×

चर्चित साधु शोभन सरकार का निधन, इस गांव में हजारों टन खजाना का किया था दावा

उन्नाव के ढौंड़िया खेड़ा के शोभन सरकार का बुधवार को निधन हो गया। उनके एक सपने को लेकर आर्किलॉजिकल सर्वे ऑफ इंडिया (एएसआई) की टीम...

Ashiki
Updated on: 13 May 2020 4:30 AM GMT
चर्चित साधु शोभन सरकार का निधन, इस गांव में हजारों टन खजाना का किया था दावा
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

कानपुर देहात: उन्नाव के ढौंड़िया खेड़ा के शोभन सरकार का बुधवार को निधन हो गया। उनके एक सपने को लेकर आर्किलॉजिकल सर्वे ऑफ इंडिया (एएसआई) की टीम खजाने की खोज में जुट गई थी। शोभन सरकार के अनुयायियों में इस खबर से शोक की लहर दौड़ गई है। कानपुर देहात के शिवली कोतवाली क्षेत्र के बैरी में उनके आश्रम में भक्त उनके अंतिम दर्शन के लिए पहुंच रहे हैं।

ये भी पढ़ें: कोरोना संक्रमित मरीजों में मिल रहे ऐसे लक्षण, दी जा रही ये दवा

उनके सपने के बाद सरकार ने कराई थी खुदाई

शोभन सरकार ने कुछ साल पहले दावा किया था कि फतेहपुर के रीवा नरेश के किले में शिव चबूतरे के नजदीक 1000 टन सोने के दबे होने का पता चला है। यह उन्हें सपने में दिखाई दिया था। उसे शोभन सरकार ने सरकार से निकलवाने की बात कही थी। स्थिति तब हास्यास्पद हुई थी जब सरकार ने उनके इस सपने को सच माना गया और खुदाई हुई, जिसके बाद कुछ नहीं मिला।

ये भी पढ़ें: लॉकडाउन बना आफत! रिसर्च में खुलासा, 50% ग्रामीणों को नहीं मिल रहा भरपेट खाना

सबके अपने-अपने दावे थे

उस घटना में अजीब-अजीब दावे किए जा रहे थे। उस समय की केंद्र सरकार ने कहा था कि खजाने पर सिर्फ देशवासियों का हक होगा। उधर समाजवादी पार्टी की सरकार ने भी कहा था कि खजाने से निकली संपत्ति पर केवल राज्‍य सरकार का हक होगा।

ये भी पढ़ें: कोरोना की रफ्तार पर लगाम नहीं, चार राज्यों में कोशिशें फेल होने से बढ़ी चिंता

लॉकडाउन बना आफत! रिसर्च में खुलासा, 50% ग्रामीणों को नहीं मिल रहा भरपेट खाना

मोदी के आर्थिक पैकेज से सबसे ज्यादा इस वर्ग को उम्मीद, दी ऐसी प्रतिक्रिया

20 लाख करोड़ का पैकेज: शाह बोले- आत्मनिर्भर बनेगा देश, जानिए किसने क्या कहा

Ashiki

Ashiki

Next Story