थर-थर कांप उठेगा ‘विकास दुबे’, यूपी पुलिस ने लिया ये बडा एक्शन

कानपुर शूटआउट के मुख्य आरोपी विकास दुबे पर इनाम की राशि बढ़ाकर 5 लाख रुपये कर दी गई है। उक्त बातें एडीजी लॉ एंड ऑर्डर प्रशांत कुमार ने बुधवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान कही।

लखनऊ: कानपुर घटना में साथियों का बलिदान व्यर्थ नहीं जाएगा। बदमाशों के खिलाफ विधिक कार्रवाई की जाएगी। ऐसी कार्रवाई होगी कि जिससे बदमाश पछताएंगे।

कानपुर शूटआउट के मुख्य आरोपी विकास दुबे पर इनाम की राशि बढ़ाकर 5 लाख रुपये कर दी गई है। उक्त बातें एडीजी लॉ एंड ऑर्डर प्रशांत कुमार ने बुधवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान कही।

एडीजी ने बताया कि कानपुर घटना में नामित और वांछित अमर दुबे को बुधवार कई सुबह मार गिराया गया है। इस बदमाश के पास से एक सेमी ऑटोमेटिक पिस्टल मिली है। बीती रात 50 हजार रुपये के इनामी बदमाश श्यामू वाजपेयी और दो साथियों को गिरफ्तार किया गया है।

विकास पर बड़ी कार्रवाई: 68 पुलिसकर्मी पर गिरी गाज, अब नए संभालेंगे कमान

बड़ा खुलासा: पुलिसवालों की हत्या के बाद ऐसे भाग निकला था विकास दुबे

विकास दुबे के रिश्तेदार हिरासत में

उन्होंने बताया कि विकास दुबे के रिश्तेदार प्रभात समेत तीन लोगों को पुलिस ने हिरासत में लिया है। इनके पास से चार असलहे बरामद हुए हैं, जिनमें दो सरकारी असलहे है।

दोनों सरकारी असलहों को 2 जुलाई की रात पुलिस से छीना गया था। पुलिस को एक सीसीटीवी फुटेज भी मिला है, जिसमें नीली शर्ट में एक शख्स दिखाई दे रहा है। पुलिस को अंदेशा है कि ये नीली शर्ट वाला युवक विकास ही है।

बता दें कि 2 जुलाई की रात को बिकारू गांव में आठ पुलिसकर्मियों की हत्या के बाद से ही गैंगस्टर विकास दुबे फरार है। उसकी तलाश में छापेमारी जारी है। पांच दिन भी विकास दुबे का पता नहीं, लेकिन उसके करीबियों के खिलाफ पुलिसिया कार्रवाई जारी है।

गौरतलब है कि फरीदाबाद एक होटल में विकास दुबे के छिपे होने की सूचना मिली थी, जिसके बाद पुलिस ने रेड की। यहां विकास दुबे नहीं मिला, लेकिन उसका गुर्गा प्रभात पकड़ा गया है।

विकास का दाहिना हाथ था अमर दुबे, सीओ की हत्या भी शामिल था कुख्यात बदमाश

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App