Top

14 दिन का वनवास पूरा करने वालों के लिए खुशखबरी, सरकार देगी ये इनाम

कोरोना वायरस से बचने के लिए जिन लोगों को 14 दिन के लिए क्वारंटीन किया गया था, उनको घर छोडने की जिम्मेदारी जिला प्रशासन की होगी। साथ ही 15 दिन का राशन अच्छी तरह से पैकिंग कर दिया जाएगा। इसका बजट पहले ही जिलों को भेज दिया गया था।

Shivani Awasthi

Shivani AwasthiBy Shivani Awasthi

Published on 14 April 2020 3:13 AM GMT

14 दिन का वनवास पूरा करने वालों के लिए खुशखबरी, सरकार देगी ये इनाम
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

कन्नौज। कोरोना वायरस से बचने के लिए जिन लोगों को 14 दिन के लिए क्वारंटीन किया गया था, उनको घर छोडने की जिम्मेदारी जिला प्रशासन की होगी। साथ ही 15 दिन का राशन अच्छी तरह से पैकिंग कर दिया जाएगा। इसका बजट पहले ही जिलों को भेज दिया गया था।

क्वारंटीन से रिहा लोगों की सबसे पहले मेडिकल जांच

राजस्व व बेसिक शिक्षा विभाग की अपर मुख्य सचिव रेणुका कुमार ने जारी किए आदेश में हवाला दिया है कि अस्थाई आश्रय स्थल में क्वारंटीन किए गए जिन लोगों को 14 दिन बाद छोड़ा जा रहा है, सबसे पहले डीएम ऐसे लोगों के स्वास्थ्य की जांच करा लें। चिकित्सा विभाग की ओर से निर्धारित मानक के तहत मेडिकल स्क्रीनिंग की जाएगी, ताकि पता चल सके कि क्वारंटीन किए गए व्यक्ति में कोरोना वायरस का कोई लक्षण तो नहीं है।

ये भी पढ़ेंः कोरोनावायरस के बीच घिरा ये मंत्री: स्टाफ के 14 लोग संक्रमित, रिपोर्ट आते ही उड़े होश

डीएम करेंगे घर भेजने के इंतजाम

अपर मुख्य सचिव ने कहा है कि अगर क्वारंटीन किया गया व्यक्ति उसी जिले का निवासी है तो तो डीएम वाहन की व्यवस्था कराकर उसके घर तक भिजवाएंगे। साथ ही क्वारंटीन सेंटर का प्रभारी सभी व्यक्तियों के नाम, पता व मोबाइल नंबर आदि लिखेगे। यह सूची सीएमओ व सर्विलांस टीम को दी जाएगी, जिससे उन व्यक्तियों की कडी निगरानी हो सके। इन लोगों को 14 दिन होम क्वारंटीन होना पडेगा।

घर पर भी 14 दिन क्वारंटीन की निगरानी

अगर व्यक्ति दूसरे जिले का निवासी है, तो सम्बंधित डीएम से संपर्क साध कर सुरक्षित घर भेजा जाएगा। अस्थाई आश्रम के इंचार्ज छोडे गए व्यक्तियों का पूरा नाम व पता लिखेंगे। उसकी सूची सम्बंधित जिले के डीएम, सीएमओ, सर्विलांस टीम को दी जाएगी। जिससे दूसरे जिले में भी अधिकारी व कर्मचारी उसे घर पर 14 दिन क्वारंटीन कर सकें और सही तरीके से निगरानी हो।

ये भी पढ़ेंः देश को संबोधित करेंगे PM मोदी, लाॅकडाउन पार्ट 2 समेत कर सकते हैं ये बड़े एलान

फ़ाइल फोटो

राशन में यह सामान मिलेगा

जिन व्यक्तियों को 14 दिन का क्वारंटीन समय पूरा होने के बाद छोडा जाएगा, उनको 15 दिन का राशन भी दिया जाएगा। इसमें 10-10 किलो आटा व चावल, पांच किलो आलू, दो-दो किलो भुना चना व अरहर की दाल, 500 ग्राम नमक, 250-250 हल्दी, मिर्च, धनिया व एक लीटर सरसों का तेल या रिफाइंड दिया जाएगा। यह सब सामग्री का पूरा एक पैकेट होगा।

दूसरे प्रदेशों के बाशिंदों के लिए बाद में आएगा आदेश

क्वारंटीन किए गए लोग अगर दूसरे प्रदेश के निवासी हैं, तो उसके लिए अलग से निर्देश आएंगे। हालांकि जिनकी अवधि 14 दिन पूरी हो गई है, फिलहाल उनको तत्काल घर भेजने को कहा गया है।

ये भी पढ़ेंः कोरोना संक्रमित शख्स ने बांटा मास्क-सेनेटाइजर, MLA भी संपर्क में आए, मचा हड़कंप

लेकिन इनका रखना होगा खास ध्यान

शासनादेश में कहा गया है कि जिन लोगों का स्वास्थ्य विभाग की देखरेख में मेडिकल क्वारंटीन चल रहा है, उनको विभाग अपने मानक के तहत ही छोडेंगे। यह आदेश सिर्फ अस्थाई आश्रम स्थल के लिए है।

रिपोर्टर अजय मिश्रा

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Shivani Awasthi

Shivani Awasthi

Next Story