×

डिलीवरी कर्मियों की मौत: हर तरफ मचा हाहाकार, लगातार घंटो कर रहे थे काम

ज्यादा काम की वजह से लगभग 14 डिलीवरी कर्मियों की मौत हो गयी। इन डिलीवरी कर्मियों की मौत को लॉकडाउन और कोरोनाकाल में काम के बढ़ते दबाव और थकावट से जोड़ कर देखा जा रहा है।

Newstrack

NewstrackBy Newstrack

Published on 5 Nov 2020 6:23 AM GMT

डिलीवरी कर्मियों की मौत: हर तरफ मचा हाहाकार, लगातार घंटो कर रहे थे काम
X
अधिक काम के प्रेशर से 14 डिलीवरी कर्मियों की मौत, लगातार घंटो तक रहे थे काम
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

नई दिल्ली: कोरोना वायरस ने पूरी दुनिया में तांडव मचा रखा है, जिसकी वजह से विश्व के कई देशों में लॉकडाउन भी लगाना पड़ा। सभी लोग अच्छे से जानते होंगे कि लॉकडाउन के दौरान लोगों का जनजीवन बुरी तरफ प्रभावित हुआ था। इस दौरान लोग घर से बाहर कम निकले और ज्यादातर चीजों के लिए ऑनलाइन डिलीवरी पर आश्रित हो गए।

ये भी पढ़ें: पुण्यतिथि विशेष: जानें ‘दादा साहब फाल्के’ से सम्मानित भूपेन हजारिका के बारे में

14 डिलीवरी कर्मियों की मौत

एक तरफ जहां लोगों को इस कडिलीवरी के क्षेत्र में रोजगार मिला वहीं दूसरी तरफ इसके दुष्प्रभाव ने कई लोगों की जान भी ले ली। एक रिपोर्ट की मानें तो, दक्षिण कोरिया में ज्यादा काम की वजह से लगभग 14 डिलीवरी कर्मियों की मौत हो गयी। डिलीवरी कर्मियों की इन मौत को लॉकडाउन और कोरोनाकाल में काम के बढ़ते दबाव और थकावट से जोड़ कर देखा जा रहा है।

ये भी पढ़ें: विस्तारा और स्पाइसजेट का तोहफाः दिल्‍ली से ढाका सीधी उडान, जानें पूरा शेड्यूल

लगातार बढ़ रहा था काम का दबाव

बता दें कि इस रिपोर्ट में ये भी कहा गया है कि ये डिलीवरी ब्वॉय महामारी की शुरुआत से ही ऑनलाइन ऑर्डर की बढ़ती मात्रा का सामना कर रहे थे जिसकी वजह से इन्हें लगातार काम भी करना पड़ रहा था। ये डिलीवरी कर्मचारी खाने से लेकर जरूरी सामान जैसे कपड़े, कॉस्मेटिक, जैसी चीजों से लेकर अन्य सभी चीजों की डिलीवरी कर रहे थे।

ये भी पढ़ें: अमित शाह बंगाल दौरे परः ममता के खिलाफ खोलेंगे मोर्चा, देंगे जीत मंत्रा

परिवार ने बताई ये वजह

मृतकों के परिवारों ने मौत के कारणों को 'हर्ट अटैक' बताया है। रिपोर्ट के मुताबिक अधिक काम की वजह से उन्हें हर्ट स्ट्रोक आया जिससे उनकी मौत हो गई।

ये भी पढ़ें: ब्याज पर ब्याजः आज मिल सकती है राहत, सुप्रीम कोर्ट करेगा फैसला

Newstrack

Newstrack

Next Story