UP Nikay Chunav 2023: चुनाव से पहले तेज हुआ दल-बदल का खेल, सपा के कई नेताओं ने थामा बीजेपी का दामन

UP Nikay Chunav 2023: शुक्रवार 28 अप्रैल को राजधानी लखनऊ स्थित प्रदेश बीजेपी कार्यालय में डिप्टी सीएम ब्रजेश पाठक की मौजूदगी में कई सपा नेताओं ने बीजेपी की सदस्यता ग्रहण की। ये नेता प्रदेश के विभिन्न जिलों से आए थे और सपा में संगठन के महत्वपूर्ण पदों पर आसीन रह चुके हैं।

Krishna Chaudhary
Updated on: 28 April 2023 2:29 PM GMT
UP Nikay Chunav 2023: चुनाव से पहले तेज हुआ दल-बदल का खेल, सपा के कई नेताओं ने थामा बीजेपी का दामन
X
UP Nikay Chunav 2023 BJP (Photo: Newstrack)
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

UP Nikay Chunav 2023: उत्तर प्रदेश में इन दिनों नगर निकाय चुनाव को लेकर सियासी सरगर्मी बढ़ी हुई है। टिकट वितरण के बाद अब धुंआधार प्रचार अभियान का दौर शुरू हो गया है। इस बीच दल-बदल का खेल भी जारी है। मतदान से पहले जमकर नेता अपना पाला बदल रहे हैं। इस मामले में फिलहाल सत्तारूढ़ बीजेपी अव्वल दिख रही है। भगवा दल में प्रदेश की तमाम पार्टियों सपा, बसपा और कांग्रेस के नेता शामिल हो रहे हैं। इसी कड़ी में शुक्रवार को भी समाजवादी पार्टी के नेताओं ने साइकिल छोड़ कमल का दामन थामा है।

आज यानी शुक्रवार 28 अप्रैल को राजधानी लखनऊ स्थित प्रदेश बीजेपी कार्यालय में डिप्टी सीएम ब्रजेश पाठक की मौजूदगी में कई सपा नेताओं ने बीजेपी की सदस्यता ग्रहण की। ये नेता प्रदेश के विभिन्न जिलों से आए थे और सपा में संगठन के महत्वपूर्ण पदों पर आसीन रह चुके हैं। आज जिन नेताओं ने बीजेपी की सदस्यता हासिल की, उनमें सबसे बड़ा नाम है अजय त्रिपाठी मुन्ना। मुन्ना सपा के प्रदेश सचिव के पद पर रह चुके हैं।

सपा नेताओं के अलावा पूर्व कैबिनेट मंत्री शिवपाल सिंह यादव की प्रगतिशील समाजवादी पार्टी के कुछ नेता भी बीजेपी में शामिल हुए हैं। प्रसपा का अब समाजवादी पार्टी का विलय हो चुका है। बीजेपी में शामिल होने वाले सपा एवं प्रसपा नेताओं का उपमुख्यमंत्री ब्रजेश पाठक ने स्वागत किया। उन्होंने ट्वीट कर इसकी जानकारी देते हुए कहा, आज भारतीय जनता पार्टी, मुख्यालय लखनऊ में प्रसपा में महासचिव व सपा में 3 बार प्रदेश सचिव रहे सपा नेता अजय त्रिपाठी "मुन्ना" व उनके समर्थकों को भाजपा की सदस्यता ग्रहण कराकर,उन्हें हार्दिक बधाई एवं शुभकामनाएं दीं।

डिप्टी सीएम पाठक ने इस मौके पर कहा कि बीजेपी की नीतियों से प्रभावित होकर कई दलों के नेताओं ने आज पार्टी की सदस्यता ली है। आज यूपी में बड़े-बड़े उद्योगपति निवेश करने के लिए आगे आ रहे हैं। लॉ एंड ऑर्डर की स्थिति बेहतर हुई है, प्रदेश में बहन-बेटियां अब सुरक्षित हैं। इससे पहले कल यानी गुरूवार को भी कई कांग्रेस, सपा एवं बसपा नेताओं ने अपना ठिकाना बदलकर बीजेपी की सदस्यता ग्रहण की थी।

बीजेपी ने कांग्रेस में तगड़ी सेंधमारी करते हुए लखनऊ महानगर दिलजीत सिंह समेत दो दर्जन से अधिक कांग्रेसियों को अपने पाले में कर लिया। इस मौके पर सपा की जिला पंचायत सदस्य पलक रावत और लखनऊ नगर निगम से समाजवादी पार्टी के निवर्तमान पार्षद तारा चंद्र रावत भी बड़ी संख्या में अपने समर्थकों के साथ बीजेपी में शामिल हो गई थीं। प्रदेश बीजेपी कार्यालय में डिप्टी सीएम ब्रजेश पाठक ने इन्हें पार्टी की सदस्यता ग्रहण कराई।

निकाय चुनाव में मुख्या मुकाबाल सत्तारूढ़ बीजेपी और मुख्य विपक्षी समाजवादी पार्टी के बीच ही माना जा रहा है। लिहाजा दोनों पार्टी के बीच इसे लेकर जोर आजमाइश चल रही है। बीजेपी लगातार सपा के प्रभावी नेताओं को तोड़कर अपने पाले में कर रही है। सबसे बड़े झटका अखिलेश यादव की पार्टी को तब लगा, जब नामांकन से ऐन पहले शाहजहांपुर की मेयर उम्मीदवार अर्चना वर्मा अचानक बीजेपी में शामिल हो गईं। सपा सुप्रीमो ने इसे लेकर बीजेपी पर निशाना साधते हुए कहा था कि दुनिया की सबसे बड़ी पार्टी के पास चुनाव लड़ने के लिए उम्मीदवार नहीं हैं।

प्रदेश के उपमुख्यमंत्री बृजेश पाठक ने भाजपा की सदस्यता ग्रहण करने वालों का पार्टी में स्वागत करते हुए कहा माननीय प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी व मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व में भाजपा सरकार द्वारा गरीब कल्याण के लिए किए जा रहे कार्यों का परिणाम है कि आज बड़ी संख्या में विभिन्न राजनैतिक दलों एवं सामाजिक संगठनों के लोग भाजपा से जुड़कर आम जनमानस के हित में कार्य करने का संकल्प ले रहें हैं। उन्होंने कहा कि नगर निकाय चुनाव में पूरे प्रदेश में भाजपा के पक्ष में लहर चल रही है। लोकसभा, विधानसभा चुनाव के बाद अब नगर निकाय के चुनाव में भी जनता विपक्ष का सुपड़ा साफ कर देगी।

Krishna Chaudhary

Krishna Chaudhary

Next Story