×

उन्नाव केस में बड़ा खुलासा, पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में सामने आई चौंकाने वाली सच्चाई

देश में महिलाओं के खिलाफ बढ़ते अपराध पर लगाम लगाने में पुलिस नाकाम नजर आ रही है। आए दिन बच्चियों और महिलाओं के साथ रेप की घटनाएं और उनकी का मामला सामने आ रहा है। हाल के दिनों में रेप और हत्या की ऐसी घटनाएं सामने आई हैं जिसने पूर देश को झकझोर रख दिया है।

Dharmendra kumar

Dharmendra kumarBy Dharmendra kumar

Published on 7 Dec 2019 9:56 AM GMT

उन्नाव केस में बड़ा खुलासा, पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में सामने आई चौंकाने वाली सच्चाई
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

नई दिल्ली: देश में महिलाओं के खिलाफ बढ़ते अपराध पर लगाम लगाने में पुलिस नाकाम नजर आ रही है। आए दिन बच्चियों और महिलाओं के साथ रेप की घटनाएं और उनकी का मामला सामने आ रहा है। हाल के दिनों में रेप और हत्या की ऐसी घटनाएं सामने आई हैं जिसने पूर देश को झकझोर रख दिया है।

दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल में उन्नाव गैंगरेप की पीड़िता जिंदगी की जंग हार गई। पीड़िता को एयरलिफ्ट कर लखनऊ से दिल्ली लाया गया था। पीड़िता 95 फीसदी जल चुकी थी। सफदरजंग अस्पताल के बर्न एंड प्लास्टिक सर्जरी डिपार्टमेंट के हेड डॉ. शलभ कुमार ने जानकारी दी कि हमने पीड़िता को बचाने के लिए बड़े प्रयास किए, लेकिन इसके बावजूद पीड़िता को बचाया नहीं जा सका।

यह भी पढ़ें...यूपी सरकार के खिलाफ सड़क पर उतरा विपक्ष, अखिलेश-प्रियंका ने CM योगी का मांगा इस्तीफा

उन्होंने कहा कि शाम को ही उसकी हालत खराब होनी शुरू हो गई थी। रात 11.10 बजे उसे कार्डियक अरेस्‍ट आ गया। हमने इलाज शुरू किया और उसे बचाने की पूरी कोशिश की, लेकिन रात में 11.40 बजे उसकी मौत हो गई। अब पीड़िता के मौत के बाद उसकी शुरुआती पोस्टमॉर्टम की रिपोर्ट आ चुकी है। इस रिपोर्ट में चौंकाने वाला खुलासा हुआ है।

सफदरजंग अस्पताल के चिकित्सा अधीक्षक डॉ. सुनील गुप्ता ने शनिवार को बताया कि कि ऑटोप्सी रिपोर्ट में इस बात का खुलासा हुआ है कि उन्नाव गैंगरेप पीड़िता की मौत ज्यादा जल जाने की वजह से हुई, पोस्टमॉर्टम के दौरान जहर, घुटन का कोई संकेत नहीं मिला है।

यह भी पढ़ें...हैवानियत से दहला यूपी! किसी की लूटी गई आबरू, तो किसी को जलाया जिंदा

बता दें कि गैंगरेप पीड़िता अपने वकील से मिलने के लिए रायबरेली जा रही है, लेकिन रेलवे स्टेशन जाने के रास्ते में ही आरोपियों ने उसे घेरकर जला दिया। पीड़िता ने लगभग एक किमी तक जलने के बाद पैदल चली थी। इसके बाद उसने किसी के मोबाइल फोन से 112 को फोन किया और पुलिस को घटना की जानकारी दी। इसके पुलिस ने उसे पास के अस्पताल पहुंचाया।

यह भी पढ़ें...उन्नाव गैंगरेप पीड़िता ने तोड़ा दम, जानिए किसने क्या बोला?

इसके बाद उसे वहां लखनऊ सिविल अस्पताल में रेफर कर दिया गया था। हालत बेहद नाजुक होने की वजह से पीड़िता को एयरलिफ्ट कर गुरुवार रात दिल्ली ले जाया गया और उसे सफदरजंग अस्पताल में भर्ती कराया गया था जहां उसकी शुक्रवार रात मौत हो गई।

Dharmendra kumar

Dharmendra kumar

Next Story