चली थीं ताबड़तोड़ गोलियां: अब कृष्णानंद हत्या कांड का खुलासा, सामने आई सच्चाई

2005 में यूपी के बीजेपी विधायक कृष्णानंद राय की हत्या कर दी गई थी। इस वारदात में एक-47 से 400 राउंड फायरिंग की गई थी। हत्याकांड में यूपी के बाहुबली नेता मुख्तार अंसारी समेत उसके भाई अफजाल अंसारी और मुन्ना बजरंगी जैसे गुर्गों को आरोपी बनाया गया था।

Published by SK Gautam Published: August 10, 2020 | 1:50 pm
Modified: August 10, 2020 | 1:51 pm
चली थीं ताबड़तोड़ गोलियां: अब कृष्णानंद हत्या कांड का खुलासा, सामने आई सच्चाई

चली थीं ताबड़तोड़ गोलियां: अब कृष्णानंद हत्या कांड का खुलासा, सामने आई सच्चाई

नई दिल्ली: राकेश पांडेय को रविवार को यूपी पुलिस ने एनकाउंटर में मार गिराया। यूपी एसटीएफ की टीम ने वाराणसी एसटीएफ के साथ मिलकर 1 लाख के इनामी बदमाश व मुन्ना बजरंगी और मुख्तार अंसारी के करीबी हनुमान पाण्डेय उर्फ राकेश पाण्डेय का एनकाउंटर कर दिया था। बता दें कि लखनऊ के सरोजनीनगर में STF ने राकेश पांडेय का एनकाउंटर किया था। मुन्ना बजरंगी की हत्या के बाद राकेश पांडेय मुख्तार अंसारी गैंग का बड़ा शूटर बन गया था।

अंसारी गैंग का शार्प शूटर था राकेश पाण्डेय

यूपी के इनामी बदमाश राकेश पांडेय उर्फ हनुमान पांडेय की एनकाउंटर में मौत के बाद एक और बड़ा खुलासा हुआ है। गौरतलब है कि गाजीपुर के मोहम्मदाबाद से भाजपा के विधायक कृष्णानंद राय की नवंबर 2005 में हत्या बसपा विधायक मुख्तार अंसारी सहित छह लोगों के साथ मुख्य आरोपित रहे राकेश पाण्डेय को मुख्तार अंसारी गैंग का शार्प शूटर माना जाता था।

ये भी देखें:  अभी-अभी बड़ी खबर: पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी को कोरोना, अस्पताल में हुए भर्ती

चली थीं ताबड़तोड़ गोलियां: अब कृष्णानंद हत्या कांड का खुलासा, सामने आई सच्चाई

15 साल पहले हुए हत्याकांड से जुड़ी बातें आई सामने

अब इस मामलें में एक चौंकानें वाली बात सामने आई है जिसमें 15 साल पहले उस हत्याकांड से जुड़ी अहम जानकारी मिली है जिसमें राकेश पांडेय का नाम आया था। इतना ही नहीं, राकेश पांडेय के आका और बाहुबली नेता मुख्तार अंसारी को लेकर भी सिस्टम को एक्टिव करने वाली जानकारी मिली है।

सभी आरोपी सीबीआई की विशेष कोर्ट से बरी हो गए थे

बता दें कि 2005 में यूपी के बीजेपी विधायक कृष्णानंद राय की हत्या कर दी गई थी। इस वारदात में एक-47 से 400 राउंड फायरिंग की गई थी। हत्याकांड में यूपी के बाहुबली नेता मुख्तार अंसारी समेत उसके भाई अफजाल अंसारी और मुन्ना बजरंगी जैसे गुर्गों को आरोपी बनाया गया था। लेकिन सबूतों के अभाव में सभी आरोपी सीबीआई की विशेष कोर्ट से बरी हो गए थे। हालांकि, अभी ये मामला हाई कोर्ट में है। अब एक ऐसी कॉल रिकॉर्डिंग मिली है जो इस मामले में बड़ा उलटफेर कर सकती है।

ये भी देखें:  धमाके से कांपी दुनिया: 150 लोगों के उड़े चीथड़े, कभी नहीं भूल पाएंगे मंजर

मुख्तार अंसारी और उसके शूटर अभय सिंह के बीच हुई बात-चीत का आडियो

ये कॉल रिकॉर्डिंग मुख्तार अंसारी और उसके शूटर अभय सिंह के बीच हुई बात की है। ये बातचीत उस वक्त की गई थी जब 2005 में गाजीपुर में बीजेपी विधायक कृष्णानंद राय समेत 7 लोगों को गोलियों से छलनी कर मौत के घाट उतार दिया गया था। यूपी एसटीएफ के एक जवान ने इस ऑडियो को इंटरसेप्ट किया था और कॉल रिकार्ड की गई थी। बाद में ये ऑडियो सीबीआई को भी सौंपा गया था।

बता देने कि ये क्लिप एक मिनट 8 सेकंड की है। आईये जानते हैं कि इस ऑडियो क्लिप में क्या है-

अभय सिंह- हम अभय सिंह बोल रहे हैं।।।

मुख्तार अंसारी- बोलअ ठाकुर।।।

अभय सिंह- भइया एक ओ जमीन थी जिसमें रिजवान भाई से वहां बात हुई थी। सब लोग वहां पर आए हुए थे। उसमें वो बीच में मामला बिगड़ गया था।

मुख्तार अंसारी- हां।।।हां।।।हां।।। थोड़ा बदमाशी किया है। सब छोड़ो अभी यहां पर वो हो गया है, पता चला हल्ला हो रहा है कि गोली चल रही है मुन्ना बजरंगी और कृष्णानंद राय में।

अभय सिंह- अच्छा।।।

मुख्तार अंसारी- ये सुनने में आया है

अभय सिंह- अच्छा, कहां पर?

मुख्तार अंसारी- कृष्णानंद राय के गांव पर दोनों तरफ से मुकाबला चल रहा है।

अभय- हां, हां, बराबर गोली चल रही है।

मुख्तार अंसारी- हां

अभय- कि एक तरफा।।।

मुख्तार अंसारी- जय श्री राम।।।।

अभय सिंह- अच्छा ओके

मुख्तार अंसारी- हैलो

अभय- हां, हां।।।

मुख्तार अंसारी- काट लीन्ह (कृष्णानंद की चोटी के बारे में)

अभय- ठीक है

मुख्तार अंसारी- मुट्ठी में।।।

अभय- हां, ठीक है।।।ठीक है।।।रख रहे हैं बाद में बात होगी।।।

मुख्तार अंसारी- नमस्ते

ये भी देखें:  बेरहम कोरोना: पति ने की पत्नी से आखिरी मुलाकात, दोनों को मिली मौत

चली थीं ताबड़तोड़ गोलियां: अब कृष्णानंद हत्या कांड का खुलासा, सामने आई सच्चाई

मुख्तार अंसारी गाजीपुर जिला जेल में और अभय सिंह फैजाबाद की जेल में थे बंद

आपको बता दें कि जिस समय ये बातचीत मुख्तार अंसारी और अभिय सिंह के बीच बातचीत हुई, तब दोनों जेल में बंद थे। बाहुबली मुख्तार अंसारी गाजीपुर की जेल में बंद था और उसका शूटर अभय सिंह फैजाबाद की जेल में बंद था। मुख्तार अंसारी ने 983975**** नंबर से 29 नवंबर 2005 को दोपहर 3 बजकर 59 मिनट पर 933686**** पर शूटर अभय सिंह से बात की थी। मुख्तार अंसारी के मोबाइल की लोकेशन गाजीपुर जिला जेल की है जबकि अभय सिंह की मोबाइल की लोकेशन फैजाबाद जेल की है।

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App