न्यूजट्रैक की खबर का असरः खुलासा होते ही, लेखपाल हुआ सस्पेंड

प्रदेश सरकार- भ्रष्टाचार पर लगाम लगाने के लिए जीरो टॉलरेंस की नीति अपनाने की बात कह रही है और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के भ्रष्टाचार के मामलों पर कड़ी कार्रवाई भी  कर रहे है। प्रदेश की नौकरशाही को सख्त संदेश दे रहे हैं, लेकिन वहीं दूसरी ओर डिप्टी सीएम दिनेश शर्मा के प्रभार वाले जिला रायबरेली में मुख्यमंत्री कि भ्रष्टाचार पर जीरो टॉलरेंस की नीति फेल होती नजर आ रही है। 

Published by Monika Published: October 26, 2020 | 9:44 pm
Modified: October 26, 2020 | 9:46 pm
लेखपाल हुआ सस्पेंड

घूस लेने वाला लेखपाल हुआ सस्पेंड

प्रदेश सरकार- भ्रष्टाचार पर लगाम लगाने के लिए जीरो टॉलरेंस की नीति अपनाने की बात कह रही है और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के भ्रष्टाचार के मामलों पर कड़ी कार्रवाई भी  कर रहे है। प्रदेश की नौकरशाही को सख्त संदेश दे रहे हैं, लेकिन वहीं दूसरी ओर डिप्टी सीएम दिनेश शर्मा के प्रभार वाले जिला रायबरेली में मुख्यमंत्री कि भ्रष्टाचार पर जीरो टॉलरेंस की नीति फेल होती नजर आ रही है।

नोटों की गड्डी लेने का वीडियो वायरल

रायबरेली की सदर तहसील के लेखपाल द्वारा किसी मामले के निस्तारण को लेकर नोटों की गड्डी लेने का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। वायरल वीडियो में लेखपाल लोगो से कह जा रहा है कि जो मन हो वो करो वहा कब्जे का कोई विवाद नही है और यह कहते हुए लेखपाल ने मोटी नोटों की गड्डी अपने हाथ मे लेकर अपने पास रख ली। सदर तहसील के लेखपाल प्रवीण मिश्रा के नोटों की गड्डी लेते हुए वीडियो सामने आने के बाद या तो तय है कि रायबरेली के राजस्व विभाग में भ्रष्टाचार की जड़ है बहुत गहरी हैं और उन पर अभी भी प्रभावी कार्यवाही होनी बाकी है।

लेखपाल हुआ सस्पेंड

ये भी देखें:  इलाज का नया तरीका: अब कोरोना का ऐसे होगा ट्रीटमेंट, लिया गया बड़ा फैसला

लेखपाल का तबादला

गौरतलब है कि नोटों की गड्डी लेने वाले लेखपाल प्रवीण मिश्रा  सरकार की तबादला नीति  को धता बताते हुए सदर तहसील में ही लंबे समय से तैनात है और बीच में जब इनका तबादला सलोन तहसील कर दिया गया था तो अपनी सेटिंग गेटिंग और ऊंची पहुंच के चलते नोट लेने वाले लेखपाल ने अपना तबादला वापस सदर तहसील में करा लिया। अब देखने वाली बात यह है कि रायबरेली में राजस्व विभाग के जिम्मेदार अधिकारी इस मामले पर क्या रुख अपनाते हैं।

 

वही  न्यूज़ ट्रैक  खबर का असर  घूसखोर लेखपाल सस्पेंड प्रशासन ने लिया संज्ञान। नोटों की गड्डी लेते हुए लेखपाल का वीडियो हुआ था वायरल। जिलाधिकारी वैभव श्रीवास्तव ने एसडीएम सदर शालिनी प्रभाकर से जांच करा कर की कार्यवाही।

नरेन्द्र सिंह रायबरेली

इसे भी पढ़ें अयोध्या की रामलीला: घर-घर तक पहुंचाने में सफल, दे गई सत्य और धर्म की सीख

ये भी देखें:  मिथुन के बेटे पर FIR: पहले किया रेप, फिर कराया अबॉर्शन…

देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App