स्वामी चिन्मयानंद ने स्वीकारे सभी आरोप, SIT ने किए ये बड़े खुलासे

शाहजहांपुर यौन शोषण केस में पूर्व केंद्रीय मंत्री और बीजेपी नेता स्वामी चिन्मयानंद को आखिरकार यूपी पुलिस के विशेष जांच दल (एसआईटी) ने गिरफ्तार कर लिया है। इसके साथ ही स्वामी चिन्मयानंद ने अपनी गलती स्वीकार कर ली है।

Published by Dharmendra kumar Published: September 20, 2019 | 2:56 pm
Modified: September 20, 2019 | 3:07 pm

लखनऊ: शाहजहांपुर यौन शोषण केस में पूर्व केंद्रीय मंत्री और बीजेपी नेता स्वामी चिन्मयानंद को आखिरकार यूपी पुलिस के विशेष जांच दल (एसआईटी) ने गिरफ्तार कर लिया है। इसके साथ ही स्वामी चिन्मयानंद ने अपनी गलती स्वीकार कर ली है।

यह भी पढ़ें…स्वामी चिन्मयानंद को SIT ने किया गिरफ्तार, 14 दिन रहेंगे जेल में

एसआईटी ने दावा किया है कि चिन्मयानंद ने पीड़ित लड़की को मसाज के लिए बुलाने में अपनी गलती स्वीकार की है। चिन्मयानंद कहा कि मुझे अपने कृत्य पर शर्म आती है।

एसआईटी प्रमुख नवीन अरोड़ा ने कहा कि स्वामी चिन्मयानंद ने अपने खिलाफ लगे लगभग सभी आरोपों को स्वीकार किया है। उन्होंने कहा कि वह इस बारे में ज्यादा कुछ नहीं कहना चाहते क्योंकि वह अपने इन कार्यों से शर्मिंदा हैं।

यह भी पढ़ें…5 लड़कियां! शिकार बने नेता-बड़े अफ़सर, जानिए क्या है हनी ट्रैप

बता दें कि इससे पहले एसआईटी ने तबीयत बिगड़ने पर चिन्मयानंद को गुरुवार को लखनऊ के केजीएमयू रेफर किया था। हालांकि आयुर्वेदिक इलाज की इच्छा जताने पर चिन्मयानंद को शाहजहांपुर स्थित मुमुक्षु आश्रम वापस ले जाया गया था।

यह भी पढ़ें…300 बच्चों पर गोलीबारी! पाकिस्तान इससे भी कितना नीचे गिरोगे

एलएलएम की छात्रा के यौन उत्पीड़न केस में गिरफ्तार स्वामी चिन्मयानंद को कोर्ट में पेश किया जिसके बाद 14 दिन की न्यायिक हिरासत पर जेल भेज दिया। साथ ही उनके तीन सहयोगी युवकों को भी एसआईटी ने गिरफ्तार कर लिया है। पकड़े गए तीनों युवकों पर ब्लेकमेलिंग में शामिल होने का आरोप है।

शाहजहांपुर की एलएलएम की छात्रा ने पूर्व केंद्रीय मंत्री और बीजेपी नेता स्वामी चिन्मयानंद पर उसका और कई लड़कियों का यौन उत्पीड़न करने का आरोप लगाया है। इसके साथ ही पीड़िता ने फेसबुक पर लाइव वीडियो अपलोड करके आरोप लगाया था। उसके बाद से ही पीड़िता लापता है

यह भी पढ़ें…वित्त मंत्री ने दिया ये बड़ा सरप्राइज, झूम उठा शेयर मार्केट, सेंसेक्स में बंपर बढ़त

जारी किया था वीडियो

खास बात यह है कि शिकायतकर्ता ने नेता से उसके और उसके परिवार के जीवन के लिए खतरा बताते हुए ने पिछले हफ्ते शुक्रवार को फेसबुक पर एक लाइव वीडियो पोस्ट करते हुए आरोप लगाया गया था कि चिन्मयानंद ने “कई लड़कियों के जीवन को नष्ट कर दिया है।”