योगी कैबिनेट मीटिंग में इस प्रस्तावों पर लग सकती है मुहर

आज बुधवार को उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार की कैबिनेट की बैठक बुलाई गई है। कैबिनेट बैठक लोक भवन में शुरू हो चुकी है। माना जा रहा है कि इस बैठक में योगी सरकार कई महत्वपूर्ण फैसले ले सकती है।

Published by Shreya Published: February 5, 2020 | 10:53 am
योगी कैबिनेट मीटिंग में इस प्रस्तावों पर लग सकती है मुहर

योगी कैबिनेट मीटिंग में इस प्रस्तावों पर लग सकती है मुहर

लखनऊ: आज बुधवार को उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार की कैबिनेट की बैठक बुलाई गई है। कैबिनेट बैठक लोक भवन में शुरू हो चुकी है। माना जा रहा है कि इस बैठक में योगी सरकार कई महत्वपूर्ण फैसले ले सकती है। इस बैठक में कैबिनेट कई महत्वपूर्ण प्रस्तावों पर मुहर लगा सकती है।

साइबर क्राइम पुलिस थाने बनाने संबंधी मामले पर मुहर

इस बैठक में कैबिनेट 16 परिक्षेत्रीय मुख्यालय पर साइबर क्राइम पुलिस थाने बनाने संबंधी मामले पर मुहर लगा सकती है। इसके अलावा रजिस्ट्रीकरण फीस सारणी में संसोधन किये जाने पर प्रस्ताव को भी मंजूरी मिल सकती है।

यह भी पढ़ें: शाहीन बाग फायरिंग खुलासा: पुलिस ने कपिल से जुड़े सबूत किया पब्लिक, जानिए क्या

इन जिलों में साइबर थाने बनवाने के प्रस्ताव हो सकता है पास

इसी क्रम में बैठक में यूपी के 15 जिलों बरेली, मुरादाबाद, सहारनपुर, आगरा, अलीगढ़, कानपुर, झांसी, प्रयागराज, चित्रकूट, गोरखपुर, देवीपाटन, बस्ती, बनारस, मिर्जापुर, व अयोध्या में साइबर थाने बनाये जाने के प्रस्ताव को भी हरी झंडी दिखाई जा सकती है।

योगी आदित्यनाथ सरकार की कैबिनेट की बैठक में आवास व शहरी विकास मंत्रालय द्वारा एक मुश्त समाधान योजना को भी हरी झंडी मिलने की उम्मीद जताई जा रही है। इसी तरह आगरा में नए थाने के लिए सिंचाई विभाग की जमीन ग्रह विभाग को निशुल्क दिए जाने के प्रस्ताव पर मुहर लग सकती है।

यह भी पढ़ें: यहां महिलाएं करती हैं पुरुषों पर अत्याचार, सच्चाई जान कांप जाएगी रूह

इन प्रस्तावों पर भी लग सकती है मुहर

यूपी उप खनिज परिहार नियमावली 2 हजार में संसोधन करके निजी क्षेत्रों के विश्व विद्यालयों की स्थापना के लिए आशय पत्र निर्गत किये जाने पर लग सकती है मुहर।

एक्स जवानों के लिए समेकित सुविधाओ के लिए बिजनौर में निशुल्क जमीन दिए जाने का प्रस्ताव भी हो सकता है पास।

श्रम विभाग चंदौली की जमीन 11 बटालियन के मुख्यालय को दिए जाने के प्रस्ताव पर लग सकती है मुहर।

वही चीनी मिलों द्वारा सहकारी बैंक व जिला सहकारी बैंकों से दी जाने वाली नगर साख सीमा पर गारंटी शुल्क माफ किये जाने पर प्रस्ताव को मिल सकती है हरी झंडी।

यह भी पढ़ें: दनादन दागे गए रॉकेट: धुएं में तब्दील हुआ शहर, मची अफरा-तफरी