×

यूपी पुलिस हुई धार्मिक, रहेगी 24 घंटे कांवड़ियों की मदद में तैनात

अभी तक आपने पुलिस को अपनी अपराधियों को पकड़ते हुए देखा होगा। लेकिन अब यूपी पुलिस अपराधियों को पकड़ने के साथ साथ धर्मिक होती भी दिखाई देगी। क्योंकि यूपी के शाहजहांपुर में कांवङ चीता स्क्वायड शुरू किया गया हैं। बाईक पर कांवङ चीता लिखा है। ये पुलिसकर्मी कांवड़ियों की सुरक्षा में लगाए गए हैं।

Roshni Khan

Roshni KhanBy Roshni Khan

Published on 21 July 2019 9:02 AM GMT

यूपी पुलिस हुई धार्मिक, रहेगी 24 घंटे कांवड़ियों की मदद में तैनात
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

शाहजहांपुर: अभी तक आपने पुलिस को अपनी अपराधियों को पकड़ते हुए देखा होगा। लेकिन अब यूपी पुलिस अपराधियों को पकड़ने के साथ साथ धर्मिक होती भी दिखाई देगी। क्योंकि यूपी के शाहजहांपुर में कांवङ चीता स्क्वायड शुरू किया गया हैं। बाईक पर कांवङ चीता लिखा है। ये पुलिसकर्मी कांवड़ियों की सुरक्षा में लगाए गए हैं। उनको किसी तरह की दिक्कत ये पुलिसकर्मी नही आने देंगे। साथ ही भूले कांवड़ियों को रास्ता भी यही पुलिस कर्मी दिखाएंगे। कांवड़ियों के लिए दस कांवङ चीता लगाए गए है।

ये भी देखें:रामविलास पासवान के भाई का दिल्ली के अस्पताल में हुआ निधन

दरअसल आज थाना सदर बाजार के खिरनी चौराहे पर डीएम इंद्र विक्रम सिंह और एसपी एस चिनप्पा ने पहुचकर कांवङ चीता स्क्वायड को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। ये पुलिसकर्मी खास तौर पर कांवड़ियों की सुरक्षा के लिए रवाना किए गए है। पुलिसकर्मियों को ट्रेनिंग दी गई है कि किस तरह से कांवड़ियों को फौरी तौर पर घायल कांवड़ियों को मदद पहुंचाना होगा।

साथ ही भटके हुए कांवड़ियों को ये पुलिसकर्मी सही रास्ता दिखाएंगे। यूपी मे अब पुलिसकर्मी अपराधियों को रोकने और अपराधियों के पकङने के साथ ही धार्मिक होने का भी फर्ज निभाएगी। क्योंकि बाईक पर कांवङ चीता स्क्वायड लिखा गया है। इनको दस सेक्टर मे बाटा गया है। पुलिसकर्मी 24 घंटे कांवड़ियों की सुरक्षा मे तैनात रहेंगे। पुलिस की इस पहल से कांवड़ियों मे खुशी की लहर है।

ये भी देखें:भैया ये लाल लाल टमाटर है बहुते हानिकारक, हो जाओ सावधान नहीं तो….

एसपी एस चिनप्पा का कहना है कि कांवड़ियों की सुरक्षा के लिए दस कांवङ चीता स्क्वायड टीम बनाकर रवाना किया है। पुलिसकर्मी 24 घंटे कांवड़ियों की सुरक्षा मे रहेंगे। अगर किसी तरह से कांवड़िये हादसे मे घायल हो जाते है तो ये पुलिसकर्मी उनको अस्पताल मे भर्ती कर उनको अच्छा इलाज दिलाने का कार्य करेंगे।

वही डीएम इंद्र विक्रम सिंह का कहना है कि जिला प्रशासन की जिम्मेदारी है कि कांवड़ियों की यात्रा को सुरक्षित निकाली जाए। इसलिए ही कांवङ चीता स्क्वायड बनाई गई है। उम्मीद करते है कि कांवड़ियों को किसी तरह की परेशानी नही होगी।

ये भी देखें:मर्द हो तो जान लो! शादीशुदा महिलाएं ऐसे लड़कों से ही करती हैं प्यार

वही गुजर रहे कांवड़ियों से बात की तो उनका कहना है कि पहली बार देखा गया है कि कांवड़ियों की सुरक्षा के लिए अलग से पुलिस को लगाया गया है। प्रदेश सरकार मे अच्छा काम हो रहा है। कम से कम कांवड़ियों के बारे मे इतना कुछ सोचा रहा हैं।

Roshni Khan

Roshni Khan

Next Story