हत्याओं से दहली राजधानी! छात्र को चाकूओं से गोदा, तो मजदूर को मिली दर्दनाक मौत

उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ गुरुवार को तीन घंटे के अंदर दो हत्या से दहल गई है। राजधानी लखनऊ के पॉश इलाके गोमतीनगर में एक बीटेक छात्र की दिनदहाड़े चाकुओं से गोदकर हत्या कर दी गई है।

Published by dharmendrakumar Published: February 20, 2020 | 6:13 pm
Modified: February 20, 2020 | 11:02 pm

लखनऊ: उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ गुरुवार को तीन घंटे के अंदर दो हत्या से दहल गई है। राजधानी लखनऊ के पॉश इलाके गोमतीनगर में एक बीटेक छात्र की दिनदहाड़े चाकुओं से गोदकर हत्या कर दी गई है, तो वहीं लखनऊ में एक पान मसाला करोबारी की दुकान पर दोपहर करीब डेढ़ बजे यहां 4 बदमाशों ने लूटपाट की और मुनीम की गोली मारकर हत्या कर दी।

बीटेक छात्र की अलकनंदा अपार्टमेंट के गेट पर हत्या की गई। मिली जानकारी के मुताबिक कुछ दिन पहले ही छात्र प्रशांत का कुछ लोगों से विवाद हुआ था। प्रशांत किसी की इनोवा कार से अलकनंदा अपार्टमेंट आ रहा था। इनोवा जैसे ही अलकनंदा अपार्टमेंट के गेट पर पहुंची तो बदमाशों ने कार को रोक लिया और इनोवा का शीशा तोड़कर प्रशांत को बाहर खींच लिया।

इनोवा कार से प्रशांत को बाहर खींचकर अपार्टमेंट के गेट पर ही उसकी चाकुओं से गोदकर हत्या कर दी। घटना के बाद पुलिस के आलाधिकारी मौके पर पहुंच गए हैं और जांच में जुट गए हैं। प्रशांत जौनपुर का रहने वाला था और बीबीडी में बीटेक की पढ़ाई कर रहा था।

यह भी पढ़ें…भोपाल में बड़ा हादसा, IPS अधिकारियों से भरी नाव झील में पलटी

इनोवा के ड्राइवर साजिद ने बताया कि वह लोग लोहिया पार्क की तरफ से आ रहे थे। प्रशांत को उसे अलकनंदा पर छोड़ना था। गेट पर जैसे ही बैरियर खुला, तभी 12 से 15 लड़के घेर लिए और मारना पीटना शुरू कर दिए। हमें इनोवा से उतारकर इधर मार रहे थे, तो वहीं दूसरी तरफ प्रशांत पर चाकुओं से हमला कर दिया, वह भागा और थोड़ी दूर पर जाकर गिर गया। साजिद ने बताया कि ये लोग गालियां देते हुए बस यही है, यही है कह रहे थे।

यह भी पढ़ें…प्रदर्शनकारियों से वार्ताकारों ने कहा- शाहीन बाग है और बरकरार रहेगा

तो वहीं डीसीपी ईस्ट सोमेंद्र वर्मा ने कहा कि दो बदमाश अंदर आये थे, जबकि चार से पांच युवक बाहर खड़े थे। दो बदमाशों ने इनोवा का शीशा पीछे से तोड़ा, फिर आगे का तोड़ा। बदमाशों ने चाकू से सीने पर मारा औए पेट तक गोद दिया। गंभीर रूप से घायल प्रशांत भागकर एम ब्लॉक की लिफ्ट तक पहुंचा और वही गिरकर बेहोश हो गया। गार्ड की सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची और अस्पताल ले गए, लेकिन उसकी रास्ते में ही मौत हो गई।

यह भी पढ़ें…राजस्थान बजट 2020: हर जिले में होंगी फास्ट ट्रैक अदालतें, शनिवार को ‘नो बैग-डे’

आज प्रशांत का जन्मदिन था और वह अपनी मुंहबोली बहन को पार्टी में ले जाने के लिए आया था। पुलिस के मुताबिक हत्या करने वाले बीबीडी और अन्य कॉलेज के छात्र हैं। ह्त्या के बाद तालियां बजाते हुए बाहर गए।

पुलिस के मुताबिक प्रशांत सिंह की दो दिन पहले कोचिंग सेंटर में अर्पण शुक्ला नामक छात्र से कहासुनी के बाद मारपीट हुई थी। अर्पण शुक्ला और उसके साथियों पर प्रशांत की हत्या करने का आरोप लगा है।

चौक में लूट और हत्या पर कानून मंत्री बृजेश पाठक ने कहा कि हमारे क्षेत्र में इस तरह की घटनाएं हो रही हैं जो कतई बर्दाश्त नहीं की जाएगी।सरकार ने इस मामले को सीधा संज्ञान में लिया है और 24 घंटे के अंदर हत्यारे पकड़े जाएंगे। यह हमारा क्षेत्र है और यह हम कतई बर्दाश्त नहीं करेंगे। उन्होंने कहा कि हम व्यापारी भाइयों के साथ हैं। सरकार मृतक के परिवार के साथ है जो भी सहायता जिस तरह से भी होगी सरकार पूरी तरीके से मृतक के परिवार की मदद करेगी।

चौक और गोमतीनगर में हत्या मामले में CP सुजीत पाण्डेय ने जांच की कमान अपने हाथ में ली है। दोनों मामले सुजीत पाण्डेय स्वयं मॉनिटर कर रहें हैं। उन्होंने बताया कि वर्कआउट के लिये 6 टीमें बनाई गईं और CCTV जांच के लिये 4 टीमें बनाईं गईं। उन्होंने कहा कि इस मामले का जल्द खुलासा किया जाएगा।