×

सालों पहले इस कम्यूनिटी ने किया था ऐसा काम, अब मिल रहा इनको इसका इनाम

दुनिया के हर देश कोरोना की चपेट में बुरी तरह आ गए हैं। इटली अमेरिका की हालत तो बहुत ही खराब है। अमेरिका में तो मौत का आंकड़ा लाखों पार हो चुका हैं। यहां बुरी तरह कोरोना वायरस की चपेट में है।  यहां 71 हजार से अधिक लोगों की कोरोना से मौत हो गई है, जबकि 12 लाख से अधिक लोग संक्रमित हैं।

suman
Updated on: 6 May 2020 6:16 AM GMT
सालों पहले इस कम्यूनिटी ने किया था ऐसा काम, अब मिल रहा इनको इसका इनाम
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

नई दिल्ली : दुनिया के हर देश कोरोना की चपेट में बुरी तरह आ गए हैं। इटली अमेरिका की हालत तो बहुत ही खराब है। अमेरिका में तो मौत का आंकड़ा लाखों पार हो चुका हैं। यहां बुरी तरह कोरोना वायरस की चपेट में है। यहां 71 हजार से अधिक लोगों की कोरोना से मौत हो गई है, जबकि 12 लाख से अधिक लोग संक्रमित हैं।

यह पढ़ें...सीएम योगी ने लांच किया आयुष कवच-कोविड एप, जानें इसकी खूबियां

कुछ अमेरिकी लोगों को कोरोना के समय इसलिए मदद की जा रही है कि ये 173 साल पहले इन्होंने जो काम किया उसकी वजह से उन्हें पैसे मिल रहे हैं। हम बात कर रहे हैं नवाजो नेशन में ( Navajo Nation ) मदद पहुंचाने वाले वॉलंटियर्स बात 1847 की है। नेटिव अमेरिकी (Choctaw Nation) ने ग्रेट पोटैटो महामारी के दौरान आयरलैंड के लोगों को 170 डॉलर की मदद भेजी थी। ये रकम आज के हिसाब से देखें तो करीब 5000 डॉलर (3.7 लाख रुपये) हो 173 साल पहले मदद पाने वाले आयरलैंड के लोग अब नेटिव अमेरिकी कम्यूनिटी को कोरोना वायरस के दौरान मदद कर रहे हैं। यह कम्यूनिटी कोरोना से काफी अधिक प्रभावित है।

अमेरिका के नवाजो नेशन (Navajo Nation) क्षेत्र में 3 मई तक कम से कम 73 लोगों की कोरोना से मौत हो गई थी, जबकि 2373 लोग वायरस से संक्रमित हो चुके थे। एक रिपोर्ट के मुताबिक, नवाजो नेशन के 40 फीसदी लोगों के घरों में पानी की सप्लाई नहीं है और 10 फीसदी के लोगों के घरों में बिजली भी नहीं है। उनकी मदद के लिए क्राउडफंडिंग वेबसाइट पर एक कैंपेन शुरू है। जहां मदद के लिए अब तक 23 लाख डॉलर से अधिक की रकम मिल चुकी है। इसमें बड़ा हिस्सा आयरलैंड से मदद करने वाले सैकड़ों लोगों का है कहते हैं कि आयरलैंड के लोग नेटिव अमेरिकी की ओर से 1847 में दी गई मदद को कभी नहीं भूले।

यह पढ़ें...लखनऊ के निजी कार्यालयों में भी काम शुरू, जानिए क्या है वर्क टाइमिंग

2017 में इसकी याद में आयरलैंड के काउंटी कॉर्क में (Kindred Spirits) नाम से 9 स्कल्पचर लगाए गए थे। साल 2018 में आयरलैंड के पीएम लिओ वराडकर ने नवाजो नेशन के लोगों के लिए स्कॉलरशिप का एलान करते हुए कहा था कि दोनों कम्यूनिटी के लोगों का संबंध पवित्र है। उन्होंने कहा था कि आप लोगों की दयालुता को हम कभी भूले नहीं हैं और न भूलेंगे।

suman

suman

Next Story