंधक उत्तर मध्य और उत्तर रेलवे राजीव चौधरी द्वारा आज विमोचन किया गया। पुस्तक का स्थानीय स्तर पर मंडल में मंडल रेल प्रबंधक संदीप माथुर द्वारा विमोचन किया गया।

ये भी पढ़ें: अपराधियों का खेल खत्म: टॉप 10 कुख्यातों की लिस्ट जारी, अब नहीं बचेगा कोई

पुस्तक में झांसी मंडल को विशेष स्थान दिया गया है, मंडल द्वारा किये गए संरक्षण सम्बंधित कार्य, समय-पालन, साफ़-सफाई, सोशल डिस्टेंसिंग, श्रमिक स्पेशल के संचालन के दौरान आवश्यक खाद्य व पेयजल आपूर्ति, सैनिटेशन, आदि व्यवस्थाओं को प्रमुखता से प्रकाशित किया गया है। महाप्रबंधक द्वारा मंडल के कार्यों की सराहना की गयी हैI

बताते हैं कि हमारा राष्ट्र अत्यधिक गम्भीर और चुनौतीपूर्ण दौर से गुजर रहा है, वर्तमान कोविड -19 संकट अत्यधिक व्यापक, भयावह और विस्तृत है। 23 मार्च को लॉकडाउन के प्रारंभ से अन्य क्षेत्रिय रेलों की तरह उत्तर मध्य रेलवे को भी नियमित कार्यकलापों के दौरान कई प्रतिकूल परिस्थितियों, नई चुनौतियों और बाधाओं का सामना करना पड़ा। हालांकि, लगभग 60000 रेलवे कोरोना योद्धाओं के अथक और समर्पित प्रयासों के साथ उत्तर मध्य रेलवे ने वर्तमान आवश्यकताओं के लिए खुद को परिवर्तित किया और अपनी पहचान के अनुरूप ही गतिशीलता बनाए रखते हुए तत्परता के साथ राष्ट्र सेवा में निरंतर प्रयत्नशील हैं।

ये भी पढ़ें: लड़की से छेड़छाड़: शिकायत पर पुलिस ने दिया ऐसा जवाब, दंग रह गई पीड़िता

मास्क से मेकओवर तक लिखी गई पुस्तिका

“मास्क से मेकओवर तक”- यह पुस्तिका उत्तर मध्य रेलवे के द्वारा लॉकडाउन के प्रारम्भ से किए गए उल्लेखनीय कार्यों और प्रयासों का संकलन है। इसमें कार्यस्थलों पर साफ-सफाई, सोशल डिस्टैंसिंग, हाईजीन, देश के कोने-कोने तक आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति बनाए रखने के लिए माल गाड़ी और पार्सल गाड़ियों के परिचालन, उत्तर मध्य रेलवे में रेल संचालन और अनुरक्षण गतिविधियों का निर्बाध संचालन, लॉकडाउन के दौरान पूरे किए गए प्रमुख आधरभूत संरचना संबंधी कार्य, वायरस से बचाव संबंधी तैयारियों मे क्वारंटाइन केंद्र, कोविड अस्पताल तथा आइसोलेशन कोचों का निर्माण, फेस कवर, सैनिटाइजर आदि की आंतरिक स्रोतों से आपूर्ति,

महामारी के विरुद्ध प्रौद्योगिकी और नवाचार का प्रभावी उपयोग, श्रमिक और विशेष ट्रेनों का संचालन, ऑनलाइन माध्यमों के उपयोग द्वारा रेल कर्मियों के ज्ञान और कौशल का विकास, लॉकडाउन के दौरान आयोजित अन्य महत्वपूर्ण कार्यक्रम, समाचार पत्रों की प्रेस कतरनों और सभी क्रियाकलापों को प्रभावी तरीके से दर्शाती तस्वीरों का समाहन किया गया है।

रिपोर्ट: बी.के.कुशवाहा

ये भी पढ़ें: टीवी इंडस्ट्री को झटका, सुशांत के बाद अब इस एक्टर ने किया सुसाइड