Top

योगी सरकार ने पेश किया 13,594 करोड़ का अनुपूरक बजट, किए ये बड़े ऐलान

उत्तर प्रदेश के विधानमंडल के मॉनसून सत्र में मंगलवार को योगी सरकार ने अनुपूरक बजट पेश किया। यह अनुपूरक बजट लगभग 13,594 करोड़ रुपये का है। इससे पहले आज कैबिनेट की बैठक में अनुपूरक बजट के मसौदे को मंजूरी प्रदान की गई।

Dharmendra kumar

Dharmendra kumarBy Dharmendra kumar

Published on 23 July 2019 8:23 AM GMT

योगी सरकार ने पेश किया 13,594 करोड़ का अनुपूरक बजट, किए ये बड़े ऐलान
X
yogi
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के विधानमंडल के मॉनसून सत्र में मंगलवार को योगी सरकार ने अनुपूरक बजट पेश किया। यह अनुपूरक बजट लगभग 13,594 करोड़ रुपये का है। इससे पहले आज कैबिनेट की बैठक में अनुपूरक बजट के मसौदे को मंजूरी प्रदान की गई।

यह भी पढ़ें...जानिए उस 2 महीने की ट्रेनिंग के बारे में, जिसके लिए कश्मीर जा रहे हैं धोनी

वित्त मंत्री राजेश अग्रवाल की ओर से सदन में पेश किए गए बजट में पूरा जोर प्रदेश में चल रहीं इंफ्रास्ट्रक्चर की परियोजनाओं को रफ्तार देना है। किसी नई योजना को शुरू करने की जगह सरकार ने पूरा जोर मौजूदा योजनाओं पर दिया है। खास तौर पर एक्सप्रेस-वे, ऊर्जा क्षेत्र और लोक निर्माण विभाग समेत कई प्रोजेक्ट के लिए बजट का प्रावधान किया गया है।

यह भी पढ़ें...सोने के दाम में रिकॉर्ड बढ़ोत्तरी, अभी खरीद लें गोल्ड, नहीं तो अभी और बढ़ेंगे दाम

इस बजट में राजस्व लेखे का व्यय 8,381.20 करोड़ रुपए तथा पूंजी लेखे का व्यय 5,213.67 करोड़ रुपए अनुमानित है। अनुपूरक बजट 2019-20 में नगर विकास के लिए कुल 2,175.46 करोड़ रुपए की मांग की गयी है। इसमें से राज्य पोषित स्मार्ट सिटी के लिए 175 करोड़ रुपए, कुम्भ मेले के दायित्यों के भुगतान के लिए 349 करोड़ रुपए, सीवरेज एवं जल निकासी हेतु 100 करोड़ रुपए तथा प्रत्येक जिला मुख्यालय में पाथवे, बेंच, जिम, पेयजल, योग एवं बाल क्रीड़ा की सुविधाओं से युक्त पार्क हेतु 60 करोड़ रुपए की मांग की गयी है।

यह भी पढ़ें...यूपी के इन जिलों में 24 घंटें में झमाझम बारिश, प्रशासन ने जारी किया अलर्ट

प्रदेश में अवस्थापना सुविधाओं के विकास के लिए कुल 2,093.98 करोड़ रुपए की मांग की गयी है। इसमें से पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे के लिए 850 करोड़ रुपए, बुन्देलखण्ड एक्सप्रेस-वे के लिए 1,150 करोड़ रुपए तथा गंगा एक्सप्रेस-वे हेतु 15 करोड़ रुपए की मांग की गयी है। ऊर्जा क्षेत्र में वितरण एवं उत्पादन परियोजनाओं के लिए कुल 905.36 करोड़ रुपए की अनुपूरक बजट प्रस्तावित है।

यहां पढ़ें बजट की पूरी डिटेल...

Dharmendra kumar

Dharmendra kumar

Next Story